फेरी लगाकर बेचते थे प्रतिबंधित दवाएं:दुर्ग पुलिस ने 3 को पकड़ा, सरगना भाग निकला; धमतरी से लाते थे बेचने के लिए, साढ़े 4 लाख से ज्यादा नशीली गोलियां बरामद

भिलाई2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस ने बड़ी मात्रा में प्रतिबंधित टेबलेट और सीरप की बोतलों को जब्त किया है। - Dainik Bhaskar
पुलिस ने बड़ी मात्रा में प्रतिबंधित टेबलेट और सीरप की बोतलों को जब्त किया है।

छत्तीसगढ़ की दुर्ग पुलिस ने नशीली दवाई की तस्करी करने वाले गैंग का पर्दाफाश कर 3 लोगों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों से अलग-अलग कंपनियों की प्रतिबंधित नशीली टेबलेट, कोरेक्स कफ सिरप और नशीली दवाइयां जब्त की हैं। हालांकि मुख्य सरगना पुलिस को चकमा देकर अभी फरार है। आरोपी दुर्ग शहर में बाइक से फेरी लगाकर बेचने का काम करते थे।

एडिशनल एसपी संजय ध्रुव ने बताया कि पूछताछ में पता चला है कि आरोपी सुरेन्द्र सिंह उर्फ अप्पू (30) अपने साथी सागर पांडेय (28) और श्याम सेन (48) के साथ धमतरी से प्रतिबंधित दवाएं खरीदकर लाता था। इसके बाद एजेंटों के माध्यम से उसे खपा रहे थे। आरोपियों के कब्जे से नशाली टेबलेट 4 लाख 61 हजार 724 एवं 10 कार्टून में कोरेक्स सीरप 1185 शीशी, बाइक, नगदी सहित 20 लाख 52 हजार का माल जब्त किया गया है।

मेडिकल संचालक पर हो चुकी है कार्रवाई

इसके पहले नेवई, खुर्सीपार और सुपेला पुलिस मेडिकल स्टोर संचालकों को भी प्रतिबंधित दवाएं बेचने के मामले में पकड़े जा चुके है। तीनों मेडिकल स्टोर और अपने घर से प्रतिबंधित दवाएं बेचते थे। पुलिस ने बड़ी मात्रा में प्रतिबंधित टेबलेट जब्त किए गए थे। जिसके बाद पता चला था कि मेडिकल स्टोर संचालकों को आसानी से प्रतिबंधित दवाएं उपलब्ध हो जाती है।

खबरें और भी हैं...