नई उपलब्धि हासिल:हाट मेटल के उत्पादन में बर्नपुर व राउरकेला से आगे निकला फर्नेस 8, 7-8 मिलियन टन का सफर 153 दिनों में किया तय

भिलाई2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फर्नेस 8 के रिकॉर्ड पर डायरेक्टर इंचार्ज ने उत्साह बढ़ाया। - Dainik Bhaskar
फर्नेस 8 के रिकॉर्ड पर डायरेक्टर इंचार्ज ने उत्साह बढ़ाया।

बीएसपी के सबसे बड़े ब्लास्ट फर्नेस-8 महामाया ने 26 सितंबर को 8 मिलियन टन संचयी उत्पादन के मील के पत्थर को पार एक नई उपलब्धि हासिल की। इसके बाद उसी दौर में शुरू हुए राउरकेला और बर्नपुर के फर्नेस उत्पादन के मामले में पीछे हो गए हैं। इस उपलब्धि पर डायरेक्टर इंचार्ज अनिर्बान दासगुप्ता ने केक काटा और कर्मिकों को प्रेरित किया। रक्तदान भी किया गया।

सेल ने 5 इकाइयों में एक्सपांशन प्रोजेक्ट के तहत 3 इकाइयों में 2.8 मिलियन टन क्षमता के ब्लास्ट फर्नेस स्थापित किए। इनमें बीएसपी, राउरकेला और बर्नपुर प्लांट शामिल है। बीएसपी का फर्नेस 8 बाकी दो इकाइयों के फर्नेस के मुकाबले उत्पादन में तेजी से आगे निकल गया है। इस दौरान वह उत्पादन के कई क्षेत्र में रिकार्ड भी स्थापित भी किए। 26 सितंबर को 8 मिलियन टन हाट मेटल का उत्पादन का रिकार्ड बनाने के बाद डायरेक्टर इंचार्ज दासगुप्ता ने टीम से देश के श्रेष्ठतम इस्पात संयंत्रों के साथ अपने प्रदर्शन को बेंचमार्क करने का आग्रह किया। कहा कि यह समय की मांग है कि हम कमर कस लें।

ब्लास्ट फर्नेस 8 की टीम है सर्वश्रेष्ठ: ईडी

कार्यपालक निदेशक (वर्क्स) अंजनी कुमार ने भी फर्नेस-8 बिरादरी से कहा कि फर्नेस की टीम सर्वश्रेष्ठ है। उन्होंने कहा कि और बेहतर करने के लिए हर संभव प्रयास करें। विशिष्ट अतिथि के रूप में पूर्व मुख्य अधीक्षक (ब्लास्ट फर्नेस) वीएस पाराशर जिन्होंने 1962 से 1994 तक बीएसपी की सेवा की उपस्थित थे। उन्होंने अपने कार्यकाल के दौरान काम करने के तरीके को याद किया और कहा कि उन्हें देश में पहली बेल लेस टॉप फर्नेस संचालित करने वाले सदस्यों में से एक होने पर गर्व है।

वायर रॉड मिल ने भी बनाया नया रिकॉर्ड

वायर रॉड मिल ने 27 सितंबर को 1573 टन का नया रिकॉर्ड बनाया है, जो 25 सितंबर को कुछ दिन पहले बनाए गए 1500 टन के पिछले सर्वश्रेष्ठ रिकॉर्ड को पार कर बनाया गया है। वायर रॉड मिल में रोल किया जा रहा उत्पाद आई एस-7877 ग्रेड 2 की प्लेन वायर रॉड है। उत्पाद का यह ग्रेड आम तौर पर तार की जाली बनाने प्रयोग किया जाता है। मिल ने 25 सितंबर को ए शिफ्ट में 560 कॉइल रोलिंग कर नया शिफ्ट रिकॉर्ड भी बनाया, जो 24 सितंबर की बी शिफ्ट के रिकॉर्ड से आगे है।

खबरें और भी हैं...