पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अनदेखी:ग्रामीण रूटों पर जीप, ऑटो-टेंपो के अंदर भरे यात्री, बाहर भी लटके, हादसे की आशंका

मानपुर10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • ओवरलोड वाहनों की शिकायत के बाद भी जिम्मेदार नहीं कर रहे कार्रवाई

अंचल के ज्यादातर क्षेत्रों में आपे टैक्सी चालक और जीप संचालक अपनी और तमाम सवारियों की जान जोखिम में डालकर सफर करते हैं। इन ओवर लोड वाहनों पर न तो परिवहन विभाग द्वारा कोई कार्रवाई की जा रही है और न ही पुलिस प्रशासन इसकी ओर कोई ध्यान नहीं दे रहा है।
ग्रामीण बताते हैं कि इलाके में बसों का संचालन नहीं होने से जीपों और टैक्सियों में ही सफर करने के लिए मजबूर होना पड़ता है। वहीं टैक्सी और जीप चालक मनमाना किराया वसूल करते हैं। मुंहमांगा किराया देने के बाद भी लाेग भरी दाेपहरी में वाहनाें में लटकते हुए गांव से शहर का सफर करने काे मजबूर हाे रहे हैं। गिरधरपुर से मानपुर, श्याेपुर और ढाेढर के लिए रोजाना टैक्सी और जीप चालक सवारियों को भेड़-बकरी की तरह ठूंस-ठूंस कर भरते हैं। सवारियाें से गाड़ी पूरी तरह से भर जाती है तब ही रवाना हाेते हैं। यह हालात अंचल के अधिकांश ग्रामीण रूट पर देखे जा सकते हैं। जहां कई क्षेत्रों में परिवहन विभाग द्वारा बसों का संचालन नहीं होने से टैक्सी, टेंपो और जीप संचालक जर्जर मार्गों पर फर्राटे भरते बिना रोक-टोक नजर आ रहे हैं।
रतोदन, अलापुरा आदि क्षेत्रों के ग्रामीणों ने बताया कि बड़ौदा तक पहुंचने के लिए लॉकडाउन से पहले 10 से 15 रुपए प्रति सवारी लगते थे, लेकिन अनलॉक के बाद वाहन संचालकों ने दाेगुना से ज्यादा किराया बढ़ा दिया है, अब 25 से 35 रुपए तक किराया लिया जा रहा है। जीपाें में सवारी ठसाठस भरने के बाद छत और पायदान पर भी लाेग लटकते हुए सफर कर रहे हैं।
स्थानीय ग्रामीणों के लिए जान हथेली पर रखकर सफर करना राेजमर्रा की सामान्य बात हाे गई है, लेकिन बाहर से आने वाले लाेग हैरत में पड़ जाते हैं। आवागमन का अन्य काेई साधन उपलब्ध नहीं हाेने के कारण लाेग जाेखिमभरा सफर करने काे मजबूर हाेते हैं।
गिरधरपुर-मानपुर और बड़ौदा रूट पर नहीं चलती बसें

गिरधरपुर- मानपुर और बड़ाैदा- मकड़ावदा सहित अंचल के कई मार्ग ऐसे हैं जहां परमिटशुदा बसों का संचालन नहीं किया जा रहा है। ऐसे में ऑटो ,जीप तथा मैजिक वाहन चालकाें की माैज हाे रही है। मकड़ावदा के मानसिंह आदिवासी और लाेकेश मीणा बताते हैं कि यहां बसों का संचालन होता था लेकिन अब वर्तमान में बसों का संचालन बंद हो गया है। बसों का संचालन करने के लिए ग्रामीणों ने परिवहन विभाग को पत्र लिखे हैं लेकिन बसों का संचालन नहीं हो पाया है। वहीं मकड़ावदा, बाजरली, कुंहाजापुर, रतोदन, बागल्दा, अलापुरा, गिरधरपुर, हीरापुर और रघुनाथपुर के कई क्षेत्रों में बसों का संचालन नहीं होने से यहां जीप और टैक्सी संचालक सवारियों को ओवर लोड वाहनों में ले जा रहे हैं।
ओवरलोड और अनफिट वाहनों पर नहीं हो रही कार्रवाई

श्याेपुर से ग्रामीण मार्गों पर अनफिट बसें दौड़ रहीं हैं। बसों में ओवरलोडिंग के साथ ही इन सामान भी लोड कर किया जाता है। बड़ाैदा के ग्रामीणों ने खटारा बसों की जांच के लिए आईजी और एसपी से शिकायत की गई है। शिकायत कर्ताओं ने बताया कि गांवों के लिए दर्जनों बसें बिना परमिट व फिटनेस चलाई जा रहीं हैं। निजी बस संचालक यात्रियों से मनमाना किराया लेकर सीधा मुनाफा कमा रहे हैं और टैक्स भी नहीं दे रहे हैं। जिससे सरकार के राजस्व का नुकसान हो रहा है। शिकायतकर्ता ने बसों की जांच करने की मांग वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों से की है।

अाेवरलाेड वाहनाें पर फ्लाइंग स्क्वाड करता है कार्रवाई

ऐसे जगहों पर जहां ओवर लोड वाहन चलते हैं वहां समय-समय पर फ्लाइंग स्क्वाड कार्रवाई करता है। ऐसे वाहनों का चालान कर उन्हें आगे ओवरलोड वाहन नहीं चलाने की हिदायत भी दी जाती है। अगर वर्तमान में ऐसे कोई वाहन चल रहे हैं तो उन पर चालानी कार्रवाई करेंगे।

-एबी केबरे, परिवहन अधिकारी, श्योपुर​​​​​​​


खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- कुछ रचनात्मक तथा सामाजिक कार्यों में आपका अधिकतर समय व्यतीत होगा। मीडिया तथा संपर्क सूत्रों संबंधी गतिविधियों में अपना विशेष ध्यान केंद्रित रखें, आपको कोई महत्वपूर्ण सूचना मिल सकती हैं। अनुभव...

    और पढ़ें