2022 में ट्विनसिटी को मिलेंगी अहम सौगातें:भिलाई को रायपुर से जोड़ने वाले 3 ओवरब्रिज इस साल तैयार हो जाएंगे, IIT में भी लगने लगेंगी क्लासेस

दुर्ग5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

साल 2022 शुरू हो गया है। नए साल सभी लोगों के जीवन में खुशियां लेकर आए। ट्विनसिटी के लोगों को भी सुविधा देने के लिए नए साल में कई बड़ी सौगातें मिलेंगी। शासन द्वारा चल रहे कुछ बड़े ऐसे प्रोजेक्ट इस साल पूरे होंगे, जिसे पाकर लोगों को काफी सुविधा मिलेगी। जाने क्यों खास हैं ये सुविधाएं।

1- फोरलेन​​​​​​​

पुलगांव स्थित मिनी माता चौक से अंजोरा तक फोरलेन सड़क का निर्माण कार्य तेजी से रहा है। 51.33 करोड़ की लागत से 6.5 किलोमीटर तक बन रही इस सड़क के साल 2022 में पूरा होने उम्मीद है। इस सड़क की सुविधा मिलने से लोगों को काफी राहत मिलेगी।
पुलगांव स्थित मिनी माता चौक से अंजोरा तक फोरलेन सड़क का निर्माण कार्य तेजी से रहा है। 51.33 करोड़ की लागत से 6.5 किलोमीटर तक बन रही इस सड़क के साल 2022 में पूरा होने उम्मीद है। इस सड़क की सुविधा मिलने से लोगों को काफी राहत मिलेगी।

2- सर्वसुविधायुक्त ट्रांजिट हॉस्टल

रविशंकर स्टेडियम के सामने सर्वसुविधायुक्त 52 यूनिट का ट्रांजिट हॉस्टल का निर्माण किया गया है। 10 करोड़ की लागत से बन रहे इस तीन मंजिल भवन के बनने से छात्र-छात्राओं को पढ़ाई के लिए एक सर्वसुविधायुक्त भवन मिलेगा।
रविशंकर स्टेडियम के सामने सर्वसुविधायुक्त 52 यूनिट का ट्रांजिट हॉस्टल का निर्माण किया गया है। 10 करोड़ की लागत से बन रहे इस तीन मंजिल भवन के बनने से छात्र-छात्राओं को पढ़ाई के लिए एक सर्वसुविधायुक्त भवन मिलेगा।

3- सिक्स लेन

नेहरू नगर चौक भिलाई से मिनी माता चौक पुलगांव तक सिक्स व फोर लेन सड़क का निर्माण किया जा रहा है। यहां वाइशेष ब्रिज से गंजपारा तक सिक्स लेन तथा शेष जगहों पर फोरलेन सड़क का निर्माण साल 2022 में पूरा हो जाएगा।
नेहरू नगर चौक भिलाई से मिनी माता चौक पुलगांव तक सिक्स व फोर लेन सड़क का निर्माण किया जा रहा है। यहां वाइशेष ब्रिज से गंजपारा तक सिक्स लेन तथा शेष जगहों पर फोरलेन सड़क का निर्माण साल 2022 में पूरा हो जाएगा।

4- हेमचंद यादव विश्वविद्यालय का प्रशासनिक भवन

दुर्ग स्थित हेमचंद यादव विश्वविद्यालय का नया प्रशासनिक का निर्माण तेजी से किया जा रहा है। नया प्रशासनिक भवन नए साल 2022 में तैयार हो जाएगा। दीपावली के आसपास यहां कामकाज शुरू होने की उम्मीद जताई गई है।
दुर्ग स्थित हेमचंद यादव विश्वविद्यालय का नया प्रशासनिक का निर्माण तेजी से किया जा रहा है। नया प्रशासनिक भवन नए साल 2022 में तैयार हो जाएगा। दीपावली के आसपास यहां कामकाज शुरू होने की उम्मीद जताई गई है।

5- 522 पीएम आवास

नगर निगम दुर्ग द्वारा सरस्वती नगर में 522 प्रधानमंत्री आवास तैयार किए जा रहे हैं। 30 करोड़ रुपए की लागत से बन रहे यह प्रधानमंत्री आवास लगभग बन चुके हैं। जल्द इनके आवंटन की प्रक्रिया शुरू की जाएगी।
नगर निगम दुर्ग द्वारा सरस्वती नगर में 522 प्रधानमंत्री आवास तैयार किए जा रहे हैं। 30 करोड़ रुपए की लागत से बन रहे यह प्रधानमंत्री आवास लगभग बन चुके हैं। जल्द इनके आवंटन की प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

