पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Bhilai
  • The Relatives Of The Dead In The Narco Test, It Will Take 3 Days For The Report To Come, 8 Other Suspects Have Not Given Their Consent

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अमलेश्वर हत्याकांड:नार्को टेस्ट में मृतकों के परिजन भी, रिपोर्ट आने में लगेंगे 3 दिन, 8 अन्य संदिग्धों ने नहीं दी सहमति

भिलाई22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

अमलेश्वर के खुड़मुड़ा हत्या कांड की गुत्थी सुलझने का नाम नहीं ले रही है। पुलिस ने इन्वेस्टिगेशन की थ्योरी में एक और थ्योरी को शामिल किया है। अब पुलिस नारको टेस्ट के जरिए हत्या की घटना और हत्यारे का पता लगाने की कोशिश कर रही है। हत्या के प्रमुख संदेही रोहित मौसा और मनोज लंगड़ा के स्थान पर सोनकर परिवार के सदस्य सोमनाथ, लता बाई और जमीन दलाल गोपा का नारको टेस्ट करना सुनिश्चित किया है।

टेस्ट के लिए गुरुवार रात एसपी ने प्रभारी बृजेश कुशवाह को गांधी नगर (गुजरात) भेजा है। टीआई जांच के लिए अपॉइंटमेंट लेने गए है। इस बीच रिपोर्ट के लिए भी कम से कम तीन दिनों तक इंतजार करना होगा। वहीं, 8 अन्य संदिग्धों से पुलिस को अभी नार्को टेस्ट के लिए सहमति नहीं मिली है।

नार्को टेस्ट से भी केवल जांच की दिशा तय होगी

एक्सपर्ट के मुताबिक नारको टेस्ट सिर्फ जांच की दिशा तय करेगा। इससे हत्यारे या घटना की सच्चाई पता नही चलेगी। पुलिस हत्या के जिस बिंदु पर हत्या की आशंका जता रही है,जांच से उसे सिर्फ उस दिशा में इन्वेस्टिगेशन सुनिश्चित हो पायेगा। कोर्ट में नार्को टेस्ट मान्य भी नही है।

दो लोग पहले दिन से संदेह के घेर में चल रहे

पुलिस के मुताबिक रोहित मौसा का खेत सोनकर परिवार के आस पास है। घटना के 1 दिन पहले वो अपने साले मनोज लंगड़ा के साथ सोनकर परिवार के बेटे गंगाराम के घर गया था। यहां उसने पार्टी की। इसके बाद वह अपने साले और गंगाराम से साथ सोनकर परिवार के घर पर आया।

यहां भी उसने सोनकर परिवार के बेटे रोहित के साथ बैठकर शराब पी। इसके बाद वह अपने घर चला गया। हैरान करने वाली बात यह कि रोहित मौसा और उसके सके मनोज लंगड़ा ने एक दिन पहले ही अपना मोबाइल बंद कर दिया था। जानकारी मिलने पर नहीं पहुंचा।

महिला साइकिल से आया था अरोपी

पुलिस की जांच में पता चला था की आरोपी को शासन की योजना के तहत साइकल मिली थी। वह महिला साइकिल लेकर घटना स्थल पर पहुंचा था। जांच की तो पता चला कि उक्त साइकिल सोनकर परिवार की दुलारी बाई के मायके से ली गई थी।

पुलिस ने आस पास के गांव में छानबीन की तो योजना से जुड़ी 5 हजार साइकिल मिली। यह काम भी मोहन नगर टीआई को सौंपा गया था। इसके साथ भू माफिया से पूछताछ के जिम्मा भी मोहन नगर टीआई के पास था। फिलहाल इसे लेकर भी पुलिस को कोई नया सुराग नहीं मिला सका है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप प्रत्येक कार्य को उचित तथा सुचारु रूप से करने में सक्षम रहेंगे। सिर्फ कोई भी कार्य करने से पहले उसकी रूपरेखा अवश्य बना लें। आपके इन गुणों की वजह से आज आपको कोई विशेष उपलब्धि भी हासिल होगी।...

    और पढ़ें