पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Bhilai
  • Before Corona Period There Were 372 Doctors... Now 513, Nursing Staff Increased From 857 To 991, Technicians From 150 To 218 And Pharmacists Increased From 144 To 179

बेहतर हुई स्वास्थ्य सुविधाएं:कोरोनाकाल से पहले 372 डॉक्टर थे... अब 513 हो गए, नर्सिंग स्टॉफ 857 से 991, टेक्नीशियन 150 से 218 और फार्मासिस्ट 144 से बढ़कर 179 हुए

भिलाई4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
निजी और सरकारी अस्पताल में इलाज बेहतर हुआ। - Dainik Bhaskar
निजी और सरकारी अस्पताल में इलाज बेहतर हुआ।
  • सरकारी सेटअप में औसत 2 व निजी में 3 डॉक्टर बढ़े

कोरोना के प्रकोप से लोगों की जान बचाने के लिए हुई जद्दोजहद से स्वास्थ्य विभाग ने सबक लिया है। सरकारी और निजी अस्पतालों में डॉक्टर, नर्सिंग स्टॉफ, लैब टेक्निशयन और फार्मासिस्ट की संख्या बढ़ी है। जिला अस्पताल में 7 डॉक्टर, 8 सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में से प्रत्येक में औसतन 2 और कोरोना के इलाज के लिए 25 निजी अस्पतालों में से प्रत्येक में 3 डॉक्टर अतिरिक्त रखे गए हैं। इसी प्रकार जिले में अतिरिक्त डॉक्टर 141, नर्सिंग स्टॉफ 134, लैब टेक्नीशियन 68 और फार्मासिस्ट 35 हैं। सरकारी और निजी अस्पतालों मेंं पहले से पदस्थ डॉक्टरों और स्टॉफ के साथ सभी रेगुलर सेवाएं दे रहे हैं। इस प्रकार कोरोनाकाल में चिकित्सकों सहित अन्य स्टॉफ बढ़े हैं। डिमांड के अनुरूप सरकारी सेटअप में संविधा में चिकित्सक व अन्य स्टॉफ रखे जा रहे हैं, निजी भी स्टॉफ बढ़ा रहे हैं।

जिले में अब स्वास्थ्य सुविधाओं में सुधार लगातार जारी

अस्पतालों में स्थाई रूप से रखे जा रहे स्वास्थ्य कर्मचारी
कोविड के बाद डॉक्टर और सहयोगी स्टॉफ बढ़ने को जानने के लिए भास्कर ने सभी अस्पताल प्रभारियों से उनके यहां कोविड से पहले और अब पदस्थ डॉक्टर तथा सहयोगी स्टॉफ की संख्या मांगी। सबने अपने यहां का आंकड़ा भेजा, जिसमें डॉक्टर व अन्य स्टॉफ की संख्या बढ़ी मिली।

इन जगहों से आए नए डॉक्टर, नर्सें व अन्य स्टॉफ, जानिए
मेडिकल की पढ़ाई पूरी करने वाले स्टूडेंट को सरकार ने दो वर्ष के लिए सरकारी में सेवा देने अनिवार्य कर दिया। जिले की सभी सीएचसी, कुछ पीएचसी और जिला अस्पताल में डॉक्टर बढ़ गए। कोरोना बढ़ा तो महाराष्ट्र, चेन्नई और रायपुर के डॉक्टरों ने जिले में सेवाएं देना शुरू किया।

कोरोना के बाद करीब 140 डॉक्टर हमें मिले
कोरोना के दौरान हमने बाहर से आए 300 से ज्यादा डॉक्टरों से सेवाएं ली। लेकिन उसका प्रकोप कम होने के बाद करीब 140 रेगुलर बने हुए हैं। इसमें लगभग 25 तो हमारे सरकारी अस्पतालों में बढ़े और 100 निजी अस्पतालों में बढ़े हैं। यह संख्या लगातार बढ़ रही है।
-डॉ. गंभीर सिंह, सीएमएचओ

खबरें और भी हैं...