पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

बजट सत्र:सब कुछ ठीक रहा तो बजट के लिए अक्टूबर में होगी सभा

राजनांदगांव11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • शासन ने दी अनुमति पर लगातार बढ़ते संक्रमण की वजह से अटका, अधोसंरचना मद की राशि भी नहीं पहुंची

कोरोना के बढ़ते संक्रमण की वजह से नगर निगम का बजट सत्र भी नहीं हो पा रहा है। यही वजह है कि शहर में विकास के लिए आने वाली राशि की स्वीकृति भी अटक गई है। अधोसंरचना मद से मिलने वाली स्वीकृति भी कोविड के चलते नहीं मिल पाई है। हालांकि शासन ने बजट सभा के लिए निगम प्रशासन को अनुमति जारी कर दी है। महापौर हेमा देशमुख ने बताया कि बढ़ते संक्रमण और निगम में जनप्रतनिधियों से लेकर अधिकारी कर्मचारियों के संक्रमित होने की वजह से बजट की सभा नहीं हो पाई है। अगले दस दिन अगर शहर में कोरोना का संक्रमण नियंत्रित हुआ और निगम प्रशासन के संक्रमित कोरोना से मुक्त हुए तो अक्टूबर के पहले सप्ताह में बजट की बैठक रखी जाएगी। इधर निगम में विपक्ष ने भी अब तक बजट सभा नहीं होने पर सवाल उठाया है। पूर्व सभापति व पार्षद शिव वर्मा ने इसे गाइडलाइन के विपरीत बताया। उन्होंने कहा कि शहर में संक्रमण की विकराल स्थिति नहीं थी, तब भी महापौर ने बजट की सभा को लेकर गंभीरता नहीं दिखाई। उन्होंने महापौर सहित कांग्रेस की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाए हैं। राजनांदगांव सहित दूसरे निगमों के अधोसंरचना मद की राशि नहीं मिली है। इसके चलते राजनांदगांव शहर के ज्यादातर वार्डाें में पार्षदों की डिमांड के मुताबिक काम स्वीकृत नहीं हो पा रहे हैं।

सोशल डिस्टेंसिंग के साथ पूरी करनी होगी बैठक
शासन ने निगम प्रशासन को बजट बैठक की अनुमति दे दी हैं। इसके साथ ही कोविड-19 को लेकर जारी प्रोटोकॉल का भी पालन करने कहा गया है। इसके तहत बैठक में सोशल डिस्टेिसंग सहित दूसरी व्यवस्थाओं पर भी गंभीरता बरतनी होगी। बजट सभा या सामान्य सभा में शहर के 51 पार्षद सहित नामांकित पार्षद भी शामिल होते हैं। वर्तमान में शहर के लगभग सभी वार्डों में कोविड का संक्रमण हैं। कई जनप्रतिनिधि भी इसकी चपेट में हैं। इसके चलते बजट सभा पर संशय बरकरार है।

छोटे-छोटे प्रस्ताव बनाकर भेजे जा रहे
महापौर हेमा देशमुख ने दावा किया है कि बजट सभा नहीं होने के चलते किसी भी काम पर कोई बड़ा असर नहीं पड़ा है। निगम क्षेत्र में प्रस्तावित कार्य जारी है। उन्होंने बताया कि बजट में पूरे प्रस्तावितों काम को एक साथ शासन को भेजा जाता है। लेकिन अब तक बजट सभा नहीं हो पाने के चलते छोटे-छोटे प्रस्ताव बनाकर शासन को भेजा जा रहा है। जिसमें लगातार स्वीकृति मिल रही है।

निगम के अधोसंरचना मद की राशि भी अटकी
निगम को अब तक अधोसंरचना मद की राशि भी नहीं मिल पाई है। राशि की स्वीकृति नहीं होने के चलते कई मूलभूत कार्य अटके हुए हैं। इसकी वजह निगम प्रशासन कोविड को बता रहा है। निगम प्रशासन के मुताबिक कोविड-19 के चलते राजनांदगांव सहित दूसरे निगमों को भी अधोसंरचना मद की राशि नहीं मिली है। इसके चलते राजनांदगांव शहर के ज्यादातर वार्डाें में पार्षदों की डिमांड के मुताबिक काम स्वीकृत नहीं हो पा रहे हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन पारिवारिक व आर्थिक दोनों दृष्टि से शुभ फलदाई है। व्यक्तिगत कार्यों में सफलता मिलने से मानसिक शांति अनुभव करेंगे। कठिन से कठिन कार्य को आप अपने दृढ़ विश्वास से पूरा करने की क्षमता रखे...

और पढ़ें