दशहरा के लिए प्रशासन की गाइडलाइन जारी:रावण दहन कल, पुतले की ऊंचाई को लेकर इस बार कोई प्रतिबंध नहीं

दुर्ग2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

विजयादशमी यानी दशहरा का पर्व कल मनाया जाएगा। इस बार रावण दहन में पुतलों की ऊंचाई को लेकर कोई प्रतिबंध नहीं है। वहीं रावण दहन वाले स्थानों पर आयोजन समिति के पदाधिकारियों समेत स्थल की क्षमता के 50 प्रतिशत लोगों को ही उपस्थित होने की अनुमति दी गई है। पुतला दहन खुले स्थान पर ही करना होगा।

कोरोना संक्रमण के चलते दो दिन दिन पहले यानी बुधवार को जिला प्रशासन ने इसके लिए गाइड लाइन जारी कर दी है। नियमों का पालन नहीं करने पर समितियों की जिम्मेदारी तय की जाएगी। गाइड लाइन के मुताबिक कार्यक्रम स्थल पर आने वालों की संपूर्ण जानकारी रजिस्टर में इंट्री करना होगा। आयोजन स्थल पर सांस्कृतिक कार्यक्रम, भंडारा और पंडाल लगाने की अनुमति नहीं होगी। सौ मीटर के दायरे में बेरिकेटिंग कराना होगा। कार्यक्रम स्थल पर डीजे, साउंड सिस्टम और बैंड पार्टी को अनुमति नहीं दी गई है।

पुतला दहन में किसी भी प्रकार के अतिरिक्त साज-सज्जा, झांकी की अनुमति नहीं होगी। कार्यक्रम के आयोजन के दौरान अग्नि शमन की पर्याप्त व्यवस्था की जाए। यातायात और पार्किंग व्यवस्था समिति को करना होगा। कंटेनमेंट जोन पर पुतला दहन की अनुमति नहीं दी गई है। आयोजन के दौरान किसी प्रकार के अस्त्र-शस्त्र का प्रदर्शन नहीं होगा। आयोजन के पूर्व अपने क्षेत्र के अनुविभागीय अधिकारी, स्थानीय थाना प्रभारी और संबंधित जोन कार्यालय को सूचित करना अनिवार्य होगा।

खबरें और भी हैं...