पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सरकारी रिवाज:गरीब बेटियों की शादी बिना मुहूर्त कराएगी सरकार विवाह के लिए 210 जोड़ों का हो चुका रजिस्ट्रेशन

दुर्ग3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • उपहार पाने के लिए जोड़ों के परिजन दे देते हैं अपनी सहमति

शासन बिना शुभ मुहूर्त के गरीब बेटियों की शादी करने जा रही है। विभाग 15 फरवरी से 15 मार्च के बीच निर्धन कन्या विवाह करने जा रहा है लेकिन पंडितों के मुताबिक छत्तीसगढ़ में इस अवधि में शादी-ब्याह का कोई मुहूर्त नहीं है। छत्तीसगढ़ में बिना मुहूर्त के सात फेरे लेने की कोई परंपरा नहीं है, लेकिन महिला बाल विकास विभाग जिले में 210 निर्धन कन्या का विवाह कराने जा रहा है। दुर्ग ग्रामीण परियोजना के गरीब परिवारों ने सबसे ज्यादा रजिस्ट्रेशन करवाया है। यहां 74 जोड़े परिणय सूत्र में बंधने जा रहे हैं।

अधिकारियों का तर्क, मुहूर्त में होती शादी तो टारगेट होता पूरा
विभाग द्वारा आयोजित होने वाली इस निर्धन कन्या सामूहिक विवाह में कोरोना का भी असर दिखाई दे रहा है। पिछले साल 240 जोड़ों की शादी करवाई गई थी। इस साल 210 जोड़े मिले हैं। विभाग को इस साल 250 से ज्यादा जोड़ों का विवाह करवाने का टारगेट दिया गया था जिसे पूरा नहीं किया जा सका। रजिस्ट्रेशन की तिथि भी खत्म हो गई है।

जिले में पहली बार ब्लॉक स्तर पर होगा विवाह कार्यक्रम
परिजनों के लिए इस बार राहत भरी बात यह है कि जहां वे रहते हैं उनके आसपास के सामुदायिक भवन हो या फिर ग्राम पंचायत, इन स्थानों पर शादी होगी। कोरोना काल को देखते हुए एक साथ चार जोड़ों का विवाह संपन्न कराया जाएगा। बारात निकालने, दोनों पक्षों को सामूहिक भोज करवाने पर रोक रहेगी। सोशल डिसटेंसी का पालन करना जरुरी।

14 हजार रुपए के गृहस्थी के सामान भेंट किए जाते हैं भेंट
विभाग बेटियों की विदाई के दौरान श्रंगार सामग्री सहित अन्य चीजें भेंट करता है। प्रत्येक नवविवाहित जोड़ों को 14 हजार रुपए तक गृहस्थी के समान भेंट स्वरूप देते हैं। इसमें वैवाहिक वस्त्र, मंगलसूत्र, बिछिया, कुकर, आलमारी, बर्तन, गद्दा, रैक आदि शामिल रहेंगे। पंडित, काजी या पास्टर अपने-अपने धर्म के अनुसार व्याह संपन्न करवाएंगे।

सुिवधा का ध्यान रखेंगे
"उच्च स्तर से निर्धन कन्या विवाह के लिए 15 फरवरी से 15 मार्च के बीच आयोजन करवाने के निर्देश मिले हैं। मुहूर्त को लेकर यदि कोई दिक्कत है और पालक इसमें तैयार नहीं होंगे तो उनकी सुविधा का भी पूरा ख्याल रखेंगे। उनके घर के करीब ही 4 जोड़ों को लेकर शादी-ब्याह करवाएंगे।"
-विपिन जैन, जिला अधिकारी महिला बाल विकास विभाग
अभी विवाह का मुहूर्त नहीं

"फरवरी और मार्च में शादी का मुहूर्त ही नहीं है। छत्तीसगढ़ के सूर्योदय के हिसाब से पंचांग में लग्न-मुहूर्त तय किया हुआ है। उस हिसाब से अप्रैल में यहां शादी शुरू होगी।"
-पं.संतोष अवस्थी, ज्योतिषाचार्य व भागवतकथा वाचक

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आपकी मेहनत और परिश्रम से कोई महत्वपूर्ण कार्य संपन्न होने वाला है। कोई शुभ समाचार मिलने से घर-परिवार में खुशी का माहौल रहेगा। धार्मिक कार्यों के प्रति भी रुझान बढ़ेगा। नेगेटिव- परंतु सफलता पा...

    और पढ़ें