पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

राहत:ईएफबीएस स्कीम से 3301 कर्मियों को मिला लाभ

भिलाई18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
योजना का लाभ लेकर कई कर्मियों के बच्चे उच्च शिक्षित बन चुके हैं। - Dainik Bhaskar
योजना का लाभ लेकर कई कर्मियों के बच्चे उच्च शिक्षित बन चुके हैं।
  • सेल के कर्मचारी परिवार हितलाभ योजना से मृत व मेडिकल अनफिट कर्मियों का संवर रहा परिवार

सेल ने 32 वर्ष पूर्व एक सामाजिक सुरक्षा योजना कर्मचारी परिवार हितलाभ योजना जिसे ईएफबीएस के नाम से भी जाना जाता है, उसकी शुरुआत की। उस वक्त सेल ने ऐसी सामाजिक सुरक्षा को प्रारम्भ करने वाली देश की पहली संस्थान के रूप में अपनी पहचान बनाई। जिसका आगे चलकर देश की अनेक सरकारी और निजी कंपनियों ने अनुसरण किया।

ईएफबीएस के तहत वे कार्मिक जिनका सेवा में रहते हुए निधन हो गया हो या फिर परमानेंट मेडिकल अनफिट के कारण स्थाई अपंगता आ गई हो, उनका परिवार इस योजना का लाभ उठा सकता है। इसके लिए उसे मृत्यु या अपंगता की तिथि से 6 माह के भीतर अपनी सहमति देनी होती है।

इस योजना के तहत कार्मिक के परिवार को कार्मिक के रिटायरमेंट तारीख तक मृत अथवा परमानेंट मेडिकल अनफिट कार्मिक के अंतिम बेसिक व मंहगाई भत्ता के बराबर की राशि प्रतिमाह इस परिवार को मिलती रहेगी। इसके लिए कार्मिक परिवार को कार्मिक का सीपीएफ एवं ग्रेच्युटी राशि प्रबंधन के पास जमा रखना होगा। जो सेवानिवृत्ति की तिथि पर मिलेगी।

कोरोना से मृत 30 कर्मियों का परिवार भी है शामिल

सेल के इस संवेदनशील सामाजिक सुरक्षा की इस योजना ईएफबीएस का अब तक भिलाई इस्पात संयंत्र के 3301 कार्मिक परिवारों ने लाभ उठाया है। इसमें वर्तमान में कोविड से मृत हुए 30 कार्मिक परिवार शामिल है।

सेल की इस योजना ने भिलाई के हजारों इस्पाती परिवार को संकट से उबारा है। उनके आशाओं व आकांक्षाओं को टूटने से बचाया है। परिवार के सामाजिक हैसियत की भी रक्षा की है। मृत बीएसपी कर्मचारियों के परिजनों के लिए भी यह योजना किसी वरदान से कम साबित नहीं हुई है।

बच्चों के सपना पूरा करने में स्कीम का बड़ा योगदान

बीएसपी के मृत कर्मी संजय मल्होत्रा की पत्नी सीमा मल्होत्रा बताती है कि सेल-बीएसपी के इस स्कीम ने मेरे पति के जाने के बाद भी परिवार के सपने को बिखरने नहीं दिया। हमें अपने सामाजिक ओहदा से लेकर जीवनशैली को बनाये रखने में भारी मदद की है।

बेटी हर्षा डॉक्टर और दिशा इंजीनियर बन चुकी है इस सपने को पूरा करने में बीएसपी का महत्वपूर्ण योगदान रहा। इसी तरह अन्य कई परिवार हैं, जो इस योजना का लाभ लेकर संवर रहे हैं। यह योजना सभी के लिए है।

खबरें और भी हैं...