कलेक्टर ने सख्ती दिखाई:ट्विनसिटी के सीसीटीवी कैमरे सुधरेंगे कलेक्टर ने आयुक्तों से मांगी रिपोर्ट

दुर्ग20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • दुर्ग और भिलाई निगम के आयुक्तों को सर्वे कराकर देनी होगी रिपोर्ट

ट्विनसिटी के खराब सीसीटीवी कैमरे को लेकर कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेन्द्र भुरे ने सख्ती दिखाई है। कलेक्टर ने भिलाई व दुर्ग निगम आयुक्तों को यातायात पुलिस से सहयोग लेकर दुर्ग भिलाई में बंद कैमरे का सर्वे कराने निर्देशित किया है। साथ ही इन कैमरों की रिपोर्ट मांगी है। कलेक्टर ने लाखों रुपए खर्च करने के बाद सीसीटीवी मेंटेनेंस नहीं होने और कैमरे बंद होने पर खासे नाराजगी भी जताई। उन्होंने कहा सीसीटीवी कैमरे का क्राइम के आरोपियों तक पहुंचने में मददगार साबित हो सकती है। इससे आम लाेगों की सुरक्षा पर नजर रखी जा सकती है। इसलिए कितने कैमरे लगे हैं, कितने बंद हैं और मेंटेनेंस करने के लिए क्या प्रावधान रखा जा सकता है।

बारिश थमते ही हाईवे की सड़कों का होगा मेंटेनेंस
डॉ. भुरे ने टीएल बैठक में अधिकारियों से कहा कि सड़कों का मेंटेनेंस भी जल्द शुरू किया जाए। बारिश के थमते ही इसकी शुरुआत की जाए। उन्होंने जामुल-अहिवारा रोड जैसी सड़कों का प्राथमिकता के साथ मेंटेनेंस कराए जाने कहा। उन्होंने स्टेट व नेशनल हाईवे के अलावा शहर की प्रमुख सड़कों का भी पेंचवर्क कराए जाने के लिए निर्देशित किया।

एनएच के अधिकारियों से भी लिया फीडबैक
कलेक्टर ने एनएच के अधिकारियों से कहा कि एनएच को छोटी गाड़ियों के लिए 15 अक्टूबर तक आरंभ करना सबसे पहली प्राथमिकता है। इस टाइम लिमिट को ध्यान में रखकर युद्धस्तर पर कार्य करें। उन्होंने पूछा कि कार्यस्थलों में लाइट वगैरह की कोई दिक्कत तो नहीं है। अधिकारियों ने बताया कि इसे दुरुस्त कर लिया गया है।

खबरें और भी हैं...