पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जांच में खुलासा:उत्तर प्रदेश, बिहार और झारखंड से शहर में पहुंच रहे हैं अवैध हथियार

भिलाई20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • पिछले दिनों पकड़े गए आरोपियों से हुई पूछताछ

यूपी, बिहार और झारखंड से ट्विनसिटी में अवैध हथियारों की तस्करी हो रही है। नेवई में हुए गोलीकांड के बाद इसका खुलासा हुआ है। शहर में हथियारों की तस्करी के लिए कई एजेंट भी हैं। जिनके माध्यम से बदमाश कंट्री और फॉरेन मेड पिस्टल, मैगजीन और कारतूस खरीद रहे हैं।

पुलिस को सोशल मीडिया मीडिया पर बदमाश और एजेंट के बीच हुई चैटिंग मिली है। इसके आधार पर पुलिस हथियार खरीदने वाले बाकी बदमाशों की तलाश कर रही है। पुलिस को शंका है कि शहर में कई बदमाशों के पास हथियार मौजूद है। इसकी पुष्टि हाल में पकड़े गए मथुरा नाम से बदमाश ने भी की है। उसने कई बदमाशों के नाम भी बताए हैं। पिछले पांच वर्षों में पुलिस करीब 18 पिस्टल जब्त कर चुकी है। इसके साथ मैगजीन और 84 कारतूस जब्त कर चुकी है।

यूपी बिहार और झारखंड से आसानी से मिल रहे है हथियार

पुलिस के मुताबिक बदमाशों को यूपी, बिहार और झारखंड से आसानी से हथियार मिल रहे है। खुर्सीपार के बदमाश मथुरा ने इस बात का खुलासा किया था। उसने बताया था कि वह जेल से छूटने के बाद यूपी गया था,जहां से उसे आसानी से पिस्टल मिल गई।

सोशल मीडिया पर हथियार खरीदने का सौदा 7 से 25 हजार रुपए में

पुलिस को अवैध हथियार खरीदने बेचने वाले एजेंट और बदमाशों के बीच हुई बातचीत के साक्ष्य मिले हैं। सोशल मीडिया पर बदमाश हथियार खरीदने से लेकर डिलेवरी तक की चर्चा कर रहे हैं। लिखा हुआ है कि हथियार झारखंड और यूपी से आएगा। देसी कट्टे का रेट 7 तो पिस्टल और रिवाल्वर का रेट 25 हजार तक बताया गया है। बहरहाल मामले में पुलिस की जांच जारी है।

पुलिस पहले भी जब्त कर चुकी है हथियार

  • 25 फरवरी 2016: पारख ज्वेलर्स संचालक से लूट का मामला में एक कट्टा जब्त किया।
  • 2 अगस्त 2017: पुलिस ने देशी रिवाल्वर और जिन्दा कारतूस के कारोबार करने वाले 7 आरोपी को पकड़ा। आरोपियों के पास से 2 रिवाल्वर, 3 देशी कट्टा ,एक कटार सहित 37 जिन्दा कारतूस मिले।
  • मार्च 14 2019: अन्तर्राज्यीय गिरोह के 3 सदस्य गिरफ्तार,लुटेरों के पास से 2.20 लाख जप्त, 1 पिस्टल, 1 देसी कट्टा सहित 9 जिंदा कारतूस बरामद किया।
  • 26 दिसम्बर 2019: बोरिया गेट के पास कट्टा बेचने ग्राहक की तलाश रहे बदमाश को पकड़ा। उससे 2 देशी कट्टा बरामद किया।
  • 26 दिसंबर 2019 : पुलिस ने आकाशगंगा सब्जी मार्केट से बदमाश को पकडा। उससे पिस्टल और कारतूस बरामद किया गया।
  • 17 मार्च 2017: 4 आरोपियों के साथ 3 पिस्टल,3 रिवाल्वर सहित 12 जिंदा कारतूस बरामद किया।
  • 3 दिसम्बर 2018 : आरोपियों के पास से देशी कट्टा समेत 25 जिंदा कारतूस बरामद।
  • 28 अगस्त 2016 : आरोपी से पुलिस ने कट्टा और चाकू बरामद किया।

पुलिस ने फिलहाल दो कार्रवाई की, इससे बदमाशों से हथियार और कारतूस जब्त हुए। सोशल मीडिया पर एजेंट और बदमाशों के बीच हुई बातचीत के सबूत मिले हैं। जिसके आधार पुलिस तस्कर, एजेंट और हथियार खरीदने वालों की तलाश कर रही है। संजय ध्रुव, एएसपी सिटी दुर्ग

खबरें और भी हैं...