जीत की जुगत:संक्रमितों के इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मानपुर अब पूरी तरह तैयार

राजनांदगांव3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • यहां स्थापित आधुनिक तकनीक से युक्त हमर लैब से तत्काल मिल रही जांच रिपोर्ट

मानपुर विकासखंड मुख्यालय के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की व्यवस्थाओं का जायजा शुक्रवार को कलेक्टर तारन प्रकाश सिन्हा ने लिया। उन्होंने कहा कि कोविड संक्रमित मरीजों के इलाज के लिए सभी व्यवस्था दुरूस्त रहे। आगामी दिनों में केस बढऩे की आशंका को देखते हुए ऑक्सीजन प्लांट के अलावा अतिरिक्त बेड, सिलेंडर, ऑक्सीजन कन्सन्ट्रेटर, दवाई सहित सभी व्यवस्था सुनिश्चित करें। उन्होंने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में स्थापित हमर लैब का भी निरीक्षण किया तथा वहां प्रतिदिन होने वाली जांच की जानकारी ली। इसके साथ ही वहां प्रतिदिन आने वाले ओपीडी की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि सुदूर वनांचल क्षेत्र में सर्वसुविधा युक्त सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र संचालित है। जहां आधुनिक तकनीक से युक्त हमर लैब का निर्माण किया गया है तथा सिविल सर्जन सहित स्पेशलिस्ट चिकित्सकों की टीम कार्य कर रही है। जिसका लाभ इस क्षेत्र के नागरिकों को मिलना चाहिए। इस दौरान उन्होंने वहां कोरोना टेस्ट कर रहे टेक्नीशियन से प्रतिदिन कोविड टेस्ट की जानकारी ली। टेस्ट के दौरान पॉजिटिव मरीज को तत्काल दवाई उपलब्ध कराई जाए।

20 ऑक्सीजन बेड रिजर्व रखे गए हैं
डॉ.गिरीश खोब्रागढ़े ने बताया कि गंभीर कोविड संक्रमित मरीजों के इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में 20 आक्सीजन बेड रिजर्व रखा गया है। वहीं अन्य स्थान पर कोविड केयर सेंटर बनाया गया है। जहां आक्सीजन बेड की व्यवस्था की गई है। कोविड संक्रमित मरीजों के लिए दवाई सहित भोजन की व्यवस्था की गई है।

संक्रमितों के इलाज के लिए सभी व्यवस्था पूरी कर ली गयी है। इसके साथ ही अस्पताल में ओपीडी में प्रतिदिन 50-60 मरीज आते हैं। हमर लैब में प्रतिदिन 45-50 टेस्ट किया जाता है। सुबह 9 से 12 बजे सैम्पल कलेक्शन किया जाता है तथा 12 से 1 बजे रिपोर्ट दे दी जाती है। अस्पताल में 5 एंबुलेंस सहित दो 108 वाहन और एक 102 वाहन एक्टिव है।

कलवर पहुंचे, जहां हुई थी नक्सल हत्या
कलेक्टर सिन्हा घोर नक्सली क्षेत्र मदनवाड़ा के ग्राम कलवर गांव पहुंचे और परिजनों से मुलाकात कर हरसंभव मदद एवं सुरक्षा का दिया आश्वासन। ग्राम कलवर निवासी स्वर्गीय रामजी गावड़े का विगत दिनों नक्सलियों द्वारा हत्या कर दी गई थी। कलेक्टर सिन्हा उनके घर पहुंचे और उनकी पत्नी, बच्चों से मुलाकात की।

उन्होंने परिवार को 5 लाख की सहायता राशि तत्काल देने अधिकारियों को निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि बच्चों के शिक्षा के लिए प्रशासन द्वारा पूरी व्यवस्था की जाएगी। कलेक्टर ने पीडि़त परिवार कि हर सम्भव सहायता और सुरक्षा का आश्वासन दिया। उनके खेत को भूमि सुधार कार्य करने के निर्देश अधिकारियों को दिए।

सरकारी अंग्रेजी माध्यम स्कूल का किया निरीक्षण
मानपुर ब्लाॅक मुख्यालय के स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी उत्कृष्ट माध्यम विद्यालय का निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि स्कूल का निर्माण कार्य पूरा कर लिया गया है। अब इसकी साज-सज्जा और साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है। बच्चों को पढ़ाई के लिए सकारात्मक माहौल मिलना चाहिए। इसके लिए उन्होंने खैरागढ़ संगीत कला विश्वविद्यालय के सहयोग से स्कूल के दीवारों पर कलात्मक एवं ज्ञानवर्धक पेंटिंग बनवाने के निर्देश दिए। स्कूल के उचित प्रबन्धन के लिए शिक्षकों को अलग-अलग कार्य के लिए प्रभारी बनाया जाए।

मेस स्थल की ली जानकारी
कलेक्टर सिन्हा ने बच्चों के मध्याह्न भोजन और मेस की स्थल की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि बच्चों के लिए खेल सामग्री, प्रयोगशाला के लिए अवश्य सामग्री तथा लाइब्रेरी में पर्याप्त पुस्तक उपलब्ध रहना चाहिए। बच्चों के तकनीकी ज्ञान के लिए कम्प्यूटर की व्यवस्था करें। उन्होंने स्कूल में पौधे लगाने के निर्देश दिए।

खबरें और भी हैं...