लूट का मामला:लुटेरों ने जेल तिराहे के पास छोड़ी मोपेड, खाली बैग वहीं पड़ा मिला

भिलाई2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जेल तिराहे के पास मिली लूट के लिए इस्तेमाल में लाई गई मोपेड। - Dainik Bhaskar
जेल तिराहे के पास मिली लूट के लिए इस्तेमाल में लाई गई मोपेड।

मोहन नगर थाना अंतर्गत पोलसायपारा इलाके में बुधवार को इंडियन बैंक के कैशियर राहुल चौहान से लूट मामले में पुलिस को उसकी गाड़ी मिल गई है। गुरुवार दोपहर जेल तिराहे के पास कैशियर की गाड़ी लावारिश हालत में खड़ी मिली। गाड़ी की डिग्गी से 15 लाख रुपए निकालकर लुटेरे खाली बैग छोड़ गए हैं।

पुलिस ने कैशियर की गाड़ी जब्त कर ली है। लुटेरे जेल तिराहे तक कैसे पहुंचे, पुलिस इसे लेकर कोई साक्ष्य नहीं जुटा पाई है। बदमाशों के प्लानिंग और रैकी करके वारदात करने का अनुुमान है। पुलिस की 9 टीमों में शामिल करीब 50 पुलिसकर्मी घटना स्थल और लुटेरों के आने-जाने के संभावित मार्गों पर लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है। पुलिस ने लूट की घटना में शामिल पुराने बदमाशों से भी पूछताछ कर रही है। जेल में बंद लुटेरों की भी कुंडली खंगाली जा रही है।

एसएसपी बद्रीनारायण मीणा के मुताबिक गुरुवार को पीड़ित बैंककर्मी राहुल समेत करीब आधा दर्जन स्टाफ से पूछताछ की गई है। बैंक में काम करने वाले पुराने कर्मचारियों को बयान के लिए तलब किया गया है। बैंक कर्मी की सीडीआर (कॉल डिटेल रिकार्ड) समेत शहर के आधा दर्जन लूट की घटनाओं में शामिल संदिग्धों की भी कॉल डिटेल खंगाली जा रही है। घटनास्थल पर एक्टिव मोबाइल नंबर की पीएसटीएन डेटा निकालकर एनालिसिस किया जा रहा है। टीम ने 2 सौ से ज्यादा सीसीटीवी फुटेज की रिकॉर्डिंग चेक की है। पुलिस के मुताबिक शहर के लॉज और होटलों से एक हफ्ते का रिकॉर्ड मंगवाया गया है। इस मामले में जांच जारी है।

खबरें और भी हैं...