पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

खाड़ी में बने निम्न दाब का असर:जिले में 24 घंटे में 35 मिमी बारिश रिकॉर्ड

राजनांदगांव6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • सितंबर के 12 दिनों में ही 142 मिमी. बारिश, फसल को मिली संजीवनी

खाड़ी में बने निम्न दाब के क्षेत्र से जिले में लगातार अच्छी बारिश जारी है। बीते 24 घंटे में जिले में 35 मिमी. बारिश दर्ज की गई है। जो इस पूरे सीजन के एक दिन की रिकॉर्ड बारिश है। इसके साथ ही जिले की कुल बारिश की 87 फीसदी बारिश अब तक हो चुकी है।

सितंबर के 12 दिनों में बरसे बादलों ने बारिश के आंकड़ों में सुधार कर दिया है। इन 12 दिनों में ही 142 मिमी. बारिश हुई है। जो सावन महीने के कुल बारिश से भी अधिक है। जिले की कुल औसत बारिश 867.7 मिमी. है। इसकी तुलना में अब तक 757.9 मिमी. बारिश हो चुकी है। इधर मौसम विभाग ने पूरे सितंबर में अच्छी बारिश के संकेत दिए हैं। इस लिहाज से बारिश का आंकड़ा औसत के बराबर पहुंचने की पूरी उम्मीद है। इस बारिश से सबसे राहत धान की फसल को मिली है। इन दिनों हो रही बारिश धान की फसल के लिए संजीवनी बनी हुई है। बारिश को लेकर बीते 24 घंटा जिले में सबसे अहम रहा है। इन 24 घंटों में जिलेभर में तेज बारिश हुई है। सबसे अधिक बारिश मानपुर, डोंगरगढ़ और डोंगरगांव ब्लॉक में हुई। मानपुर में बीते 24 घंटे में ही 40.5 मिमी., डोंगरगढ़ में 49.2 मिमी. और डोंगरगांव में 46.6 मिमी. बारिश हुई है। जो इन ब्लॉकों में एक दिन में हुई बारिश का नया रिकॉर्ड है।

दुर्ग संभाग में अति भारी वर्षा की दी गई चेतावनी
मौसम विज्ञानी एचपी चंद्रा ने बताया कि खाड़ी में निम्न दाब का क्षेत्र बना हुआ है। वहीं चक्रीय चक्रवात घेरा व द्रोणिका भी प्रबल है। अगले 24 घंटे में भी तेज बारिश होगी। दुर्ग संभाग के जिलों में अगले 24 घंटे में भारी वर्षा की चेतावनी जारी की है। रविवार शाम में भी राजनांदगांव शहर व जिले के कई हिस्सों में बारिश होती रही।

नदियों से लेकर जलाशयों का भी बढ़ा जलस्तर
बीते दिनों से हो रही बारिश का असर जलाशयों व नदियों पर भी पड़ा है। खासकर जंगल क्षेत्र में अधिक बारिश की वजह से जलाशयों में भी जलभराव बढ़ा है। वहीं शिवनाथ-आमनेर सहित दूसरी नदियों का जलस्तर भी बढ़ा है। महाराष्ट्र में तेज बारिश की वजह से प्रधानपाठ बैराज में भी जलभराव बढ़ा है।

खबरें और भी हैं...