पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हत्या की आशंका:तीन दिन से लापता बीएसपी कर्मी का शव प्लांट के एसमएस-2 में 30 फीट की ऊंचाई वाले हिस्से में मिला

भिलाई4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
घटना की जानकारी के बाद पुलिस की टीम बीएसपी के एसएमएस-2 पहुंची, जहां मौजूद कर्मियों से पूछताछ की गई। - Dainik Bhaskar
घटना की जानकारी के बाद पुलिस की टीम बीएसपी के एसएमएस-2 पहुंची, जहां मौजूद कर्मियों से पूछताछ की गई।
  • सोने की चेन, तीन अंगुठी और ब्रेसलेट भी गायब हुुए
  • एक दिन पहले रहस्यमय ढंग से गायब हो गया था मृतक जगतराम

छावनी थाना क्षेत्र के मदर टेरेसा नगर निवासी 53 वर्षीय बीएसपी कर्मी जगतराम उइके का शव बुधवार की शाम संदिग्ध परिस्थितियों में बीएसपी के अंदर मिला। शव तीन दिन पुराना बताया जा रहा है। पुलिस को शंका है कि हत्या करके उसके शव को प्लांट के अंदर एसएमएस 2 के पास 30 फीट ऊंचाई पर बने सीसी 6 में फेंक दिया गया था। कमरे में भाप और गर्मी के कारण शव झुलस गया।

घटना के बाद फॉरेंसिक की टीम भी जांच के लिए पहुंची। सीसीटीवी कैमरे के फुटेज से पता चला है कि जगत राम सोमवार को शाम 4.13 बजे पर अपनी कार से एसएमएस 2 के पास पान ठेला पहुंचा था। यहां पर अपने परिचित वेंकट से मिलने के बाद से वह गायब था। शाम 7 बजे तक घर नहीं लौटने पर बेटी ने फोन पर संपर्क करने की कोशिश की। रात 11.30 बजे तक परिजन संपर्क करते रहे। फिर पुलिस को खबर दी।

शादी के लिए लड़की देखकर सीधे प्लांट पहुंचा, फिर घर नहीं लौटा

बीएसपीकर्मी के बेटे ऋषभ ने बताया कि सोमवार को वह और बड़ी बहन पिता के साथ उनकी शादी के लिए लड़की देखने गए थे। इसके बाद शाम करीब 3 बजे पिता ने उन्हें घर छोड़ दिया था। इसके बाद पिता काम से जाने का बोलकर घर से निकल गए। पुलिस ने जांच की तो पता चला कि बीएसपी कर्मी प्लांट के गेट से 4.13 मिनट पर अपनी कार से अंदर गया है। परिचित वेंकट से पूछताछ की गई। पता चला कि उसने बीएसपी कर्मी को 32 ग्राम सोना दिया और फिर वह अपने घर लौट गया।

मंगलवार की सुबह वेंकट पहुंचा था घर, पुलिस को उस पर ही शक

पुलिस के मुताबिक वेंकट मंगलवार की सुबह 6 बजे बीएसपी कर्मी के घर गया था। उसने दोनों बच्चों से उनके पिता के घर लौटने को लेकर पूछताछ की थी। उसने दोनों बच्चों को धमकाया भी था कि अगर वो पिता के लोगों को उधार पैसा देने की जानकारी देंगे तो पुलिस उन्हीं पर केस दर्ज कर लेगी। पुलिस को जांच में पता चला है कि बीएसपी कर्मी एसएमएस 3 में सीनियर टेक्नीशियन की नौकरी करता था। इसके साथ उसकी पावर हाउस में सोने चांदी की दुकान भी है। लोगों को उधार पैसा देता था।

संदिग्ध के साथ लाखों का लेनदेन इस आधार की जा रही पूछताछ

पुलिस के मुताबिक वैकेट बीएसपी कर्मी के लिए कलेक्शन का काम करता था। वेंकट ने कुछ समय पहले अपनी कार गिरवी रखकर बीएसपी कर्मी से पैसा लिया था। पैसा चुकाने के लिए उसने बाद में अपने पैतृक गांव स्थित मकान के दस्तावेज भी गिरवी रख दिए थे। मकान बेचकर वह बीएसपी कर्मी का उधार लौटाने का झांसा दे रहा था। पुलिस के मुताबिक तीन महीने पहले बीएसपी कर्मी की पत्नी की कोरोना से मौत हो गई थी। इसी वजह से वह दूसरी शादी करने वाला था। शादी के लिए लड़की देख रहा था।

संदिग्धों से की जा रही पूछताछ, जल्द पकड़ा जाएगा आरोपी

बीएसपी कर्मी के जेब से करीब 40 हजार रुपए जब्त हुए हैं। यह भी पता चला है कि उसके गले में सोने की चेन, तीन सोने की अंगूठी और ब्रेसलेट पहने हुआ था। गुरुवार को शव का पीएम कराया जाएगा। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से संभवत: मौत का कारण पता चल जाएगा। मामले में जांच जारी है। संदिग्धों से पूछताछ की जा रही है।

-संजय ध्रुव, एएसपी दुर्ग

खबरें और भी हैं...