धमकी का बदला लेने दोस्त का मर्डर:दुर्ग के अंधे कत्ल का खुलासा, बदतमीजी से तंग आकर 5 दोस्तों ने मिलकर 1 को मार डाला

भिलाई6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

दुर्ग पुलिस ने बुधवार शाम एक अंधे कत्ल का खुलासा किया। पुलिस को 8 नवंबर 2021 की सुबह मोहन नगर थाना अंतर्गत ट्रांसपोर्ट नगर में देशी शराब भट्ठी के पास आकाश साहू नाम के युवक का शव मिला था। शव को कुत्तों ने इतनी बुरी तरह नोचा था कि उसकी पहचान करना मुश्किल था। पुलिस ने बताया कि इस वारदात को अंजाम मृतक के 5 दोस्तों ने मिलकर दिया था। आकाश ने कुछ दिन पहले उन्हें पेट्रोल छिड़ककर आग लगा देने की धमकी दी थी। इसके बाद पांचों ने मिलकर आकाश को बुलाया उसे शराब भट्ठी ले गए। जमकर शराब पिलाई और उसके बाद उसकी हत्या कर दी।

एसएसपी बीएन मीणा ने बताया कि यह एक अंधा कत्ल था। इसमें मृतक की पहचान से लेकर हत्या करने वालों तक पहुंचना काफी मुश्किल था। इसके बाद भी पुलिस ने जांच शुरू की। इसके लिए पुलिस की अलग-अलग 6 टीम गठित की गईं। पुलिस ने घटना स्थल और आसपास के जितने भी रास्ते हैं वहां के सीसीटीवी कैमरों के फुटेज को खंगाला। साइबर एनालिसिस किया। सीन क्रिएट किया और जितने भी संदेही मिले सभी से एक-एक कर पूछताछ की गई। इस दौरान पुलिस को आकाश और उसके दोस्तों के बीच झगड़े की बात पता चली। पुलिस ने जब पांचों आरोपियों को थाने बुलाकर कड़ाई से पूछताछ की तो आरोपी टूट गए और अपना गुनाह कबूल कर लिया। आरोपियों ने बताया कि 5 नवंबर को आकाश ने उन्हें पेट्रोल छिड़क कर आग लगा देने की धमकी दी थी। इस विवाद के बाद उन्होंने उसकी हत्या की साजिश रची। वह लोग आकाश को मोटरसाइकिल में बैठाकर शराब पिलाने के बहाने ट्रांसपोर्ट नगर ले गए। वहां उन्होंने आकाश के गले में चाकू से वार किया और जब वह नीचे जमीन पर गिर गया तो उसे तब तक लात घूंसों से मारा जब तक वह मर नहीं गया। पुलिस ने आरोपियों के पास से चाकू और मोटरसाइकिल जब्त किया है।

टैटू से की गई मृतक की पहचान

एसएसपी बीएन मीणा ने बताया कि जब आकाश का शव मिला तो उसकी पहचान करना मुश्किल था। इसके बाद बाद पुलिस ने उसके शरीर में बने टैटू और कपड़ों के आधार पर आसपास पूछताछ कर उसकी पहचान की। पुलिस मृतक के परिजनों तक पहुंची और मामले की जांच के लिए ठोस क्लू मिला।

इसलिए मार डाला

आकाश आदतन बदमाश था। वह अपने दोस्तों के साथ भी दादागीरी करता था, उन पर हाथ उठा देता था। कुछ दिन पहले आकाश पेट्रोल पंप पर बोतल में पेट्रोल ले रहा था। इसी दौरान सुजीत वहां पहुंचा। आकाश ने हमेशा की तरह थोड़ा मजाक करते हुए थोड़ा पेट्रोल सुजीत पर उछाल दिया और बोला कि उसे जिंदा जला देगा। इस बात पर उसका पहले सुजीत और फिर वहां पहुचे उसके भाई से झगड़ा हो गया। उस समय तो लोगों ने बीच-बचाव कर दोनों को अलग कर दिया, लेकिन सुजीत ने दूसरे दोस्तों को यह बात बताई और उन लोगों ने आकाश को हमेशा के लिए खत्म करने की साजिश रच ली।

यह आरोपी हुए गिरफ्तार

आकाश की हत्या के आरोप में पुलिस ने उरला निवासी सुजीत मौर्य (23 साल), बॉम्बे आवास उरला निवासी सुधीर मौर्य (29 साल), बॉम्बे आवास उरला निवासी दीपक विश्वकर्मा (23 साल), रेलवे कॉलोनी दुर्ग निवासी शुभम उर्फ मोनू शाह (21 साल) और रेलवे कॉलोनी निवासी राजकुमार शाह (30 साल) को गिरफ्तार किया है।

खबरें और भी हैं...