पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जिला अस्पताल में कंफर्मेट्री जांच से पुष्टि:हुडको में डेंगू का एक और मरीज मिला, हैदराबाद तक किया ट्रैवल

भिलाई24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हुडको में डेंगू का मरीज मिलने के बाद निगम प्रशासन ने जांच शुरू की। - Dainik Bhaskar
हुडको में डेंगू का मरीज मिलने के बाद निगम प्रशासन ने जांच शुरू की।

भिलाई के हुडको में बुधवार को जिले का तीसरा कंफर्म डेंगू मरीज मिला है। इस बार 56 वर्षीय महिला इसकी चपेट में आई है। बुखार आने के बाद परिजनों ने रामनगर के निजी अस्पताल में भर्ती करा दिया था, जो अब भी वहीं भर्ती हैं। महिला को डेंगू होने की आशंका निजी अस्पताल में हुई प्राइमरी जांच से ही जताई जा रही थी, लेकिन अब कंफरमेट्री जांच से पुष्टि हुई है।

एलाइजा टेस्ट में इस मरीज की रिपोर्ट एनएस 1 नेगेटिव, आईजीएम पॉजिटिव आई है, इसलिए पुराना संक्रमण माना जा रहा है। पूछताछ में परिजनों ने संक्रमित महिला को अपने पति के इलाज के सिलसिले में हाल ही में हैदराबाद आने जाने की ट्रैवलिंग हिस्ट्री बताई है। इधर राम नगर के निजी अस्पताल में भर्ती डेंगू मरीज की बुधवार को छुट्टी हो गई।

भर्ती होने के समय आईसीयू वार्ड में रखा गया था। सिमटोमेटिक ट्रैटमेंट देने से वह ठीक हो गई। उनकी स्थिति में सुधार इसलिए जल्दी हुआ, क्योंकि पूर्व के संक्रमण की वजह उनमें एंटीबॉडी बन गई थी। इधर डेंगू को लेकर टाउनशिप समेत शहर के लोगों को जागरूक किया जा रहा है। वर्तमान में बुखार से पीड़ितों की खोज की जा रही। हालांकि बीएसपी व निगम प्रशासन का दावा है, ऐसे मरीज नहीं मिले।

अब तक तो कंफर्म तीन सस्पेक्टेड मरीज मिल चुके

जिले में अब तक डेंगू के दो कंफर्म और तीन सस्पेक्टेड मरीज मिल चुके हैं। दोनों कंफर्म मरीज टाउनशिप के सेक्टर-4 में और सस्पेक्टेड क्रमशः सेक्टर 6, कोहका बापू नगर में मिले हैं। बुखार के कारण रैपिड एंटीजन किट से की गई जांच में सब की रिपोर्ट एनएस 1 पॉजिटिव आई थी। इसलिए सभी को सस्पेक्टेड मरीज माना जा रहा था। लेकिन जब कंफर्मेंट्री जांच कराई गई तो सिर्फ सेक्टर 4 के 2 मरीजों की रिपोर्ट ही पॉजिटिव आई।

हॉस्पिटल सेक्टर में विभाग की टीम अब जांच में जुटी

बीएसपी के पीएचडी डिपार्टमेंट ने अपने हॉस्पिटल सेक्टर में बुधवार से डेंगू के रोकथाम की गतिविधियां बढ़ा दी है। क्योंकि यह सेक्टर, जहां कंफर्म मरीज मिला उससे लगा हुआ है। डेंगू को एक से दूसरे में बांटने वाला एडीज मच्छर 300 मीटर दायरे में रहने वालों को संक्रमित कर सकता है।

इसलिए बीएसपी का पीएचडी डिपार्टमेंट अलर्ट हो गया है। उस दायरे में आने वाले अपने क्षेत्रों में रोकथाम की गतिविधियां बढ़ा दी है। लोगों को जागरूक भी किया जा रहा।

खबरें और भी हैं...