पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कोरोना से डर ही नहीं:कंटेनमेंट जोन में खुल गई दुकानें, घर के बाहर लगी रेलिंग तक हटा दिए

भिलाईएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना मरीज मिलने के बाद मरीज के घर व नजदीकी इलाके को ही कंटेनमेंट जोन बनाया है। इसका कड़ाई से पालन भी कराना है। कलेक्टर सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे तक यह बोल चुके हैं कि कंटेनमेंट जोन में कोई चूक नहीं होनी चाहिए। मगर कलेक्टर की बातों को भिलाई और चरोदा निगम के अफसर हल्के में ले रहे हें। तभी तो कंटेनमेंट जोन में मॉनीटरिंग करने जा नहीं रहे। यह तक नहीं देख रहे हैं कि वहां रेलिंग लगी है कि नहीं? जोन में कोई दुकान तो नहीं खुल गई? भास्कर के फोटो जर्नलिस्ट की पड़ताल में इसका खुलासा हुआ।

ये तस्वीर भिलाई-3 चरोदा की है। भिलाई-3 के हाइवे किनारे स्थित घर में कोरोना मरीज मिलने के बाद कंटेनमेंट जोन किया गया। बकायदा दोनों तरफ से रेलिंग भी चरोदा निगम की ओर से लगाई गई। मगर विडंबना ये है कि कंटेनमेंट जोन के नियमों का पालन यहां नहीं हो रहा है। रेलिंग के बीच में यानि कि कंटेनमेंट जोन में ही दुकानें खुल गई है। जबकि यह खतरनाक भी हो सकता है। कम्युनिटी स्प्रेड के हालात इन्हीं वजह से बन सकते हैं।

कोरोना संक्रमित के घर को सील करने निगम ने रेलिंग लगाई, उसे तक हटा दिया गया

तस्वीर खुर्सीपार इलाके की है। इस इलाके में लगातार मरीज मिल रहे हैं। हालही में कोरोना संक्रमित मिलने के बाद उस घर को सील करने रेलिंग लगाई गई। अब वह रेलिंग वहीं पर दीवार में रखी हुई है। लोग बेधड़क आना-जाना कर रहे हैं।

बीएसएफ का क्वारेंटाइन सेंटर से-6 से दुर्ग किया शिफ्ट, अब कंटेनमेंट फ्री जोन हुआ

से-6 से बीएसएफ का क्वारेंटाइन सेंटर हटा दिया गया है। दुर्ग के आदिवासी विकास विभाग के हॉस्टल में शिफ्ट किया गया है। लोगों की मांग पर प्रशासन ने इसे शिफ्ट किया। अब इलाके को कंटेनमेंट फ्री जोन घोषित किया है। रेलिंग भी हटा लिए।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज घर से संबंधित कार्यों को संपन्न करने में व्यस्तता बनी रहेगी। किसी विशेष व्यक्ति का सानिध्य प्राप्त हुआ। जिससे आपकी विचारधारा में महत्वपूर्ण परिवर्तन होगा। भाइयों के साथ चला आ रहा संपत्ति य...

और पढ़ें