पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

फैल रहा कोरोना:एएसआई, प्रधान आरक्षक, व्यापारी, नेता कोरोना से हारे, हेल्थ वर्कर व फोर्स के जवान भी संक्रमित

भिलाई3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कलेक्टर के निर्देश के बाद जिला अस्पताल की फीवर क्लीनिक में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया गया। इसके अलावा मौके पर मार्किंग भी की गई,ताकि पहुंचने वाले बनाए गए गोले पर ही खड़े हो सकें।
  • एएसआई का पिछले 20 दिनों से चल रहा था उपचार, तीन दिन पहले जांच की गई तो निकला कोरोना
  • 309 नए संक्रमित, 9 मरीजों की मौत

जिले में बुधवार को 9 कोरोना मरीजों ने दम तोड़ दिया। मरने वालों में एएसआई, प्रधान आरक्षक, व्यापारी नेता, बंगाली समाज के प्रतिनिधि भी नहीं बच पाए। जबकि तीन को ही बीपी, शुगर, हार्ट में कोई न कोई बीमारी थी। प्रधान आरक्षक किसी बीमारी से पीड़ित नहीं थे। उन्हें 13 को हल्का बुखार आया था और वह छुट्टी पर चले गए थे। 16 सितंबर को सांस लेने में तकलीफ हुई तो बीम शाह अस्पताल जाकर भर्ती हुए और इलाज के दौरान मौत हो गई। इन चार मौतों के अलावा बुधवार को कैलाश नगर निवासी 58 वर्षीय स्वामीनाथ गुप्ता और गुरुद्वारा रोड निवासी 70 वर्षीय नर्गिस कामदार ने हाइटेक अस्पताल में, दीपक नगर निवासी 62 वर्षीय श्याम लाल खत्री ने राम कृष्ण केयर सेंटर में, सुपेला निवासी 60 वर्षीय पुन्नी बाई सोनी ने जिला अस्पताल में और नेहरू नगर 70 वर्षीय ग्यारसीलाल अग्रवाल ने श्रेयश हास्पिटल में दम तोड़ा है। बीते 24 घंटे में होने वाली मौतों की बात की जाय तो उनकी संख्या 11 हो रही है। नए पॉजिटिव मरीजों का आकड़ा बीते दो दिनों की तुलना में बुधवार को गिर गया है। तीसरे दिन 400 से कम 309 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं। इस बार भी हेल्थ वर्कर, फोर्स के जवान और अन्य संक्रमित हो गए हैं।

व्यापारी, नेता और पुलिस कर्मी की मौत ने बढ़ाई चिंता...
सब्जी व्यापारी संघ के अध्यक्ष को सांस लेने में थी तकलीफ
सब्जी व्यापारी संघ के अध्यक्ष जॉन सिंह को 10 सितंबर को सांस में तकलीफ होने पर जुनवानी के मित्तल अस्पताल में भर्ती कराया गया था। यहीं हुई जांच से उन्हें कोरोना होने की पुष्टि हुई थी। इसके बाद वह बीएम शाह अस्पताल में और 14 सितंबर को रायपुर के रामकृष्ण केयर सेंटर में भर्ती कराए गए थे। शुगर और हार्ट पेशेंट थे।

सेक्टर-6 कालाबाड़ी के सचिव को आ रहा था बुखार, हुई मौत
सेक्टर-6 कालीबाड़ी के सचिव सिंधिया नगर निवासी दिलीप विश्वास को हल्का बुखार के कारण 15 सितंबर को सेक्टर-9 में भर्ती किया गया था। एक दिन बाद यहां जांच हुई तो कोरोना की जानकारी मिली। निमोनिया के पुराने मरीज होने नाते डॉक्टरों ने इनपर विशेष ध्यान दिया, लेकिन तबीयत सुधारने की बजाय बिगड़ती गई।

एससी एसटी थाने के एएसआई हुए बीमार, पता चला कोरोना है
अनुसूचित जाति, जनजाति थाने के एसआई आई आर साहू ने गुरुवार को बीएम शाह हास्पिटल में दम तोड़ दिया। अनकंट्रोल बीपी व शुगर के कारण करीब 20 दिन पहने वह इसी निजी अस्पताल में भर्ती हुए थे। हालत में सुधार नहीं होने पर 13 सितंबर को उनकी कोरोना की जांच कराई गई तो पॉजिटिव निकले। इसके बाद कोविड सेक्शन में भर्ती हुए।

