• Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Bhilai
  • State Youth Congress Secretary Lodged A Complaint With The Police, Alleging That Rs 11 Lakh Was Not Returned, There Was A Time When Shahid And Amit Jain Had A Close Friendship, Bhilai, Chhattisgarh,

यूथ कांग्रेस राष्ट्रीय सचिव पर एक और फ्रॉड केस:प्रदेश युवा कांग्रेस सचिव अमित जैन ने 11 लाख रुपए वापस नहीं करने का लगाया आरोप; कभी गहरे दोस्त हुआ करते थे दोनों

भिलाई4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
यूथ कांग्रेस प्रदेश सचिव अमित जैन ने शिकायत में बताया है कि साल 2016 में शाहिद ने व्यापारिक और व्यक्तिगत काम के लिए उनसे रुपए मांगे थे। - Dainik Bhaskar
यूथ कांग्रेस प्रदेश सचिव अमित जैन ने शिकायत में बताया है कि साल 2016 में शाहिद ने व्यापारिक और व्यक्तिगत काम के लिए उनसे रुपए मांगे थे।

छत्तीसगढ़ के भिलाई में युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव मोहम्मद शाहिद की मुश्किलें बढ़ने लगी हैं। नौकरी के नाम पर फ्रॉड केस के बाद अब उनके ही दोस्त ने 11 लाख रुपए की धोखाधड़ी का आरोप लगाया है। इसको लेकर युवक कांग्रेस के ही प्रदेश सचिव अमित जैन ने कोतवाली थाना सेक्टर-6 में शिकायत दर्ज कराई है। खास बात यह है कि एक समय था, जब शाहिद और अमित जैन गहरे दोस्त हुआ करते थे।

दूसरे से कर्ज लेकर दिए थे रुपए, अब लौटा नहीं रहे

यूथ कांग्रेस प्रदेश सचिव अमित जैन ने शिकायत में बताया है कि, उनके और मोहम्मद शाहिद के 10 साल से व्यक्तिगत व राजनीतिक संबंध रहे हैं। साल 2016 में शाहिद ने व्यापारिक और व्यक्तिगत काम के लिए उनसे रुपए मांगे थे। दोस्ती का भरोसा कर दूसरों से कर्ज लेकर और कुछ सामान गिरवी रखकर उन्होंने सेक्टर-2 सड़क-23 के घर के पास 11 लाख रुपए मोहम्मद शाहिद को दिए थे।

संगठन को जानकारी दी, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई

इसके बाद से जब भी उनसे रुपए मांगता तो मोहम्मद शाहिद कुछ न कुछ बहाना बना देते। अब डेढ़ साल हो जाने के बाद भी रुपए वापस नहीं मिलने पर धोखाधड़ी का अहसास हुआ। इस पर उन्होंने 29 सितंबर 2018 को संगठन को पूरी जानकारी मेल के माध्यम से दी थी। इस पर भी अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

चार सालों से मानसिक और आर्थिक रूप से परेशान

पिछले चार सालों से रुपए न मिलने के कारण मैं मानसिक और आर्थिक रूप से परेशान हो चुका हूं। कोरोना के कारण लॉकडाउन की स्थिति निर्मित हुई। जिससे मेरे आर्थिक स्थिति बहुत ज्यादा खराब हो चुकी है। शाहिद के ऊपर आवश्यक कार्रवाई कर मेरे रुपए वापस दिलाए जाएं।

इस मामले में शाहिद पर दर्ज हो चुकी है FIR

इससे पहले शाहिद पर नौकरी के लिए फ्रॉड के आरोप में भी एक FIR दर्ज हो चुकी है। भिलाई के खुर्सीपार निवासी अश्वनी कुमार कौशल और संतोषी पारा कैंप भूपेन्द्र कुमार देवांगन ने आरोप लगाया है कि कांग्रेस नेता मोहम्मद शाहिद और जुल्फिकार ने नौकरी लगाने के नाम पर साल 2016 में 5.35 लाख रुपए लिए थे। बताया गया था कि सीजी व्यापमं द्वारा छात्रावास अधीक्षक के पद पर नौकरी लगेगी। चार साल बीत जाने के बाद भी नौकरी नहीं लगी और न रुपए लौटा रहे।

खबरें और भी हैं...