जिसकी हार का था दावा, वही जीत गए:दया सिंह और गिरवर बंटी ने प्रतिद्वंदी को सबसे अधिक वोट से हराया; यहां भी रहे हैरान करने वाले नतीजे

भिलाई5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

दुर्ग जिले में तीन निगम एक पालिका और एक नगर पंचायत में नगरीय निकाय चुनाव संपन्न हो गया है। गुरुवार को हुई मतगणना के बाद तीनों निगम में सत्तारूढ़ कांग्रेस ने अपना परचम लहराया तो वहीं भाजपा को जामुल नगर पालिका की जीत से ही संतोष करना पड़ा है।

इस बार हुआ निकाय चुनाव काफी दिलचस्प रहा। सबसे अधिक 70 वार्डों वाले भिलाई नगर निगम की बात करें तो यहां जिस प्रत्याशी के हार के दावे किए जा रहे थे उसी ने सबसे अधिक मतों से जीत दर्ज कर सबको चौंका दिया। भिलाई नगर का सबसे सेंसिटिव क्षेत्र वार्ड 44 लक्ष्मीनारायण वार्ड से भाजपा से बोलबम सेवा समिति के अध्यक्ष दया सिंह की सीधी टक्कर कांग्रेस प्रत्याशी मानवेंद्र सिंह से थी।

दया सिंह को हराने में कांग्रेस ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी, लेकिन दया जनता को मनाने में कामयाब रहे और 1688 मत हासिल कर अपने प्रतिद्वंदी मानवेंद्र सिंह को 981 मतों के अंतर से हरा दिया। यह अंतर भाजपा से जीते प्रत्याशियों में सबसे अधिक है।

रीकाउंटिंग के बाद भी पीयूष जीते

इसी तरह वार्ड 38 से भाजपा के पीयूष मिश्रा के जीतने की संभावना काफी कम बताई जा रही थी। पीयूष ने अपनी छवि और पिछले पार्षद कार्यकाल के अनुभव से इस मिथक को झुठला दिया। उन्होंने 1485 मत प्राप्त कर अपने प्रतिद्वंदी कांग्रेस के राजा देवांगन को 29 मतों से हरा दिया।

पीयूष की जीत में एक और बड़ा टि्वस्ट यह आया कि उन्हें प्रमाणपत्र देने के लिए मंच पर बुलाया तो गया, लेकिन रिटर्निंग ऑफिसर ने रीकाउंटिंग की बात कहकर उनका प्रमाणपत्र रोक दिया। इसका पीयूष ने विरोध भी दर्ज कराया। इसके बाद भी पीयूष ने जीत दर्ज की।

वार्ड 26 से भाजपा के रिकेश सेन का हाल भी कुछ ऐसा ही रहा। शुरूआती राउंड में अपने प्रतिद्वंदी से पीछे चल रहे रिकेश के लिए कहा जा रहा है कि हर बार अलग-अलग वार्ड से चुनाव लड़कर जीतने वाले रिकेश इस बार हार रहे हैं। इसके बाद जैसे जैसे राउंड बढ़े रिकेश का ग्राफ बढ़ा और उन्होंने 1532 मत प्राप्त कर अपने प्रतिद्वंदी कांग्रेस के बलदाऊ पिपरिया को 141 मतों के अंतर से हरा दिया।

कांग्रेस के प्रत्याशियों ने दर्ज की अप्रत्याशित जीत

कांग्रेस के प्रत्याशियों की बात करें तो उन्होंने भिलाई नगर निगम में अप्रत्याशित जीत दर्ज की है। वार्ड 12 से कांग्रेस के उम्मीदवार गिरवर बंटी साहू ने 3488 मत प्राप्त कर कांग्रेस ही नहीं भिलाई नगर निगम में सबसे अधिक मतों से जीत हासिल की। उन्होंने प्रतिद्वंदी भाजपा के गोपाल साहू को 2137 मतों के अंतर से मात दी।

इसी तरह कांग्रेस के युवा उम्मीदवार भिलाई नगर देवेंद्र यादव के करीबी माने जाने वाले आदित्य सिंह ने वार्ड 7 से 2767 मत प्राप्त कर अपने प्रतिद्वंदी रमेश श्रीवास्तव को 1812 मतों से मात दी। वार्ड 59 से कांग्रेस प्रत्याशी एकांश बंछोर ने 2359 मत हासिल कर भाजपा के शिवप्रकाश शिब्बू को 1660 मतों से मात दी।

वार्ड 60 से नीरज पाल ने 1821 मत प्राप्त कर भाजपा की शैलबाला साहू को 1507 मतों से हराया। वहीं वार्ड 66 से कांग्रेस के लक्ष्मीपति राजू ने 2573 मत प्राप्त कर भाजपा के लल्लन यादव को 1519 मतों से मात दी है।

बसपा ने भी खोला खाता

निगम चुनाव में इस बार बसपा ने भी अपना खाता खोला है। यहां वार्ड 10 से दिनेश कुमार शिंदे बसपा के प्रत्याशी थे। इन्होंने 1060 मत हासिल कर अपने प्रतिद्वंदी भाजपा के दीपक भोंडेकर को 367 मतों के अंतर से हराया। इसके साथ ही यहां से 7 निर्दलीय प्रत्याशियों ने भी जीत हासिल की है।

रिसाली में इन उम्मीदवारों ने बनाया रिकॉर्ड

रिसाली नगर निगम में सबसे अधिक मतों के अंतर से जीत हासिल करने वाले प्रत्याशियों की बात करें तो यह रिकॉर्ड कांग्रेस के प्रत्याशी अनूप डे ने बनाया है। वार्ड 30 से अनूप डे ने 998 मत हासिल कर अपने निर्दलीय प्रतिद्वंदी चुम्मन देशमुख को 753 मतों से हराया।

इसके बाद वार्ड 35 से भाजपा के प्रत्याशी खिलेंद्र चंद्राकर ने 1448 मत प्राप्त कर अपनी प्रतिद्वंदी कांग्रेस की लक्ष्मी बाई को 734 मतों के अंतर से हराया। निर्दलीय में वार्ड 2 के प्रत्याशी टीकम साहू ने 977 वोट पाकर अपने प्रतिद्वंदी निर्दलीय विष्णुदत्त साहू को 630 मतों के अंतर से हराया है।

चरौदा में इन उम्मीदवारों ने बनाया रिकॉर्ड

भिलाई 3 चरौदा नगर निगम की बात करें तो यहां भी सबसे अधिक मतों के अंतर से कांग्रेस का ही प्रत्याशी जीता है। वार्ड 37 से कांग्रेस प्रत्याशी कृष्णा चंद्राकर ने 1252 मत पाकर अपनी प्रतिद्वंदी भाजपा की गायत्री यदु को 1080 मतों के अंतर से हराया।

भाजपा में वार्ड 12 के प्रत्याशी तुलसीराम ध्रुव ने 1329 मत हासिल कर अपने प्रतिद्वंदी कांग्रेस की उषा ध्रुव को सबसे अधिक 708 मतों के अंतर से हराया है। वहीं निर्दलीय प्रत्याशी में वार्ड 5 के प्रत्याशी मनोज कुमार ने 757 वोट पाकर अपने प्रतिद्वंदी बीजेपी के जय प्रकाश लहरे को 243 मतों के अंतर से हराया।

जामुल नगर पालिका का ये रहा हाल

जामुल नगर पालिका में कांग्रेस में वार्ड 12 से सुनीता चेन्नेवार ने 594 मत हासिल कर जीत दर्ज की। उन्होंने अपने प्रतिद्वंदी को सबसे अधिक 421 मतों के अंतर से हराया। इसी तरह भाजपा में वार्ड 20 की प्रत्याशी शांति टंडन ने 611 मतों से जीत दर्ज की। उन्होंने अपने प्रतिद्वंदी कांग्रेस की गीतेश्वरी चतुर्वेदी को 317 मतों के बड़े अंतर से हराया।

निर्दलीय की बात करें तो वार्ड 16 निर्दलीय प्रत्याशी चुम्मन वर्मा ने 594 मतों से जीत दर्ज की। उन्होंने निर्दलीय में सबसे अधिक 182 मतों के अंतर से कांग्रेस के प्रत्याशी राजेंद्र वर्मा को मात दी है।

खबरें और भी हैं...