भट्ठी थाना के प्रधान आरक्षक को बुखार आया, निकले पॉजिटिव, मौत...
भट्‌ठी थाना के प्रधान आरक्षक फुल चंद भूआर्य को 13 सितंबर को बुखार आया था, उसी दिन से वे छुट्‌टी लेकर क्वार्टर पर चले गए थे। 16 सितंबर की सुबह सांस लेने में तकलीफ होने लगी तो बीएम शाह अस्पताल पहुंचे जहां कोविड टेस्ट करने पर रिपोर्ट पॉजिटिव आई तो भर्ती कर लिया गया। इससे पहले जब बुखार आया, तब वह दवा ले लिए थे और बुखार भी उतर गया था। सांस लेने में तकलीफ थी।

किन 7 लोगों ने बुधवार को दम तोड़ा
1. 58 वर्षीय पुरुष, कैलाश नगर, हाईटेक अस्पताल।
2. 70 वर्षीय पुरुष, गुरुद्वारा रोड, हाईटेक अस्पताल।
3. 63 वर्षीय पुरुष, सुपेला निवासी, राम कृष्ण केयर।
4. 62 वर्षीय पुरुष, दीपक नगर, राम कृष्ण केयर से.।
5. 67 वर्षीय पुरुष, सिंधिया नगर, राम कृष्ण केयर ।
6. 60 वर्षीय पुरुष, सुपेला निवासी, जिला अस्पताल।
7. 75 वर्षीय पुरुष, नेहरू नगर, श्रेयश हास्पिटल में।

246 की मौत के बाद बनी डेथ ऑडिट टीम..
जिले में अब तक 246 कोरोना मरीजों की मौत हो चुकी है। यह संख्या प्रतिदिन बढ़ रही है। इसे देखते हुए अब डेथ ऑडिट टीम का गठन किया गया है। इस टीम में जिला प्रशिक्षण अधिकारी डॉ. सुगम सावंत, निश्चेतना विशेषज्ञ डॉ. पूजा वर्मा, मेडिसिन विशेषज्ञ डॉ. आर के देवांगन, संबंधित क्षेत्रों के खंड चिकित्सा अधिकारी और नर्सिंग सिस्टर चित्रलेखा बोरकर को शामिल किया गया है। टीम नियमित रूप से मरने वालों की जानकारी जुटाएगी।

वृद्धों के लिए बने सेंटर में नहीं दिखे कर्मी.. लगातार जांच के लिए पहुंचते रहे बुजुर्ग
जिला अस्पताल में वृद्धों या असहायों के लिए कोरोना जांच की अलग व्यवस्था की गई है। इसके नाम पर खानापूर्ति की जा रही है। अस्पताल प्रबंधन ने फीवर क्लीनिक में चैंबर तो बना दिया, लेकिन जांच के लिए कर्मचारी की ड्यूटी नहीं लगाई। इसके चलते इसका उपयोग ही शुरू नहीं हो पाया। बुजुर्गों को सामान्य लाइन में जांच करानी पड़ी।

झींट में 50 बेड का कोविड केयर सेंटर शुरू किया गया
जिले के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र झींट के आस-पास के सिम्टोमेटिक कोरोन ा मरीजों के लिए वहीं तैयार कराया गया 50 बेड का केयर सेंटर बुधवार से रन कर दिया गया। कलेक्टर डॉ. भुरे ने बताया कि इस सेंटर में जिला मुख्यालय के सेंटर की तरह ही मरीजों को दवा के साथ खाना-पीना भी मिलेगा। साथ ही सुविधाएं यहां उपलब्ध होगी।

कल से आरटीसीआर जांच की सुविधा, रिपोर्ट जल्द
शंकराचार्य मेडिकल कॉलेज में 18 सितंबर शुक्रवार से आरटीपीसीआर टेस्ट की सुविधा होगी। निर्धारित शुल्क जमा कर आरटीपीसीआर जांच कराई जा सकती है। यहां के लैब को आसीएमआर से अनुमति जारी कर दी गई है। जांच के लिए सैंपल लिए जाने की व्यवस्था कॉलेज प्रबंधन ने मेडिकल कॉलेज परिसर में की है।

सेक्टर-9 अस्पताल में ऑक्सीजन बेड बढ़ाए जाएंगे
जेएलएन अस्पताल सेक्टर-9 में आक्सीजन बेड बढ़ाए जाएंगे। कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने बुधवार को वहां को निरीक्षण के डायरेक्टर को निर्देश दिया। अभी इस अस्पताल में मात्र 50 कोरोना मरीजों का ही इलाज हो रहा है। मरीजों को भर्ती किया जा सकेगा।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज उन्नति से संबंधित शुभ समाचार की प्राप्ति होगी। धार्मिक और आध्यात्मिक कार्यों में भी कुछ समय व्यतीत होगा। किसी विशेष समाज सुधारक का सानिध्य आपके अंदर सकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न करेगा। बच्चे त...

और पढ़ें