बिगड़ रहे हालात:लक्षण वाले मरीजों को मितानिन बाटेंगी दवाइयां टीके के खिलाफ दुष्प्रचार किया तो एफआईआर

राजनांदगांव6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
राजनांदगांव. कलेक्टर ने बैठक लेकर अफसरों को सख्ती बढ़ाने के निर्देश दिए। - Dainik Bhaskar
राजनांदगांव. कलेक्टर ने बैठक लेकर अफसरों को सख्ती बढ़ाने के निर्देश दिए।
  • इधर लक्षण वाले मरीजों को समय पर नहीं मिल पा रहा इलाज

जिले में कोरोना का संक्रमण रोकने और भी सख्ती बरती जाएगी। प्रोटोकॉल के पालन की जांच के लिए जिलेभर में छापेमारी होगी। जहां भी प्रोटोकॉल उल्लंघन पाया गया, वहां त्वरित कार्रवाई की जाएगी। इसके अलावा जिलेभर के कोविड लक्षण वाले मरीजों में दवाई कीट का वितरण किया जाएगा।

कलेक्टर टोपेरश्वर वर्मा ने अफसरों की बैठक लेकर ऐसे निर्देश जारी किए हैं। ग्रामीण इलाकों में कोविड का संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है। इसे देखते हुए अब अफसरों ने सख्ती और बढ़ाने की तैयारी की है। कलेक्टर ने स्वास्थ्य विभाग को निर्देशित किया कि गांव-गांव में कोरोना के लक्षण वाले मरीजों को दवाई कीट का वितरण किया जाए। वितरण की जिम्मेदारी मितानिनों को सौंपी जाएगी, जो अपने गांव स्तर पर लक्षण वाले मरीजों को दवाइयों का वितरण करेंगी। इसके अलावा लोगों को सैंपल देने के लिए सामने आने भी जागरूक करेंगे।

इसके लिए मितानिनों को गांव-गांव में दीवार लेखन के माध्यम से लोगों को जागरूक करने की जिम्मेदारी दी जा रही है। वर्तमान में कोविड लक्षण वाले मरीजों को समय पर इलाज नहीं मिल पा रहा है, जिसके चलते उनकी हालत बिगड़ रही है, इसे देखते हुए लक्षण वाले मरीजों में तत्काल दवा कीट वितरित किया जाएगा। इसके बाद उनका टेस्ट भी कराया जाएगा।

झोलाछाप डॉक्टरों पर होगी कार्रवाई, कर रहे गुमराह

जिला प्रशासन ने जिलेभर के झोलाछाप डॉक्टरों पर कार्रवाई की तैयारी की है। दरअसल ग्रामीण इलाकों में सर्दी बुखार जैसे लक्षण के बावजूद झोलाछाप डॉक्टर अपने स्तर पर ही दवाइयों का वितरण कर रहे हैं। ऐसे में हालात और बिगड़ रहे हैं। लोगों को कोविड टेस्ट के लिए जागरूक करने के बजाए ये डॉक्टर खुद ही इलाज करने में जुटे हुए हैं। इसके चलते मरीजों पर जान का खतरा बना हुआ है। मरीजों की हालत भी बिगड़ रही है। इसके चलते गुमराह करने वाले ऐसे झोलाछाप डॉक्टरों पर कार्रवाई की तैयारी की गई है।

मानपुर इलाके में वैक्सीन के खिलाफ दुष्प्रचार

मानपुर इलाके में वैक्सीन के खिलाफ दुष्प्रचार का मामला सामने आया है। इसके अलावा दूसरे हिस्सों में भी वैक्सीन को लेकर भ्रमित करने की हरकत जारी है। इसे देखते हुए अब प्रशासन ने सख्त कार्रवाई की तैयारी की है। कलेक्टर ने कहा कि जहां भी वैक्सीन के खिलाफ दुष्प्रचार का मामला सामने आया, वहां ऐसी हरकत करने वालों के खिलाफ माहमारी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी। कलेक्टर ने अपील की है कि वैक्सीन लगने के बाद कोरोना का खतरा टला है, ऐसे में लोग सामने आकर वैक्सीन लगवाएं। ​​​​​​​

खबरें और भी हैं...