विरोध:राज्य सरकार को नींद से जगाने के लिए किया प्रदर्शन : विजय

दुर्ग/भिलाई/ पाटन/अहिवारा6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना मरीजों को सुविधा देने में नाकाम रहने का आरोप लगाते हुए बीजेपी कार्यकर्ताओं ने शनिवार को एक दिवसीय धरना दिया। उन्होंने आरोप लगाया कि प्रदेश सरकार कोरोना की रोकथाम व इलाज के मामले में हर मोर्चे में फेल हुई है। आम आदमी तक मदद पहुंचाने में प्रदेश सरकार फेल हो गई है। इसे लेकर बीजेपी के पदाधिकारी, कार्यकर्ताओं व अन्य नेताओं ने अपने घर के बाहर सांकेतिक रूप से धरना देकर विरोध दर्ज कराया। इस अवसर पर सांसद विजय बघेल ने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस सरकार को नींद से जगाने के लिए बीजेपी कार्यकर्ताओं ने यह धरना दिया।

यदि सरकार नींद से जल्द नहीं जागी, तो आगे और भी उग्र प्रदर्शन बीजेपी के कार्यकर्ता करेंगे। साथ ही कह गया कि अभी कोरोना के मरीजों की संख्या कम नहीं हुई है। काफी सावधानी बरतने की जरूरत है। इसमें किसी भी तरह की लापरवाही जानलेवा साबित हो सकती है।

अत: सावधानी जरूरी है। विरोध प्रदर्शन के दौरान पूर्व मंत्री प्रेम प्रकाश पांडेय, रमशीला साहू, पूर्व मेयर चंद्रिका चंद्राकर, दुर्ग के जिलाध्यक्ष डॉ. एसके तमेर, भिलाई अध्यक्ष वीरेंद्र साहू, अहिवारा निकाय के अध्यक्ष नटवर ताम्रकार प्रमुख रूप से मौजूद रहे। दुर्ग में पार्टी कार्यालय व अन्य जगहों पर जमे दुर्ग में बीजेपी कार्यालय व कुछ प्रमुख सार्वजनिक जगहों पर धारा 144 के नियम का पालन करते हुए कार्यकर्ताओं ने धरना दिया। तिरंगा चौक पर जिला मंत्री मनोज मिश्रा ने मोर्चा संभाला। गया नगर क्षेत्र में युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष दिनेश देवांगन ने धरना दिया। पूर्व मेयर चंद्रिका चंद्राकर, अध्यक्ष डॉ. तमेर ने घर पर ही रहकर विरोध दर्ज कराया।

स्वास्थ्य सुविधाएं देने में फेल हो गई सरकार
संगठन के जिला महामंत्री नटवर ताम्रकार ने अहिवारा में मोर्चा संभाला। उन्होंने कहा कि पब्लिक को स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने में राज्य की सरकार फेल हो गई है। आम आदमी को इतनी परेशानी उठानी पड़ रही है, जिसकी कल्पना नहीं की जा सकती। पूर्व संसदीय सचिव लाभचंद बाफना, रविशंकर सिंह, नरेन्द्र यादव, ईश्वर शर्मा आदित मौजूद थे।

उतई, धमधा व पाटन में भी विरोध प्रदर्शन
जिले के उतई, धमधा, पाटन, अंडा व अन्य ग्रामीण क्षेत्रों में बीजेपी कार्यकर्ताओं ने घर के बाहर बैनर-पोस्टर लगाकर विरोध दर्ज कराया। राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। उतई में मंडल अध्यक्ष फत्तेलाल वर्मा, सोनू राजपूत, अशोक अग्रवाल आदि मौजूद रहे। पाटन में लोकमणि चंद्राकर के नेतृत्व में घर के बाहर कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किया। जिला पंचायत सदस्य हर्षा चन्द्राकर ने राज्य सरकार पर आरोप लगाए।

खबरें और भी हैं...