पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मनमानी:आंधी से टूट रही केबल, कर्मचारी नहीं जोड़ रहे, ग्रामीणों को खुद ही जोड़ना पड़ रहे तार

मानपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मानपुर क्षेत्र में लगी डीपी जिसमें बार-बार हो रहे फाल्ट। - Dainik Bhaskar
मानपुर क्षेत्र में लगी डीपी जिसमें बार-बार हो रहे फाल्ट।
  • मानपुर कस्बे में दिन रात अघोषित रूप से कटौती कर रही बिजली कंपनी
  • बिजली कंपनी के अधिकारी भी नहीं उठा रहे फोन, लोग परेशान

बिजली कंपनी गांवों में 24 घंटे बिजली देने का दावा कर रही है वहीं पिछले दिनों श्योपुर आए एमडी ने भी गांवों में पर्याप्त मात्रा में बिजली देने के निर्देश दिए हैं, लेकिन गांवों में बिजली व्यवस्था के असल हालात कुछ और ही हैं। मानपुर कस्बे में पूरे 24 घंटे में ग्रामीणों को सिर्फ 12 घंटे ही बिजली मिल पा रही है।

इससे ग्रामीणों के दिन और रात उमस भरी गर्मी में निकल रहे हैं। ग्रामीणों की शिकायत है कि लाइन में फाल्ट आने के बाद कर्मचारी फाल्ट सही करने के लिए नहीं आते हैं जिस वजह से ग्रामीणों को खुद ही तार जोड़ना पड़ते हैं। ऐसे में कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है। जिस पर बिजली कंपनी ध्यान नहीं दे रही है।

ग्रामीणों के मुताबिक मानपुर में बिजली कंपनी कभी मेंटेनेंस तो कभी फाल्ट के नाम पर बिजली काट लेती है। वही हल्की सी हवा चलने पर भी लाइन में फाल्ट आ जाता है जिन इलाकों में फाल्ट होते हैं वहां उन्हें सुधरवाने के लिए जब कर्मचारियों को फोन किया जाता है तो वह घंटों तक आते ही नहीं है। अधिकारियों को फोन पर शिकायत करने के बाद भी सिर्फ आश्वासन मिलता है। दिन के समय तो कर्मचारी आ भी जाते हैं, लेकिन रात के समय में तो फाल्ट होने पर ग्रामीणों को खुद ही परमिट लेकर बिजली के तार जोड़ना पड़ते हैं।

मंगलवार की शाम 5 बजे फाल्ट आ गया। ग्रामीण लगातार कर्मचारियों को फोन लगाते रहे लेकिन किसी भी लाइनमैन ने फोन नहीं उठाया। मजबूरीवश रात 11 बजे ग्रामीणों ने खुद ही परमिट लेकर फाल्ट को सही किया। वहीं बुधवार को दिनभर में सुबह से लेकर शाम 4 बजे तक 8 घंटे तक बिजली गुल रही। इसके बाद जब शाम को फाल्ट सही किया तब जाकर सप्लाई बहाल हो सकी। इसके बाद भी हर एक से डेढ़ घंटे में बिजली का आना-जाना लगा रहा।

खेतों में भी नीचे तक झूल रहे बिजली के तार

खेतों से गुजर रहे हाइटेंशन लाइन के ढीले तार इन दिनों चारे की फसलों के बीच से गुजर रहे हैं। इससे कभी भी हादसा हो सकता है। किसान रामसिंह गुर्जर ने बताया कि खेतों से गुजर रही हाइटेंशन लाइन के तार सिर्फ चार से पांच फीट ऊंचाई पर है। जिसके नीचे से ट्रैक्टर भी नहीं निकल सकता। ऐसे में कई बार बुआई करने और फसल काटने में भी परेशानी आती है। अधिकारियों को 2018 से तारों को ठीक करने प्लास्टिक केबल लगवाने के लिए दर्जनों बार शिकायत कर दी, लेकिन तीन साल बाद भी तार खेतों में झूल रहे हैं। इससे हादसे ही संभावना बनी हुई है।

गोस्वामी व कुशवाह मोहल्ला में केबल डालने के बाद नहीं दिया कनेक्शन

मानपुर के गोस्वामी मोहल्ला और कुशवाह मोहल्ला में बिजली कंपनी ने अभी तक केबल नहीं डाली है। ऐसे में लोगों ने कनेक्शन लेने के लिए बिजली के तारों को डाल दिया है। यह तार अब लोगों की छतों पर झूलते नजर आ रहे हैं। स्थिति यह है कि दिन में कई बार हवा के चलते तारों के आपस में टकराने पर चिंगारी उड़ती हुई नजर आती है जो लोगों के मकानों के ऊपर गिरती है। स्थानीय लोगों का कहना है कि बिजली कंपनी की यह लापरवाही किसी की जान भी ले सकती है। स्थानीय ग्रामीण कई बार बिजली कंपनी को आवेदन देकर तार हटाकर केबल डालने की मांग कर चुके हैं। फिर भी बिजली कंपनी ने इन तारों को अभी तक नहीं हटवाया है।

डीपी को बदला जाएगा

मानपुर क्षेत्र की डीपी खराब हो गई है। इसलिए बार-बार फाल्ट की समस्या आ रही है। इसे बदलवाने के लिए हमने प्रस्ताव भेज दिया है। एक दो दिन में इसका काम कर दिया जाएगा। यदि लाइनमैन फाल्ट सही करने के लिए नहीं पहुंच रहे हैं तो इस बारे में जानकारी ली जाएगी। -सुमित झा, जेई, ढोढर-मानपुर सर्किल बिजली कंपनी

खबरें और भी हैं...