पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बड़ी उपलब्धि:अंतागढ़ को मिला कोड, गुड्स ट्रांसपोर्टिंग के साथ पैसेंजर ट्रेन चलाने में होगी सुविधा

भिलाई6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • केवटी से अंतागढ़ तक 17 किमी नए ट्रैक का किया निर्माण

अंतागढ़ रेलवे स्टेशन को अल्फा न्यूमेरिक कोड मिल गया है। अब रेलवे मंडल में एएजीएच के नाम से जाना जाएगा। इससे अंतागढ़ से गुड्स ट्रेनों के चलाने और सामान की ट्रांसपोर्टिंग के साथ सवारी गाड़ियां चलाने में सुविधा होगी। 4 अगस्त को बोर्ड ने रायपुर रेल मंडल को चिट्ठी लिखकर इस कोड की जानकारी दी। केवटी से अंतगढ़ तक करीब 17 किमी नए ट्रैक का निर्माण किया है। 30 जुलाई को इंजन दौड़ाकर इसका ट्रायल भी हो चुका है। अब ट्रैक और स्टेशन में यात्रियों को मिलने वाली सुविधा की जांच का लिए कोलकाता से रेलवे सेफ्टी कमिश्नर की टीम आने वाली है। उनकी जांच में रिपोर्ट पॉजिटिव मिलते ही इस ट्रैक पर सवारी गाड़ियां चलाने और गुड्स ट्रांसपोर्टिंग की सुविधा शुरू हो जाएगी। इससे यहां रहने वाले लोगों को फायदा होगा।

ट्रैक निरीक्षण के लिए 11 को आ सकती है सीआरएस की टीम
केवटी से अंतागढ़ तक इंजन दौड़ाकर ट्रायल लिया जा चुका है। इसके बाद इसकी सूचना डीआरएम ने बिलासपुर जोन के माध्यम से कोलकाता में रेलवे सेफ्टी कमिश्नर को इस ट्रैक निरीक्षण के लिए पत्र लिखा है। टीम के 11 अगस्त को आने की संभावना है। इसके लिए फाइनल शेड्यूल आना फिलहाल बाकी है।

रेलवे से कोड मिलने के बाद क्या होगा, जानिए इसके फायदे
रेलवे के अधिकारियों की माने तो यह कोड एक स्टेशन के लिए महत्वपूर्ण होता है। जैसे दुर्ग का कोड डीआरजी है। रायपुर का कोड आरपीआर है। इससे स्टेशन रेलवे में रजिस्टर्ड हो जाता है। गुड्स ट्रेनों और पैसेंजर ट्रेन के लिए यह जरूरी हो जाता है। बताया गया कि अंतागढ़ को कोड मिलने के बाद यहां की राह आसान हो गई है।

अंतागढ़ से आगे बंदनगर तक ट्रैक बिछाने काम भी शुरू, फोर्स तैनात
लॉकडाउन के कारण निर्माण एजेंसी का काम प्रभावित नहीं हुआ है। आरबीएनएल लगातार अपने काम में जुटी है। अंतागढ़ से आगे 10 किलोमीटर दूर बंदनगर तक भी ट्रैक बिछाने का काम शुरू कर दिया गया है। फरवरी 2021 तक पूरा होने की उम्मीद की जा रही है। रावघाट तक ट्रैक की दूरी करीब 95 किलोमीटर है।

इस लाइन से बीएसपी को होगा सबसे अधिक फायदा
दल्ली राजहरा-रावघाट-जगदलपुर परियोजना से बीएसपी को सबसे अधिक फायदा होगा। इसकी लंबाई करीब 235 किलोमीटर है। इसे बिछाने में रेलवे, छत्तीसगढ़ शासन, स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड और एनएमडीसी जुटी हुई है। इसके प्रथम चरण में दल्ली राजहरा से अंतागढ़ तक ट्रैक बिछाने का काम हो चुका है। केवटी तक ट्रेनों का परिचालन भी किया जा रहा है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कोई लाभदायक यात्रा संपन्न हो सकती है। अत्यधिक व्यस्तता के कारण घर पर तो समय व्यतीत नहीं कर पाएंगे, परंतु अपने बहुत से महत्वपूर्ण काम निपटाने में सफल होंगे। कोई भूमि संबंधी लाभ भी होने के य...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser