पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Dent In 3 ATMs Of Same Company, First Card Swapping..then Opened Machine With Key, Withdrawn Money Before Transmission

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भिलाई में वारदात:एक ही कंपनी के 3 एटीएम में सेंध, पहले कार्ड स्वैपिंग फिर चाबी से मशीन खोला, ट्रांजेक्शन से पहले निकाल लिए पैसे

भिलाई2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
वारदात को अंजाम देते हुए कैमरे में कैद हुआ संदिग्ध। - Dainik Bhaskar
वारदात को अंजाम देते हुए कैमरे में कैद हुआ संदिग्ध।
  • दुर्ग-भिलाई और रायपुर में घटना को अंजाम, नए पैटर्न से पैसे निकालने का खेल

सितंबर के आखरी और अक्टूबर माह के पहले हफ्ते के बीच शहर के तीन एटीएम से दो बदमाशों ने 3.30 लाख रुपए निकाल लिए। इन घटनाओं ने पुलिस की नींद हराम कर दी है। बदमाशों ने मशीन के एक हिस्से को चाबी लगाकर खोला। पैसों के ट्रांजेक्शन के दौरान मशीन में आसानी से हाथ डालकर पैसे निकाल लिए। तीन एटीएम में इसी प्रकार से कैश निकाले गए। वे सभी एक ही कंपनी है। बैंक को उनके हेड ऑफिस से एटीएम से पैसे निकलने की जानकारी मिली। इसके बाद स्थानीय बैंक कर्मियों ने इसकी शिकायत थाने में की। ट्विनसिटी में पिछले दस दिन में चरोदा, केपीएस और स्मृति नगर स्थित एटीएम से इस प्रकार कैश निकालकर चोरी की घटना को अंजाम दिया गया। सभी घटनाएं सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई हैं। बावजूद आरोपी पुलिस गिरफ्त से बाहर है। घटना के तरीके से पुलिस ने आशंका जाहिर की है कि यूपी का एक गैंग इस तरह की घटनाओं को अंजाम दे रहा। रायपुर के अलावा कुछ अन्य जिलों में इस प्रकार के एटीएम में चोरी के मामले सामने आए हैं। रायपुर में इसी पैटर्न से तीन एटीएम से 4 लाख रुपए के कैश चोर उड़ा ले गए।
इन तीन एटीएम से 1 ही पैटर्न में निकाले पैसे : स्मृति नगर पुलिस ने केनरा बैंक के मैनेजर अजय साहू की शिकायत पर अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज किया है। बैंगलोर स्थित हेड ऑफिस से सूचना मिली कि जयहिंद चौक स्थित एटीएम से 20 हजार रुपए निकाल गए हैं। निजी बैंक के क्रेडिट कार्ड से दो ट्रांजेक्शन करके पैसे निकाले हैं। केपीएस स्कूल के समीप व चरोदा स्थित एटीएम से पैसे निकाले गए। केपीएस स्कूल के समीप एटीएम से ढाई लाख व चरोदा के पास एटीएम से 60 हजार निकाले लिए हैं।

पांच मिनट के अंदर दिया घटना को अंजाम
पुलिस को तीनों एटीएम के फुटेज देखने से पता चला है कि बदमाश वारदात करने के लिए सिर्फ पांच मिनट लगे हैं। अलग-अलग समय पर दो बदमाश एटीएम में घुसे। इसके बाद दो से पांच ट्रांजेक्शन करके पैसे निकाल लिए। पुलिस के मुताबिक फुटेज देखने से स्पष्ट हो गया है कि बदमाशों को एटीएम मशीन खोलने से लेकर ट्रांजेक्शन के पहले पैसे निकालने की पूरी ट्रेनिंग हैं।

चाबी से एटीएम खोलकर निकालने पैसे : फुटेज देखने से बदमाशों की टेक्निक का पता चला है। बदमाशों ने पहले मशीन में कार्ड स्वैप किया। इसके बाद वह लगातार की पैड को प्रेस करते रहे। चाबी से एटीएम के उपरी हिस्से को खोल लिया। ट्रांजेक्शन पूरा होने से पहले खुले हुए हिस्से में हाथ डालकर पैसा निकाल लिया। इसके बाद एटीएम को ऑफ कर दिया।

एटीएम कार्ड क्लोन बनाकर स्वैप और पेचकस फंसाकर पैसे निकाला : सुपेला पुलिस ने 17 सिंतबर की रात कार्ड क्लोन बनाकर एटीएम से पैसा निकालने वाले बिहार की गैंग के रविशंकर पांडेय को को पकड़कर महाराष्ट्र पुलिस को सौंपा था। आरोपी ने एक हफ्ते में कार्ड स्वैप करने के बाद मशीन के उपरी हिस्से में पेचकस फंसाकर 6 एटीएम से 14 लाख रुपए निकाल लिए थे।

पूर्व कर्मचारियों के वारदात में शामिल होने की आशंका
पुलिस के मुताबिक फुटेज देखने से पता चल रहा है कि बदमाशों को एटीएम में कार्ड स्वैंपिंग से लेकर पैसे निकलने तक की पूरी जानकारी थी। इससे यह अजांदा लगाया जा रहा है कि जिन लोगों ने वारदात को अंजाम दिया है वे एटीएम में पैसा अपलोड और सुधार कार्य करने में माहिर है। यह भी संभव है कि वह पहले कंपनी के साथ मिलकर इस तरह काम कर चुके हैं। हालही में इस तरह का गिरोह रायपुर जेल से छूटा है। आशंका है कि रिहा होने के बाद गैंग सक्रिय हो गया है।

फुटेज के आधार पर जांच जारी, पकड़े जाएंगे आरोपी
"एक मामले की शिकायत हुई है, जिसमें केस दर्ज कर लिया गया है। अन्य मामलों को लेकर जानकारी ली जा रही है। फुटेज के आधार पर बदमाशों की तलाश में एक टीम लगाई गई है। जल्द ही आरोपी पुलिस के गिरफ्त में होंगे।"
-रोहित झा, एएसपी सिटी दुर्ग

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कोई लाभदायक यात्रा संपन्न हो सकती है। अत्यधिक व्यस्तता के कारण घर पर तो समय व्यतीत नहीं कर पाएंगे, परंतु अपने बहुत से महत्वपूर्ण काम निपटाने में सफल होंगे। कोई भूमि संबंधी लाभ भी होने के य...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser