• Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Bhilai
  • In Bhilai, The Corporation Cried Over The Creaking Cleanliness System, While The BJP Councilor Did A Unique Performance By Polishing The Shoes.

तालाबों की सफाई के लिए जूता पॉलिश:भिलाई में पूर्व पार्षद सड़क पर बैठे, रुपए एकत्र कर निगम में किया जमा; अफसरों ने कहा था बजट नहीं

भिलाईएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रदर्शन के दौरान जूता पॉलिश करते पूर्व पार्षद। - Dainik Bhaskar
प्रदर्शन के दौरान जूता पॉलिश करते पूर्व पार्षद।

भिलाई के तालाबों की सफाई व्यवस्था को लेकर भाजपा नेता और पूर्व पार्षद पीयूष मिश्रा ने लोगों के जूते-चप्पल पॉलिश कर विरोध प्रदर्शन किया। बुधवार दोपहर अपने कार्यकर्ताओं के साथ वह नगर निगम भिलाई के वैशाली नगर जोन कार्यालय के सामने विरोध दर्ज कराने बैठे। इस दौरान जो भी लोग वहां आ रहे थे प्रदर्शनकारी उनके जूते पॉलिश करके और गाड़ी को पोछ कर चंदा मांग रहे थे। इसके बाद जो भी चंदा इकट्ठा हुआ उसे ले जाकर उन्होंने जोन कार्यालय में जमा किया और कहा कि यह शहर और तालाबों की सफाई व्यवस्था के लिए आमजन का सहयोग है।

पीयुष मिश्रा का कहना है कि छठ पर्व नजदीक है। तलाबों की अब तक साफ सफाई नहीं हुई। कहने पर निगम बजट न होने की दुहाई दे रहा है। इसलिए आंखें मूंदे बैठे निगम अधिकारियों को जगाने के लिए इस तरह का प्रदर्शन करना पड़ रहा है। कहा कि ठेकेदार ने वार्ड में काम करने वाले कर्मचारियों को फावड़ा, बेलचा हेड झाली, झाड़ू, सीवरेज सफाई के लिए राड ब्लीचिंग पावडर व सफाई के कार्य में उपयोग होने वाले अन्य संसाधन नहीं दिए हैं। ऐसे में वार्ड में साफ सफाई व्यवस्था दुरुस्त कर पाना संभव नहीं है।

नहीं जागा निगम तो अधिकारियों के घरों के सामने होगा प्रदर्शन

प्रदर्शनकारियों का कहना है कि यदि सहयोग राशि देने के बाद भी निगम प्रशासन नहीं जागा। समय पर तालाबों की सफाई, रंग रोगन प्रकाश व्यवस्था व सफाई व्यवस्था का कार्य नहीं किया गया तो सभी लोग नगर निगम व सभी जोन कार्यालय सहित नगर निगम के आयुक्त, स्वास्थ्य अधिकारी व जोन अधिकारियों के घऱों के सामने इसी तरह शांतिपूर्ण तरीके से धरना देकर उन्हें शहर के लिए जगाने का कार्य करेंगे।

सफाई सुपरवाइजर दिनभर रहता है नशे में धुत

पूर्व पार्षद का आरोप है कि हाउसिंग बोर्ड वार्ड में कार्यरत पुराने सुपरवाइज़र को निगम ने हटा दिया है। उसकी जगह नया सुपरवाइज़र रखा गया है। नया सुपरवाइज़र सुबह से ही नशे की हालत में रहता है। उसे क्षेत्र व वहां के सफाई कार्य की कोई जानकारी नहीं है। इससे वार्ड गंदगी से अटा पड़ा है। इसकी शिकायत नगर निगम के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी और जोन आयुक्त व जोन के अन्य अधिकारियों को दी गई, लेकिन कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है।

कार्यालय अवधि में दे पाएंगे जानकारी

नगर निगम आयुक्त प्रकाश सर्वे ने कहा, निगम के पास सफाई व्यवस्था के लिए बजट है या नहीं अभी मैं कोई जवाब नहीं दे पाऊंगा। आप कार्यालयीन समय पर कॉल करिए तो मैं इसके बारे में कुछ बता पाऊंगा।