पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

भिलाई के ‌BJP नेता की कोरोना से मौत:संजय खन्ना ने निजी अस्पताल में ली अंतिम सांस, सीनियर पार्षद और पूर्व जिला उपाध्यक्ष रहे; जिले में अब तक 6 भाजपा नेताओं की संक्रमण से हो चुकी है मौत

भिलाईएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

छत्तीसगढ़ के भिलाई में कोरोना से भारतीय जनता पार्टी (BJP) नेता संजय खन्ना की मौत हो गई है। उन्होंने भिलाई के ही एक निजी हॉस्पिटल में अंतिम सांस ली। पहले वो 10 दिन होम आइसोलेशन में रहे। फिर उनको एक निजी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया, जहां उनका 35 दिनों तक इलाज किया गया। लेकिन लाख कोशिशों के बाद भी उनकी जान को बचाया नहीं जा सका। वो भाजपा से भिलाई निगम के वर्तमान पार्षद व पूर्व जिला उपाध्यक्ष रहे। कोरोना के संक्रमण से पिछले करीब 40 दिनों में भाजपा के 6 नेताओं की मौत हो चुकी है।

BJP में कई पदों पर निभाई जिम्मेदारी
भिलाई के अंबेडकर नगर परदेशी चौक से पार्षद चुनाव लड़ने वाले संजय खन्ना दो बार के पार्षद रहे। दोनों बार उन्हें एकतरफा वोट मिले थे। BJP नेता संजय खन्ना को करीब से जानने वाले पूर्व पार्षद महेश वर्मा ने बताया कि उनके साथ राजनीति की शुरुआत की थी। वे BJP युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष रहे। पूर्व मंत्री राजेश मूणत की टीम में प्रदेश कार्यसमिति के सदस्य भी रहे। BJP के जिला उपाध्यक्ष के पद पर रहे।

नम आंखों से पुराने दिनों को याद करते हुए महेश ने बताया कि मुझे आज भी याद है, जब पहली बार चुनाव लड़ने वाले थे। उन्होंने पहली बार ही करीब 1700 वोटों से चुनाव जीता था। दूसरी बार भी कांग्रेस पार्टी समेत अन्य दलों के पार्षद प्रत्याशियों की जमानत जब्त हो गई थी। वो जनाधार वाले नेता थे।

हमेशा मार्गदर्शक की भूमिका में रहे
भिलाई नगर निगम के नेता प्रतिपक्ष रिकेश सेन ने उन्हें याद करते हुए बताया कि संजय भाई बहुत ही मिलनसार व्यक्ति थे। उनका जाना बहुत खल रहा है। उनके बड़े भाई व संजय भाई से लगातार संपर्क में था। रोज उनसे हालचाल पूछता था। लेकिन वो कोरोना से जंग हार गए। ऑक्सीजन लेवल तेजी से कम हुआ, और उनकी जान चली गई। निगम की बैठकों में हमेशा हम सभी को मार्गदर्शन दिया करते थे।

पिछले करीब 40 दिनों में इन BJP नेताओं की कोरोना से मौत हुई

  • शाहिन अख्तर, भाजपा पार्षद सेक्टर-8 ने भिलाई स्थित सेक्टर-9 अस्पताल में अंतिम सांस ली थी।
  • अशोक तिवारी, पूर्व मंडल महामंत्री ने भिलाई के हाई-टेक अस्पताल में अंतिम सांस ली। वो भिलाई के सेक्टर-2 के रहने वाले थे।
  • दीप देवांगन, अध्यक्ष बुनकर प्रकोष्ठ ने भिलाई के आईएमआई अस्पताल में अंतिम सांस ली ।
  • पेखन साहू, पूर्व सांसद ताराचंद साहू के प्रतिनिधि थे। इन्होने सेक्टर-9 अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उनकी मौत हुई।
  • भाजपा के पूर्व जिला उपाध्यक्ष फणेंद्र पांडेय की कोरोना से मौत हो गई। रायपुर AIIMS में अंतिम सांस ली।
खबरें और भी हैं...