डीपीई ने दिया आश्वासन:सेल अफसरों का डीए जुलाई से होगा संशोधित

भिलाई2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सेल अफसरों का महंगाई भत्ता संशोधित किया जाएगा। संशोधन जुलाई 2021 से लागू होगा। डायरेक्टोरेट ऑफ पब्लिक इंटरप्राइजेस डीपीई ने यह आश्वासन सेफी प्रतिनिधि मंडल को दिया है। सेफी अध्यक्ष नरेन्द्र कुमार बंछोर एवं कार्यवाहक महासचिव चंचल सिंह ने दिल्ली में डीपीई के संयुक्त सचिव संजय कुमार जैन से 11 अक्टूबर को मुलाकात कर इस्पात तथा अन्य क्षेत्रों के सार्वजनिक उपक्रमों के संबंध में वित्त वर्ष 2019-20 के एमओयू रेटिंग निर्धारण, अधिकारियों के मंहगाई भत्ते की दर में उपभोक्ता सूचकांक के अनुसार संशोधन, 2008 व 2010 बैच के जूनियर अधिकारियों को समकक्ष कर्मचारियों से 17 प्रतिशत कम एमजीबी मिलने से उत्पन्न विसंगति का निराकरण तथा सेल अधिकारियों के वित्त वर्ष 2018-19 के पीआरपी की गणना में इंक्रीमेंटल पीआरपी का लाभ डीपीई दिशानिर्देशानुसार लागू किए जाने के विषय पर अधिकारियों का पक्ष रखा। इस पर डीपीई के संयुक्त सचिव संजय कुमार जैन एवं डायरेक्टर (वेज सेल) ने सेफी अध्यक्ष को सूचित किया कि आईडीए में संशोधन तथा एमओयू का निर्धारण जल्द संपन्न कर लिया जाएगा। अधिकारियों का डीए जुलाई 2021 से संशोधित किया जाएगा।

सेफी ने पीआरपी में की इंक्रीमेंटल प्रॉफिट की मांग
सेफी ने पीआरपी की गणना में इंक्रीमेंटल प्रॉफिट का लाभ अधिकारियों को दिए जाने की मांग रखी। वित्त वर्ष 2017-18 में सेल ने हानि (759 करोड़ रूपए) के बाद वित्त वर्ष 2018-19 में 3338 करोड़ रुपए का लाभ अर्जित किया था, जिससे सेल इंक्रीमेंटल प्रॉफिट अर्जित किया था। जिसके कारण अधिकारियों के पीबीटी का 5 प्रतिशत पीआरपी मद में दिया जाना चाहिए परंतु अधिकारियों को पीआरपी के मद में पीबीटी का सिर्फ 3 प्रतिशत दिया गया है। सेफी अध्यक्ष ने कहा कि एमओयू रेटिंग के निर्धारण हो जाने के बाद जल्द ही डीपीई द्वारा आईडीए में संशोधन तथा पीआरपी 2018-19 की गणना में इंक्रीमेंटल पीआरपी का लाभ दिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...