पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मशरूम की खेती:2 साल पहले 70 महिलाओं ने शुरू किया काम, अब संख्या 780 हुई , हरेक की कमाई 20 हजार महीना

भिलाई2 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • जिले में 6.60 टन प्रोडक्शन, डिमांड अधिक, हर बड़े होटल में सप्लाई

जिले में दो साल पहले तक महज 70 महिलाएं ही मशरूम की खेती कर रही थीं। आज यह संख्या 780 से ज्यादा हो चुकी है। यह महिलाएं अब अपने परिवार का आर्थिक संबल बन रही हैं। इन्हें मशरूम का एक बैग बनाने में 40 रुपए खर्च आता है। इससे उन्हें 900 ग्राम से सवा किलो तक मशरूम मिलता है। प्रति किलो दो से ढाई सौ रुपए की दर से बेच रही हैं। हर सीजन में करीब 660 क्विंटल मशरूम का उत्पादन हो रहा है। इस प्रकार हर महिला महीने में 20 हजार रुपए से ज्यादा कमा रही हैं। इतना ही नहीं मशरूम की डिमांड पूरे जिले में है।

मशरूम क्वीन के रूप में यह महिलाएं उभरीं
अरसनारा, खोपली, उतई, बोरी, सुपेला, नगपुरा सहित अन्य ग्रामीण क्षेत्र में मशरूम का उत्पादन हो रहा है। जिले समेत राज्य के अन्य स्थानों और होटलों में मशरूम की सप्लाई कर रही हैं, मशरूम कल्टीवेशन का प्रशिक्षण दे रही हैं। उन्हें स्वरोजगार के लिए तैयार भी कर रही हैं।

बटन मशरूम की ट्विनसिटी में अधिक मांग
मशरूम की कई तरह की प्रजातियां जैसे कि बटन मशरूम, ऑयस्टर, पैडी स्ट्रॉ, मिल्की मशरूम। महिलाओं को इसे उगाने की तकनीक बताई जाती हैं। ट्विनसिटी में बटन मशरूम की मांग अधिक है। आयस्टर मशरूम की खेती अधिक हो रही है। ग्रामीण और शहरी क्षेत्र में इसकी मांग अधिक है। प्रशिक्षण लेकर दुर्ग जिले के कई महिलाओं ने इस खेती के रूप में अपनाया है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

    और पढ़ें