धरना-प्रदर्शन:केंद्र सरकार ने अच्छे दिन आने का सपना दिखाकर बेतहाशा महंगाई बढ़ा दी: कांग्रेस

राजनांदगांव2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
धरना को संबोधित करते शहर जिला अध्यक्ष छाबड़ा। - Dainik Bhaskar
धरना को संबोधित करते शहर जिला अध्यक्ष छाबड़ा।
  • प्रदेश में खाद संकट को लेकर केंद्र के खिलाफ कांग्रेसियों ने हल्ला बोला

केन्द्र की मोदी सरकार की गलत आर्थिक नीतियों के कारण छत्तीसगढ़ के किसानों के सामने खाद का संकट पैदा हो गया है। इसे लेकर शहर जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष कुलबीर सिंह छाबड़ा के नेतृत्व में शुक्रवार को महावीर चौक स्थित फ्लाई ओवर के नीचे एक दिवसीय धरना-प्रदर्शन कर नायब तहसीलदार को ज्ञापन सौंपा गया। धरना-प्रदर्शन का संचालन दक्षिण ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सूर्यकांत जैन ने किया।

महापौर हेमा देशमुख, रमेश राठौर, महामंत्री फिरोज अंसारी, हनी ग्रेवाल ने माल्यार्पण कर धरना-प्रदर्शन की शुरुआत की। छत्तीसगढ़ राज्य को अब तक रासायनिक उर्वरकों की आधी-अधूरी मात्रा ही मिल पाई है। यही वजह है कि राज्य में किसानों की मांग के अनुसार रासायनिक उर्वरकों की पूर्ति में दिक्कत हो रही है खरीफ की खेती प्रभावित होने की आशंका उत्पन्न हो गई है। इसे लेकर शहर कांग्रेस द्वारा केन्द्र सरकार के खिलाफ एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया गया। अंत्यावसायी सहकारी एवं वित्त विकास निगम के अध्यक्ष धनेश पाटिला ने केन्द्र सरकार को कोसते हुए कहा कि अच्छे दिन का सपना दिखाकर बेतहाशा महंगाई बढ़ा दी है।

पेट्रोल, डीजल, गैस, घरेलू सामग्री का दाम आसमान छू रहे हैं। वहीं तीन कृषि कानून बिल लाकर किसानों के साथ अन्याय किया जा रहा है। प्रदर्शन को खादी ग्रामोद्योग के सदस्य श्रीकिशन खंडेलवाल, निगम अध्यक्ष हरिनारायण धकेता, शशिकांत अवस्थी, कुतबुद्दीन सोलंकी, डा.आफताब आलम, उत्तर ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष आसिफ अली, मदन साहू, छबिलाल साहू, विकास त्रिपाठी, सविता ठाकुर, विश्राम दास साहू, अमित चंद्रवंशी, राजीव कुरियाकोस, हेमंत ओस्तवाल, मोहनी सिन्हा, प्रमोद बागड़ी, प्रज्ञा गुप्ता, सुरेन्द्र गजभिए, सुरेन्द्र देवांगन, राजेश चंदेल, अशोक फडनवीस, प्रभात गुप्ता, संतोष पिल्ले, पूर्णिमा नागदेवे, संजय साहू, जितेन्द्र कौशिक, सूरज शर्मा, अमित जंघेल, इशांक खान, दक्षिण ब्लॉक के सचिव अरशद खान, शिवम गढ़पायले ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया।

किसानों को राहत पहुंचाई जाए: कुलबीर
शहर जिला कांग्रेस अध्यक्ष कुलबीर सिंह छाबड़ा ने बताया कि मोदी सरकार को राज्य सरकार द्वारा खरीफ 2021 सीजन के लिए केन्द्र सरकार को 11.75 लाख मैट्रिक टन रासायनिक उर्वरकों की आपूर्ति के लिए डिमांड भेजी गई थी। रासायनिक उर्वरक निर्माता कम्पनियों द्वारा छत्तीसगढ़ राज्य को 5.50 लाख टन यूरिया की मांग के विरूद्ध 2.32 लाख मैट्रिक यूरिया की आपूर्ति की गई है। यह मात्र 42 फीसदी ही है। डीएपी खाद की 3.20 लाख मैट्रिक टन मांग के विरूद्ध अब तक 1.21 लाख टन खाद प्रदाय की गई है, जो कि मांग का मात्र 38 प्रतिशत है। एनपीके उर्वरक की 80 हजार मैट्रिक टन की मांग के बदले अब तक छत्तीसगढ़ राज्य के मात्र 48 हजार मैट्रिक टन तथा एमओपी उर्वरक 75 हजार मैट्रिक टन के विरूद्ध 45 हजार मैट्रिक टन की आपूर्ति की गई है, जो कि एनपीके और एमओपी उर्वरक की मांग का मात्र 60 प्रतिशत है। शहर जिला कांग्रेस कमेटी ज्ञापन के माध्यम से प्रधानमंत्री से मांग करती है कि राज्य सरकार द्वारा खरीफ सीजन के लिए मांगी गई 11.75 लाख टन रासायनिक उर्वरकों के आपूर्ति अविलंब पूर्ण करते हुए प्रदेश के किसानों को राहत पहुंचाए।

खबरें और भी हैं...