भिलाई के निष्कल बनेंगे सेना में अफसर:बचपन से ही देखते थे आर्मी का बड़ा ऑफिसर बनने का सपना, अब NDA में हुआ सिलेक्शन

भिलाई5 महीने पहले

भिलाई सेक्टर 8 के रहने वाले निष्कल द्विवेदी ने NDA की परीक्षा पास करके शहर और राज्य का नाम रोशन किया है। निष्कल के दिल में देशभक्ति का जुनून बचपन से ही था और वह सभी से कहते थे कि बड़े होकर इंडियन आर्मी का बड़ा अफसर बनना है। जिससे वह देश की सेवा कर सकें। निष्कल का सपना अब पूरा हो गया है। एनडीए में सिलेक्ट होने के बाद वह तीन साल की ट्रेनिंग के लिए गए हैं। इसके बाद उन्हें आर्मी ऑफिसर के रूप में पोस्टिंग मिलेगी। बेटे का सपना पूरा होने से उनके माता पिता और परिवार के अन्य सदस्यों में काफी खुशी है।

कहते हैं कि जब कोई कुछ ठान ले और कड़ी मेहनत, लगन, संकल्प के साथ लक्ष्य हासिल करने में लग जाए तो मंजिल खुद ब खुद उसके पास आ जाती है। निष्कल ने आज इसे सच साबित करके दिखाया है। अपनी कड़ी मेहनत से उन्होंने एनडीए यानि नेशनल डिफेंस एकेडमी की परीक्षा पास कर आर्मी में बड़ा अफसर बनने का अपना पूरा कर लिया है।

निष्कल एक पढ़े लिखे परिवार से हैं। उनेक पिता नागेंद्र द्विवेदी बांग्लादेश में हीरो मोटो कॉप में सीईओ और माता सुमन द्विवेदी कॉलेज में लेक्चरर हैं। निष्कल ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा ज्ञान गंगा स्कूल रायपुर और क्लास 3 से आगे की पढ़ाई जयपुर से की। 8वीं के बाद राष्ट्रीय मिलिट्री कॉलेज देहरादून में एडमिशन लिया और वहां से पास आउट होने के बाद एनडीए की परीक्षा दी। इसमें उनका ऑल इंडिया रैंकिंग में 39वां रैक आया। अब वे एनडीए एकेडमी खड़कवासला पुणे में जैंटल मैन कैडेट्स के रूप में अपनी ट्रेनिंग पूरी करेंगे।

दोस्त के पिता से मिली प्रेरणा
निष्कल बचपन से देशभक्ति की फिल्में देखते थे और फिल्म के हीरो की तरह ही आर्मी का बड़ा अफसर बनकर देश का सच्चा हीरो बनना चाहते थे। आर्मी में जाने का सही रास्ता उसके दोस्त के पिता ने दिखाया जो कि खुद आर्मी में बड़े अफसर थे। उनके मार्गदर्शन पर ही उसने राष्ट्रीय इंडियन मिलिट्री कॉलेज देहरादुन में एडमिशन के लिए तैयारी की और वहां सिलेक्ट भी हुए। तब छत्तीसगढ़ के लिए यहां मात्र 1 सीट हुआ करती थी। यहां निष्कल ने इंटर की पढ़ाई पूरी की।

खबरें और भी हैं...