पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

भिलाई में डेंगू का डंक:हुडको में एक सस्पेक्टेड मरीज मिला, बीमार महिला की दो जांच रिपोर्ट आना बाकी; कुछ दिन पहले हैदराबाद से लौटा था परिवार

भिलाई20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जिला मलेरिया अधिकारी ने कहा कि पूरे क्षेत्र में निगम व स्वास्थ्य कर्मियों की टीम स्थिति को कंट्रोल कर रही है। फिलहाल अभी ओर मरीज नहीं मिले है। - Dainik Bhaskar
जिला मलेरिया अधिकारी ने कहा कि पूरे क्षेत्र में निगम व स्वास्थ्य कर्मियों की टीम स्थिति को कंट्रोल कर रही है। फिलहाल अभी ओर मरीज नहीं मिले है।

छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में डेंगू का एक सस्पेक्टेड मरीज हुडको क्षेत्र में मिला है। जिला मलेरिया अधिकारी डॉ.सीबीएस बंजारे ने बताया कि हुडको में रहने वाले परिवार में महिला की तबीयत खराब थी। वे 23 जून को हैदराबाद गए थे। वहां से 28 जून को वापस लौटें। 30 जून को उनको हल्का बुखार और उल्टी कमजोरी महसूस हुई। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराकर डेंगू की जांच कराई गई, तब डेंगू के संभावित की पुष्टि हुई है। एनएस-1 और एलाइजा टेस्ट कराया गया है। इसकी रिपोर्ट अभी आनी बाकी है। फिलहाल अभी जिले में डेंगू के एक भी सक्रिय मरीज नहीं है।

मरीज का प्लेटलेट घटा, स्थिति कंट्रोल
मरीज 5 जुलाई को प्लेटलेट 24 हजार हो गया था। तब तक दवा शुरू कर दी गई थी। अभी फिलहाल प्लेटलेट बढ़कर 29 हजार हो गया है। घर में मौजूद व अन्य तीन सदस्यों को जांच कराने को कहा गया है। इसके अलावा घर के आसपास नगर निगम ने मैलाथियान का छिड़काव और टेमीफॉस दवा भी डाली है। घर के आसपास के कूलर, टंकी, टायर,गमला व अन्य जगह जांच की गई है। लेकिन किसी प्रकार का मच्छर से संबंधित लार्वा नहीं मिला है।

भिलाई के हुडको व आसपास के क्षेत्र में स्वास्थ्य कर्मी लार्वा की पहचान कर रहे है।
भिलाई के हुडको व आसपास के क्षेत्र में स्वास्थ्य कर्मी लार्वा की पहचान कर रहे है।

क्षेत्र में फॉगिंग व लार्वा की तलाश
डेंगू के सस्पेक्टेड मरीज की खबर मिलते ही नगर निगम भिलाई की टीम मौके पर पहुंची और दवा का छिड़काव किया गया है। साथ ही घर के आसपास किसी जगह पानी इक्कठा है या लार्वा के स्रोत को भी तलाशा गया। लेकिन क्षेत्र में कहीं इक्कठा पानी व लार्वा नहीं मिला है। इसके बाद एहतियात के तौर पर दवा का छिड़काव किया गया है। साथ ही फॉगिंग भी कराई गई है।

सस्पेक्टेड डेंगू मरीज के घर व आसपास क्षेत्र में छिड़काव कराया जा रहा है।
सस्पेक्टेड डेंगू मरीज के घर व आसपास क्षेत्र में छिड़काव कराया जा रहा है।

इन बातों का रखें ध्यान
डेंगू का मच्छर ठहरे हुए पानी में पनपता है। इसलिए घरों में और आसपास के इलाके में पानी न जमा होने दें, कूलर में भरा पानी 2 से 3 दिन बाद जरूर बदल दें। घर में पोंछा लगाने वाले पानी में केरोसिन या फिनाइल डालकर नियमित पोंछा लगाएं। जब घर से बाहर निकले तो पूरी बांह के कपड़े पहने, शर्ट्स से परहेज करें। मच्छर गाढ़े रंग की तरफ आकर्षित होते हैं, इसलिए हल्के रंग के कपड़े पहनें।

खबरें और भी हैं...