पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

मदद:आमनेर के उद्‌गम स्थल में किया श्रमदान

खैरागढ़8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • दोहराया निर्मलता का संकल्प, 18 महीने से लगातार जारी है अभियान, इस बार रोपे गए 7250 पौधे

निर्मल त्रिवेणी महाअभियान की टीम शुक्रवार को आमनेर के उद्गम स्थल पर पहुंची और श्रमदान किया। आमनेर, पिपरिया और मुस्का की निर्मलता के संकल्प को दोहराया।
ब्लॉक मुख्यालय से 30 किमी दूर लछना के जंगलों को पार करने के बाद अभियान के स्वयं सेवक नदियों को पार करते हुए 2 किमी के पथरीले रास्ते को पार करते हुए नक्सल प्रभावित रहे बाघ द्वार पहुंचे, फिर वहां से 100 मीटर दूर आमनेर के उद्गम तक पहुंचे। जहां आम के वर्षों पुराने वृक्ष की जड़ से कुछ ही दूरी पर पानी के बुलबुले निरन्तर एक ही गति से लगातार निकलते हैं। यही से निकलती जलधारा महाराष्ट्र से आती नदियों से मिल जाती है और आम की जड़ से निकलने की वजह से आमनेर बनकर आगे बढ़ जाती है। अभियान के साथी सूरज देवांगन ने बताया कि साल के पूरे महीने इसमें से जलधारा निकलती रहती है। वो भी एक ही गति से जिसकी वजह से ही आमनेर का नाम दिया गया है। उन्होंने आमनेर से सम्बंधित अन्य कथानक भी साझा किए। आमनेर उद्गम में अभियान के मंगल सारथी, शमशुल होदा खान, राजीव चंद्राकर, गौतम सोनी, उत्तम दशरिया, शंकर निषाद, राजू यदु, उमेद पटेल, रिंकू सिंह, अंकुश सिंह परिहार, गोविंद पटेल, नरोत्तम उर्वशा, आनंद चोपड़ा सहित अन्य साथ रहे श्री राम गौ सेवा समिति के नितेश जैन व गोविंद सोनी भी साथ रहे।
उद्गम स्थल में पहुंचने के बाद अभियान की पूरी टीम ने नगर में तीनों नदियों की निर्मलता के संकल्प को दोहराया। अभियान के माध्यम से सेवा कार्यों को भी सतत जारी रखने का संकल्प लिया। एक पुराने कुएं की गंदगी को साफ सुथरा कर रंगरोगन कर इसे तैयार कर दिया है। अब सार्वजनिक स्थलों पर रंगरोगन कर निर्मलता का संदेश दिया जाएगा।
उद्गम से मजबूत हुआ संकल्प: अभियान के संयोजक भागवत शरण सिंह ने बताया कि 18 माह से नियमित श्रमदान के माध्यम से जनजागृति लाने का प्रयास जारी है। आमनेर के उद्गम स्थल से नई ऊर्जा लेकर लौटे हैं और नदियों को संरक्षित करने और उसके माध्यम से व्यवस्था सुधार का संकल्प और मजबूत हुआ है।

लक्ष्य से ज्यादा रोपे पौधे
इस वर्ष भी 5000 पौधे लगाने का लक्ष्य रखा था लेकिन इस वर्ष लक्ष्य से अधिक 7250 पौधे रोपे गए। नदी के तटों पर 500 अर्जुन के और 500 विभिन्न प्रजातियों के पौधे लगाए। 4000 से अधिक औषधीय पौधे विभिन्न परिसरों में लगाए। 2500 से अधिक छायादार व फलदार पौधे भी लगाए गए हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- पिछले कुछ समय से आप अपनी आंतरिक ऊर्जा को पहचानने के लिए जो प्रयास कर रहे हैं, उसकी वजह से आपके व्यक्तित्व व स्वभाव में सकारात्मक परिवर्तन आएंगे। दूसरों के दुख-दर्द व तकलीफ में उनकी सहायता के ...

और पढ़ें