बड़ी कामयाबी / नक्सलियों के लिए सामान और पैसा सप्लाई करने वाला ठेकेदार गिरफ्तार, कमांडर राजू सलाम के लिए तीन साल से कर रहा था काम

ठेकेदार से जब्त बोलेरो व सामान। ठेकेदार से जब्त बोलेरो व सामान।
X
ठेकेदार से जब्त बोलेरो व सामान।ठेकेदार से जब्त बोलेरो व सामान।

  • सिकसोड़ पुलिस को मुखबिर से सूचना मिल रही थी कि सडक़ निर्माण कार्य में जुटा ठेकेदार तापस पालित की नक्सलियों से सांठगांठ है
  • अंतागढ़ में रूद्राक्ष कंस्ट्रक्शन कंपनी चलाने वाला तापस पालिक मूलत: दल्लीराजहरा जिला बालोद का रहने वाला है

दैनिक भास्कर

Mar 27, 2020, 07:14 AM IST

राजनांदगांव. मंगलवार रात पुलिस ने नक्सलियों के एक बड़े शहरी नेटवर्क को ध्वस्त कर दिया। इससे इलाके में नक्सलियों की एक बड़ी सप्लाई चेन ब्लॉक कर दी गई है। नक्सलियों के लिए सामान और पैसे सप्लाई करने वाला यह ठेकेदार रूद्राक्ष कंस्ट्रक्शन नामक कंपनी का चलाता है और फिलहाल उसने एक अन्य कंस्ट्रक्शन कंपनी का काम पेटी कांट्रेक्ट में लिया था।

जब पुलिस ने उसे पकड़ा उस दौरान भी वह नक्सली वर्दी के कपड़े, वायरलेस सेट व जूतों के अलावा अन्य सामान अपनी बोलेरो में लोड कर नक्सलियों को पहुंचाने जा रहा था। गिरफ्तार ठेकेदार इलाके में सडक़ निर्माण का ठेका लेने के साथ नक्सलियों के लिए भी काम करते वारदातों को अंजाम देने के लिए हथियार आदि के लिए फंड की भी व्यवस्था करता था।


सिकसोड़ पुलिस को मुखबिर से सूचना मिल रही थी कि सडक़ निर्माण कार्य में जुटा ठेकेदार तापस पालित की नक्सलियों से सांठगांठ है। ठेकेदारी के आड़ में नक्सलियों को रकम व सामान सप्लाई करता है। मंगलवार रात सामानों की खेप पहुंचाने की सूचना के बाद पुलिस ने सिकसोड़ थाना के तीनों रास्तों में नाकेबंदी कर दी। रात 9 बजे ठेकेदार तापस पालिक की बोलेरो क्रमांक सीजी 07 एएच 6555 कोतुल से मर्दा मार्ग में दिखी। पुलिस ने रोक जांच की तो नक्सली वर्दी का हरा व काला कपड़ा पांच थान, 45 जोड़ी कोस्टार के कैनवास जूते, 50 जोड़े प्लास्टिक जूते, दो वॉकी टॉकी सेट, इलेक्ट्रिक वायर बंडल, टेप, एलईडी लाईट आदि बरामद किया गया। ठेकेदार ने स्वीकार किया वह एलजीएस एलओसीएस मिलेट्री प्लाटून नक्सली कमांडर राजू सलाम के लिए काम करता है। सामान मरदा जंगल पहुंचाने जा रहा था।


संवेदनशील इलाके का ही काम लेता था, ताकि दूसरा न ले सके
अंतागढ़ में रूद्राक्ष कंस्ट्रक्शन कंपनी चलाने वाला तापस पालिक मूलत: दल्लीराजहरा जिला बालोद का रहने वाला है। पिछले कुछ सालों से अंतागढ़-कोयलीबेड़ा के अंदरूनी इलाकों के कामों को लेता था जिसमें बाहर का कोई ठेकेदार हाथ नहीं डालता था। किसी बड़े ठेकेदार ने काम ले भी लिया तो उसे वह पेटी कांट्रेक्ट में लेता था। नक्सलियों से सांठगांठ के कारण अंदरूनी इलाके के काम बिना किसी रोकटोक करता था। अंतागढ़ में रूद्राक्ष डामर प्लांट व धर्मकांटा भी शुरू किया। वर्तमान में बिलासपुर की लेंड मार्क कंट्रक्शन कंपनी का पोरोंडी से मन्हाकाल सडक़ निर्माण कार्य पेटी कांट्रेक्ट में लेकर कर रहा था।


राजनांदगांव से मुंशी ने खरीदा था सामान
ठेकेदार 9 मार्च को गट्टाकाल जंगल में हुई मिटिंग में कंदाड़ी निवासी व एरिया कमेटी सप्लाई टीम सदस्य मुकेश सलाम व राजेंद्र सलाम के साथ गया था। कमांडर राजू सलाम को नक्सलियों के लिए ढाई लाख रूपए दिए थे। कमांडर ने उसे एक पर्ची देकर सामान सप्लाई करने कहा। राजनांदगांव में निवारसत उसका मुंशी दयाशंकर मिश्रा मूल निवासी मध्यप्रदेश ने तीन दिन पूर्व सामान खरीदकर निजी वाहन से अंतागढ़ के डामर प्लांट में पहुंचाया था। 23 मार्च को मुकेश सलाम का फोन आने पर 24 मार्च को उसे नक्सलियों को पहुंचाने निकला था

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना