उम्मीदों का टीका:दुर्ग जिले में 18+ की तैयारी, 45+ उम्र के लोगों का लक्ष्य पूरा होने के करीब; 60 साल से ज्यादा उम्र के 66% ही लगा टीका

भिलाई7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दुर्ग जिले में 18 साल से अधिक उम्र वाले लोगो को टीकाकरण की तैयारी, साढ़े सात लाख को टीका लगेगा। - Dainik Bhaskar
दुर्ग जिले में 18 साल से अधिक उम्र वाले लोगो को टीकाकरण की तैयारी, साढ़े सात लाख को टीका लगेगा।

छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में 1 मई से 18 साल से अधिक उम्र के लोगो का टीकाकरण होना है। ऐसे 18 वर्ष से अधिक उम्र के साढ़े सात लाख युवाओं को टीका लगेगा। इसके लिए स्वास्थ्य अमले ने करीब 300 टीका लगाने के लिए केन्दों को चिह्नांकित किया है, 1 मई से टीकाकरण का अभियान शुरु होना है, तो वहीं 45 से 60 साल के 96% और 60 साल से ज्यादा उम्र के 66% लोगों को ही टीका लगा।

टीका केन्द्रों पर ज्यादा न हो भीड़
टीकाकरण के दौरान किसी भी केंद्र में भीड़ न ज्यादा न रहें। भगदड़ की स्थिति न बने, इस पर विशेष ध्यान रखा जा रहा है। दुर्ग शहर में 45 केंद्र चिन्हित किए गए हैं। इसी प्रकार भिलाई में 104 केंद्र बनाए गए हैं। रिसाली, भिलाई-चरोदा, अहिवारा समेत टाउनशिप इलाके में 104 टीकाकरण केंद्र बनाए गए हैं। इन केंद्रों में BSP हॉस्पिटल सेक्टर 9 के अलावा रेलवे, बिजली कंपनी के कार्यालय, ESI हॉस्पिटल में भी केंद्र बनाए जा रहे हैं।

ग्रामीण क्षेत्रों में बनेंगे टीकाकरण केन्द्र
जिले के ग्रामीण क्षेत्र निकुम, पाटन और धमधा ब्लॉक में कुल 151 टीकाकरण केंद्र बनाए गए। निकुम में 48, पाटन में 52 और धमधा में 51 केंद्र बनाए गए है। यहां पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के अलावा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र और उप स्वास्थ्य केंद्रों को केन्द्र बनाया गया है।

फिलहाल 300 केन्द्रों में होगा टीकाकरण
जिला टीकाकरण अधिकारी डॉक्टर सुदामा चंद्राकर ने बताया कि 18 प्लास के लोगों के टीकाकरण करने की तैयारी करके चिह्नांकित किया जा चुका है। बस हमें शासन से जो निर्देश मिलेंगे उस हिसाब से आगे की तैयारी की जाएगी। फिलहाल प्रारंभिक तौर पर जिले में 300 टीकाकरण केंद्र चिह्नांकित किया जा चुका है। आवश्यकता पड़ने पर इसे और बढ़ाया जा सकता है।

पहले करना होगा रजिस्ट्रेशन
कोविड-19 के टीकाकरण के लिए तीसरे चरण के रजिस्ट्रेशन 28 अप्रैल से शुरू हो रहे हैं। इस चरण के लिए 18 साल और उससे ऊपर की आयु वाले 1 मई से टीका लगवा सकेंगे। लेकिन इस चरण में टीका लगवाने के लिए लोगों को कोविन प्लेटफॉर्म या आरोग्य सेतु एप पर जाकर वैक्सीन के लिए रजिस्ट्रेशन करना होगा, सीधे अस्पताल में जाकर रजिस्ट्रेशन नहीं हो सकेगा। पहले और दूसरे चरण का टीकाकरण तीसरे चरण के साथ-साथ चलता रहेगा और 45 साल ये ज़्यादा की उम्र के लोग 1 मई के बाद भी सीधे अस्पतालों में जाकर रजिस्ट्रेशन करा सकेंगे।

45 प्लस व 60 प्लस उम्र के लोगों का टीकाकरण
जिले में 45 से 60 साल के लोगो को टीका लगाने के लिए 1 लाख 83 हजार का टारगेट रखा गया था, जिसमें से 96% लोगों ने टीका लगवा लिया है। और 60 साल से ज्यादा उम्र वाले 1 लाख 83 हजार लोगों का टारगेट था। उसमें से 66% लोगों ने ही अभी तक टीका लगवाया है। वहीं टीकाकरण अधिकारी डॉक्टर सुदामा चंद्राकर ने बताया कि अभी टीकाकरण जारी है और वैक्सीन मिलने के तीन महीने के अंदर ही उपयोग करना होता है। इस लिए हमारे वहां वैक्सीन की पर्याप्त डोज है, जो मिल रहे, उन्हें लगाया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...