पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

वेज रिवीजन:माइंस में 1 घंटे तक ठप रहा आयरन ओर और लाइन स्टोन का उत्पादन

भिलाई15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोक ओवन में कर्मियों ने सीजीएम दफ्तर के सामने किया प्रदर्शन
  • दिया संदेश : कर्मी अधिकार के लिए हड़ताल करना जानते

वेज रिवीजन जल्द करने की मांग को लेकर मंगलवार को बीएसपी के कोक ओवन में सीटू के साथ कर्मियों ने एक घंटे तक सीजीएम आफिस के सामने प्रदर्शन किया। वहीं इसी मांग को लेकर दल्ली राजहरा सहित तीनों माइंस में तीन घंटे तक कर्मियों के टूल डाउन से उत्पादन ठप रहा।

कोक ओवन में प्रदर्शन के बाद सीटू की ओर से विभागीय प्रबंधन को ज्ञापन सौंपा गया। इसमें उच्च प्रबंधन को यह संदेश देने कहा गया कि यदि कोक ओवन के कर्मी कठिन परिस्थितियों में काम करके कीर्तिमान रचना जानते हैं तो वे अपने अधिकार को हासिल करने के लिए हड़ताल करना भी जानते हैं। उल्लेखनीय है कि 31 मार्च को कोक ओवन विभाग ने समाप्त हुए वित्त वर्ष के अंतिम दिन में 803 ओवन पुशिंग हासिल कर कीर्तिमान रचा है। इसके अलावा उप-उत्पाद की बिक्री से 40 करोड रुपए से अधिक की अतिरिक्त राशि अर्जित की। लेकिन इसके बाद भी कर्मियों का हितों से संबंधित वेजरिवीजन समेत अन्य मुद्दों पर प्रबंधन लगातार कोई कारगार उठाने में देरी कर रहा है। इससे कर्मियों में नाराजगी है।

दल्ली, हिर्री और नंदनी माइंस में 6 से 9 बजे तक टूलडाउन
/जल्द वेज रिवीजन की मांग को लेकर संयुक्त यूनियन (एटक, सीटू, इंटक और बीएमएस) ने दल्ली राजहरा, नंदनी और हिर्री माइंस में सुबह 6 से 9 बजे तक टूल डाउन किया। इस वजह से तीनों माइंस में उत्पादन ठप रहा। बाद सीजीएम राजहरा को ज्ञापन सौंपा गया। जिसमे सेल कर्मियों की लंबित वेतन पुनरीक्षण को जल्द पूर्ण करने की मांग की गई। यूनियन प्रतिनिधियों ने कहा कि डीपीई के दिशा निर्देश का हवाला देकर सेल प्रबंधन द्वारा वेज रिवीजन को अब तक रोक कर रखा गया था। सेल कर्मियों व श्रम संगठनों ने भी कंपनी की स्थिति को ध्यान में रखते हुए प्रबंधन के निर्णय का समर्थन किया था और कोरोना काल जैसे कठिन परिस्थिति में भी कर्मियों ने उत्पादन और उत्पादकता को बनाए रखा। ज्ञापन सौंपे जाने के दौरान संयुक्त खदान मजदूर संघ के सचिव कंवलजीत मान, कार्यकारी अध्यक्ष दानसिंह चंद्राकर, तोरण लाल साहू, इंटक से प्रदेश सचिव अभयसिंह, अध्यक्ष तिलक मानकर, बीएमएस से एमपी सिंह, मुश्ताक अहमद, लखन चौधरी, सीटू अध्यक्ष प्रकाश क्षत्रिय,सचिव पुरुषोत्तम सिमैय्या आदि उपस्थित रहे।

प्रबंधन की उदासीनता से कर्मियों में बढ़ रहा आक्रोश
प्रबंधन द्वारा मुद्दों को लंबित रखने से कर्मियों में असंतोष बढ़ता जा रहा है। वेज रिवीजन 52 महीने से लंबित है। पदोन्नति दिए जाने की नीति को 2003 से लागू करने के मामले का भी निराकरण नहीं हुआ। पदनाम व एचआरए का मामला भी अभी तक लंबित है। प्रबंधन की ओर से उस पर कोई गंभीर प्रयास नहीं किया गया। पिछले एनजेसीएस वेतन समझौता का उल्लंघन करते हुए पेंशन में प्रबंधन के अंशदान में एकतरफा कटौती की गई।

प्रबंधन की हठधर्मिता से फैल रहा आक्रोश
यूनियन प्रतिनिधियों का कहना है कि अब कंपनी की वित्तीय स्थिति अच्छी है। ऐसे में कर्मियों का 52 माह से लंबित वेतन पुनरीक्षण में सेल प्रबंधन की हठधर्मिता एक महत्वपूर्ण कारण है। प्रबंधन की हठधर्मिता से कर्मियों के बीच आक्रोश फैल रहा है। इसका विपरीत प्रभाव खदान के उत्पादन और उत्पादकता पर निश्चित रूप से पड़ेगा।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने के लिए प्रयासरत रहेंगे। घर में किसी नवीन वस्तु की खरीदारी भी संभव है। किसी संबंधी की परेशानी में उसकी सहायता करना आपको खुशी प्रदान करेगा। नेगेटिव- नक...

    और पढ़ें