परेशानी / दो दिन से बंद रही मंडी, बाजार में सब्जी की कमी, तय दर से अधिक में बिक्री

X

  • जिला प्रशासन ने तय किए सब्जी के दाम फिर भी मनमाने दाम पर बेच रहे

दैनिक भास्कर

Jun 30, 2020, 04:00 AM IST

राजनांदगांव. शहर की थोक सब्जी मंडी दो दिन से बंद रही। इसका असर बाजार में भी दिखा। सोमवार को शहर में सब्जी की किल्लत बन गई। वहीं जिला प्रशासन द्वारा दाम निर्धारित करने का भी असर बाजार में नहीं दिखा। सब्जी की कमी बताकर ठेले वालों ने मनमाने दाम पर सब्जियों की बिक्री की। 
संक्रमण के बढ़ते खतरे को देखते हुए रविवार और सोमवार दो दिन थाेक मंडी बंद रखने का निर्णय लिया गया है। सोमवार को बाजार में जरूरत के मुताबिक सब्जी उपलब्ध नहीं रही। इसका असर सीधे तौर पर दाम पर देखा गया। गिनती के ठेले वाले ही सब्जी की बिक्री करते दिखे। जिन्होंने रेट भी अपने हिसाब से वसूला। जिला प्रशासन ने एक दिन पहले ही टमाटर के दाम अधिकतम 50 रुपए प्रति किलो तक तय किया था, लेकिन सोमवार को बाजार में टमाटर 60 से 65 रुपए किलो तक बिका। करेला 80 रुपए, धनिया  200 रुपए प्रति किलो के हिसाब से बेचा गया। लेकिन दाम तय करने के बाद अफसर इसकी माॅनिटरिंग करने पहुंचे ही नहीं। इधर किल्लत के चलते लोगों को भी परेशान होना पड़ा। दो दिन के पूर्ण लॉकडाउन के बाद सोमवार को दोपहर 12 बजे तक के लिए बाजार खोला गया। 

आज खुलेगी मंडी, लोगों को राहत मिलने की उम्मीद 
थोक सब्जी मंडी मंगलवार से खुलेगी। इसके बाद शहर में सब्जी की किल्लत दूर होने की उम्मीद है। वहीं दोपहर 12 बजे तक ही बाजार खुलने के आदेश के चलते ग्रामीण इलाकों से भी सब्जी विक्रेता शहर में नहीं पहुंच रहे हैं। इसका भी असर सप्लाई पर पड़ रहा है। थोक सब्जी विक्रेताओं ने बताया कि मंगलवार से मंडी खुलने के बाद पर्याप्त मात्रा में सब्जी बाजार में उपलब्ध होने और दाम में भी नियंत्रण की उम्मीद जताई जा रही है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना