बागियों को बैठाने कांग्रेस-भाजपा में वादों की झड़ी:भिलाई में 11 एल्डरमैन के पद, विधायक और बड़े नेता कर चुके 111 से वादा, BJP भी पीछे नहीं

भिलाई5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
भिलाई सहित प्रदेश में 20 दिसंबर को नगरीय निकाय के लिए वोटिंग होनी है। - Dainik Bhaskar
भिलाई सहित प्रदेश में 20 दिसंबर को नगरीय निकाय के लिए वोटिंग होनी है।

नगरीय निकाय चुनाव में टिकट बंटवारे के बाद अब बागी दावेदारों को शांत कराने के लिए बड़े नेताओं को माथापच्ची करनी पड़ रही है। कांग्रेस पार्टी ने इसके लिए एक अनोखा तरीका अपनाया है। कांग्रेस के विधायक सहित अन्य बड़े नेता पार्टी के नाराज दावेदारों को शांत कराने के लिए उन्हें एल्डरमैन बनाने का वादा कर रहे हैं। इस चक्कर में नेता यह भूल गए कि नगर निगम भिलाई में कुल 11 एल्डरमैन के पद हैं, लेकिन उन्होंने इससे कई गुना ज्यादा दावेदारों से एल्डरमैन बनाने का वादा कर डाला है। भाजपा भी संगठन में पद देने की बात कर रही है।

दुर्ग जिले के चारों निकायों से अब तक कुल 910 लोगों ने नामांकन दाखिल किया है। इसमें 388 लोगों ने निर्दलीय के रूप में दावेदारी की है। निर्दलीय प्रत्याशियों में कांग्रेस और भाजपा पार्टी के सबसे अधिक दावेदार हैं। निर्दलीय दावेदारों की बात करें तो भिलाई नगर निगम से 143, भिलाई तीन चरौदा से 57, रिसाली से 55 और जामुल नगर पालिका से 33 लोगों ने निर्दलीय नामांकन पत्र भरा है। भिलाई नगर निगम के 70 वार्डों में सबसे अधिक असंतुष्ट दावेदार हैं। ऐसे में कांग्रेस पार्टी ने उन्हें शांत कराने की जिम्मेदारी युवा विधायक देवेंद्र यादव और कुछ बड़े नेताओं को दी गई है। इन सभी नेताओं को जब कोई रास्ता नहीं मिला तो उन्होंने असंतुष्ट नेताओं को मनाने के लिए पद देने का वादा करना शुरू कर दिया है। अब यह नाम वापसी के बाद ही पता चल पाएगा कि कांग्रेस के नेता कितने कामयाब हुए हैं।

भाजपा कर रही पार्टी में पद देने का वादा

भाजपा नेता भी कुछ इसी तर्ज अपने असंतुष्ट दावेदारों को मनाने में लगे हैं। सत्ता में न होने से वह एल्डरमैन तो नहीं बना सकती है, लेकिन पार्टी में पद देने का जरूर वादा कर रही है। भाजपा नेताओं की यह चाल निगम चुनाव में काम आती नहीं दिख रही है, क्यों कि दुर्ग जिले में चार खेमे में बंटे नेता ऐसा होने नहीं दे रहे हैं।

वार्ड 7 की निर्दलीय प्रत्याशी को किया वादा

वार्ड 7 राधिका नगर से कांग्रेस नेत्री सोसन लोगन निर्दलीय दावेदारी कर रही हैं। वह इससे पहले वह कांग्रेस पार्टी से पार्षद के साथ ही एमआईसी मेंबर भी रह चुकी हैं। उनका आरोप है कि उनके अच्छे कार्य के बाद भी विधायक देवेंद्र यादव ने अपने आदमी टिकट देने के लिए उन्हें टिकट नहीं दी। जब उन्होंने निर्दलीय दावेदारी की तो अब उनके व अन्य नेताओं के द्वारा उन्हें एल्डरमैन और हज कमेटी का पद देने का ऑफर दिया जा रहा है। सोसन फरीद नगर क्षेत्र की एक बड़ी नेता है। उनके पिता फरीद नगर को बसाने वालों में से एक थे और वहां के बड़े नेता भी थे। पिता की मृत्यु के बाद बेटी सोसन लोगन ने उनकी राजनीति की कमान अपने हाथ में ली और पिता के आदर्शों पर कार्य किया, लेकिन आज वह कांग्रेस से असंतुष्ट होकर निर्दलीय दावेदारी कर रही हैं।

मुख्यमंत्री ने दिया बड़ा बयान

भिलाई दशहरा मैदान में आयोजित परिचय सम्मेलन कार्यक्रम में पहुंचे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि अभी दो दिन का समय है। कांग्रेस के सभी असंतुष्ट दावेदारों मना लिया जाएगा। मुख्यमंत्री के बयान से साफ है कि उनके नेताओं ने उन्हें आश्वासन दिया है कि वह सभी बागी को मना लेंगे।

खबरें और भी हैं...