सख्ती:कस्टम मिलिंग के लिए अनुबंध नहीं करने वाले मिलर्स के विरुद्ध होगी कार्रवाई

राजनांदगांव2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

धान खरीदी की व्यवस्था, कस्टम मिलिंग की अनुमति एवं अनुबंध की कलेक्टर तारन प्रकाश सिन्हा ने समीक्षा की। उन्होंने कस्टम मिलिंग के लिए अनुबंध नहीं करने वाले मिलर्स के विरुद्ध कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने खाद्य अधिकारी को समस्त अरवा मिलर्स का कस्टम मिलिंग के लिए अनुबंध करने के निर्देश दिए। कहा कि धान उपार्जन केन्द्र में जाम की स्थिति नहीं बननी चाहिए। इसके लिए धान के उठाव कार्य में गति लाएंगे।

कलेक्टर ने धान खरीदी केन्द्रों में पेयजल, छांव, प्रकाश, आर्द्रतामापी यंत्र, इंटरनेट कनेक्टिविटी, कम्प्यूटर आवश्यक व्यवस्था करने के निर्देश दिए। केन्द्रों में धान तौलाई के लिए कांटा-बांट आवश्यकतानुसार बढ़ा सकते हैं। धान की सुरक्षा के लिए आवश्यक व्यवस्था करने के लिए तथा ड्रेनेज सिस्टम बनाएंगे। उन्होंने अन्य राज्यों से धान के अवैध परिवहन पर कड़ी कार्रवाई करने के लिए कहा। कोचियों द्वारा धान खपाने की आशंका बनी रहती है।

इसके मद्देनजर सीमावर्ती बार्डर के चेकपोस्ट में कोचियों पर विशेष निगरानी रखेंगे। कस्टम मिलिंग से संबंधित समस्याओं एवं कठिनाइयों के निराकरण के लिए कॉल सेंटर नंबर 1800-233-3663 राज्य स्तरीय नियंत्रण कक्ष में दी जाएगी, जिसका समय-सीमा में निराकरण किया जाना है। उन्होंने कहा कि धान उपार्जन के दौरान आनी वाली समस्याओं का तुरंत निराकरण करें।

खबरें और भी हैं...