6- भिलाई से रायपुर के बीच ओवरब्रिज

भिलाई से रायपुर के बीच चार ओवरब्रिज का निर्माण प्रगति पर है। सबसे पहले कुम्हारी ओवरब्रिज से आवाजाही शुरू की गई थी, फिर इसे बंद कर दिया गया है। 2022 के अंत तक अन्य तीनों ओवरब्रिज बन कर तैयार हो जाएंगे। साल 2022 की जनता के लिए यह सबसे बड़ी सौगात साबित होगी।
भिलाई से रायपुर के बीच चार ओवरब्रिज का निर्माण प्रगति पर है। सबसे पहले कुम्हारी ओवरब्रिज से आवाजाही शुरू की गई थी, फिर इसे बंद कर दिया गया है। 2022 के अंत तक अन्य तीनों ओवरब्रिज बन कर तैयार हो जाएंगे। साल 2022 की जनता के लिए यह सबसे बड़ी सौगात साबित होगी।

7- आईआईटी भिलाई

आईआईटी मिलाई के कैंपस के पहले चरण का निर्माण कार्य अक्टूबर 2022 तक पूरा हो जाएगा। इस तरह से नए साल में आईआईटी भिलाई की बिल्डिंग की सौगात मिलेगी। दावा किया जा रहा है कि साल के अंत में नए कैंपस में कुछ क्लासेस शुरू कर दिए जाएंगे।
आईआईटी मिलाई के कैंपस के पहले चरण का निर्माण कार्य अक्टूबर 2022 तक पूरा हो जाएगा। इस तरह से नए साल में आईआईटी भिलाई की बिल्डिंग की सौगात मिलेगी। दावा किया जा रहा है कि साल के अंत में नए कैंपस में कुछ क्लासेस शुरू कर दिए जाएंगे।

8- 100 सीटर कामकाजी महिला छात्रावास

100 सीटर कामकाजी महिला छात्रावास का निर्माण भी काफी हद तक पूरा हो चुका है। फिल्टर प्लांट के समीप इसका निर्माण किया जा रहा है। यह 4 करोड़ 30 लाख रुपए की राशि से तैयार किया जा रहा है।
100 सीटर कामकाजी महिला छात्रावास का निर्माण भी काफी हद तक पूरा हो चुका है। फिल्टर प्लांट के समीप इसका निर्माण किया जा रहा है। यह 4 करोड़ 30 लाख रुपए की राशि से तैयार किया जा रहा है।

9- नया ऑडिटोरियम भवन

साइंस कॉलेज दुर्ग परिसर में 500 सीटर भव्य ऑडिटोरियम का निर्माण किया गया है। 14 करोड़ की लागत से इस भवन का निर्माण कार्य किया जा रहा है। भवन का कुछ कार्य शेष है। इसे देखते हुए 7 करोड़ रुपए की अतिरिक्त राशि की मंजूरी के लिए शासन को प्रस्ताव भेजा गया है। मंजूरी मिलते ही इसका इलेक्ट्रिक वर्क शुरू किया जाएगा। ऑडिटोरियम के बन जाने के बाद यहां अध्यनरत छात्र-छात्राओं को बड़ी सुविधा मिलेगी।
साइंस कॉलेज दुर्ग परिसर में 500 सीटर भव्य ऑडिटोरियम का निर्माण किया गया है। 14 करोड़ की लागत से इस भवन का निर्माण कार्य किया जा रहा है। भवन का कुछ कार्य शेष है। इसे देखते हुए 7 करोड़ रुपए की अतिरिक्त राशि की मंजूरी के लिए शासन को प्रस्ताव भेजा गया है। मंजूरी मिलते ही इसका इलेक्ट्रिक वर्क शुरू किया जाएगा। ऑडिटोरियम के बन जाने के बाद यहां अध्यनरत छात्र-छात्राओं को बड़ी सुविधा मिलेगी।

10 सीएसवीटीयू की यूटीडी बिल्डिंग

छत्तीसगढ़ स्वामी विवेकानंद तकनीकी विधि कैंपस में निर्माणधीन चार यूटीडी और एक सेन्ट्रल लाईब्रेरी की बिल्डिंग अक्टूबर 2022 तक नेवई में बनकर तैयार होगी। इससे कंप्टीशन की तैयारी के साथ ही अध्ययनरत छात्र छात्राओं को बड़ी सुविधा मिल जाएगी।
छत्तीसगढ़ स्वामी विवेकानंद तकनीकी विधि कैंपस में निर्माणधीन चार यूटीडी और एक सेन्ट्रल लाईब्रेरी की बिल्डिंग अक्टूबर 2022 तक नेवई में बनकर तैयार होगी। इससे कंप्टीशन की तैयारी के साथ ही अध्ययनरत छात्र छात्राओं को बड़ी सुविधा मिल जाएगी।
खबरें और भी हैं...