दुर्ग में कोविड वैक्सीनेशन अभियान आज से:800 वैक्सीनेटर की बनाई गई टीम, कुछ सेंटर में, बाकी घर-घर जाकर लोगों को लगाएंगे टीके

दुर्गएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
महाअभियान का प्रचार प्रसार करते स्वास्थ्यकर्मी। - Dainik Bhaskar
महाअभियान का प्रचार प्रसार करते स्वास्थ्यकर्मी।

कोविड वैक्सीनेशन को लेकर दुर्ग जिले की सबसे बड़ी मुहिम आज से शुरू होगी। इसके लिए 800 वैक्सीनेटर की टीम बनाई गई है। इसमें से कुछ वैक्सीनेटर सेंटर में और शेष फील्ड में डोर टू डोर लोगों के पास पहुंचेंगे। इस दौरान यह लोगों का सर्वे करेंगे और टीकाकरण के लिए छूटे हुए लोगों को कोविड वैक्सीन लगाएंगे।

जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग ने इसके लिए पूरी रणनीति बना ली है। सभी टीमों को इसके लिए प्रशिक्षण दे दिया गया है। अपर कलेक्टर नूपुर राशि पन्ना ने बताया कि कोविड वैक्सीनेशन को लेकर 15 दिसंबर से चलाए जा रहे महाअभियान के तहत वैक्सीनेशन सेंटर में प्रशिक्षित स्टाफ की ड्यूटी लगाई ही गई है। सुबह और शाम दोनों समय मोबाइल टीम लोगों के घर-घर पहुंचेगी और टीकाकरण के लिए छूट गये लोगों को टीका लगाएगी।

यह समय इसलिए मोबाइल टीम के लिए चुना गया है, क्योंकि अधिकतर कामकाजी लोगों के मिलने की संभावना रहती है। जो लोग सुबह किसी कारण टीका नहीं लगवा पाएंगे उन्हें शाम की पाली में टीम पहुंचकर टीका लगाएगी। अगर कोई सेंटर जाकर टीका लगवाना चाहता है तो उसके लिए सेंटर में भी टीका लगाने की व्यवस्था की गई है। ग्रामीण और नगरीय निकायों में टीके लगाने के लिए सेंटर बनाये गये हैं।

कलेक्टर दुर्ग डॉ. एसएन भुरे ने बताया कि इस महत्वपूर्ण अभियान को सफल बनाने के लिए व्यापक स्तर पर प्रचार-प्रसार भी किया गया है। मितानिनों और आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की टीम घर-घर घूमकर लोगों से अपील कर रही हैं कि इस महाभियान में हिस्सा लेकर टीका जरूर लगवाएं। कलेक्टर डॉ. भुरे ने भी लोगों से अपील की है कि जिन लोगों ने अब तक टीका नहीं लगवाया है, वे टीका जरूर लगवा लें।

डोर टू डोर कैंपेन के माध्यम से निःशक्त एवं बुजुर्ग लोगों को जिन्हें सेंटर तक जाने में तकलीफ हो रही थी, उन्हें घर पर ही टीकाकरण की सुविधा मिल पायेगी। इसके लिए लोगों से अपील की जा रही है कि कोविड से सुरक्षा का दायरा बढ़ाने के लिए सबको टीका लगना बहुत जरूरी है। इसलिए अपने घर के लोग जो टीका अब तक नहीं लगवा पाए हैं, उन्हें टीका लगवाने के लिए प्रेरित करें।

पूरी तैयार के साथ शुरू किया गया महाअभियान

सीएमएचओ डॉ. गंभीर सिंह ठाकुर ने बताया कि टीकाकरण महा अभियान को सफल बनाने के लिए पूरी तैयारी कर ली गई है। वैक्सीन की उपलब्धता सुनिश्चित करने के साथ ही टीमों की नियुक्ति तक की कार्ययोजना बनाई गई है। इस अभियान के तहत एक दिन में अधिक से अधिक लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया है।

खबरें और भी हैं...