पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

चैत्र नवरात्रि 13 से:बम्लेश्वरी मंदिर में श्रद्धालुओं की नो एंट्री, डोंगरगढ़ मेला रद्द

राजनांदगांव5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए प्रशासन ने लिया निर्णय, अतिरिक्त ट्रेन का संचालन नहीं करने की भी अपील
  • पदयात्रा की अनुमति भी नहीं मिलेगी, डोंगरगढ़ में 500 से अधिक एक्टिव केस

कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए इस बार भी डोंगरगढ़ में नवरात्रि मेला स्थगित कर दिया गया है। इसके अलावा मंदिर में श्रद्धालुओं को भी दर्शन के लिए एंट्री नहीं मिलेगी। जिला प्रशासन ने बुधवार को उक्त निर्णय लिया है। वर्तमान में डोंगरगढ़ में 500 से अधिक एक्टिव केस हैं।

भास्कर ने अपने 6 अप्रैल के अंक में ही बताया था कि इस बार मेला नहीं लगेगा। वहीं पदयात्रा की अनुमति भी नहीं मिलेगी। इसके बाद बुधवार को जिला प्रशासन ने आदेश जारी कर दिया है। वहीं कलेक्टर ने दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे को पत्र भी लिखा है। जिसमें नवरात्रि के दौरान डोंगरगढ़ के लिए किसी तरह के अतिरिक्त ट्रेन, कोच या स्टापेज की व्यवस्था नहीं करने की बात कही है। जिला प्रशासन ने रेलवे से अपील की है कि पर्व को देखते हुए अतिरिक्त सुविधा मुहैया न कराई जाए। कोरोना के चलते बीते साल भी चैत्र नवरात्र का मेला स्थगित रहा है। वहीं क्वांर नवरात्र में भी ऐसी ही स्थिति बनी। इस साल भी मेला स्थगित कर दिया गया है।

नागपुर, गोंदिया सहित रायपुर में भी होगी मुनादी
कोरोना के चलते डोंगरगढ़ मेला स्थगित किए जाने को लेकर नागपुर, गोंदिया व रायपुर के स्टेशन में भी मुनादी होगी। ताकि श्रद्धालु ट्रेनों से डोंगरगढ़ के लिए रवाना न हों । इसके अलावा महाराष्ट्र और छग के सभी प्रमुख स्टेशनों में भी इस तरह की मुनादी की तैयारी की गई है। मेला स्थगित होने का प्रचार प्रसार पहले ही किया जाएगा । नवरात्र के दौरान श्रद्धालुओं को मंदिर में दर्शन के लिए अनुमति नहीं मिलेगी।

अनलॉक होते ही बढ़ी थी श्रद्धालुओं की संख्या
बीते दो नवरात्रि में सख्ती और मेला स्थगित होने के चलते अनलॉक के बाद डोंगरगढ़ में दर्शनार्थियों की संख्या बढ़ी थी। सामान्य दिनों में भी बड़ी संख्या में श्रद्धालु मां बम्लेश्वरी के दर्शन के लिए पहुंच रहे थे। इनमें से ज्यादातर श्रद्धालु महाराष्ट्र से ही आने वाले थे। कुछ दिनों तक मंदिर परिसर में भी जांच की शुरुआत की गई, लेकिन जैसे ही श्रद्धालु पॉजिटिव पाए गए। तब से मंदिर में श्रद्धालुओं की एंट्री रोक दी गई है।

दूसरे मंदिरों में भी एंट्री नहीं आदेश जारी होना अभी शेष
इधर जिले के दूसरे धार्मिक स्थलों में भी इस तरह की सख्ती बरती जाएगी। सूत्रों के मुताबिक नवरात्रि के दौरान श्रद्धालुओं को मंदिर परिसर में एंट्री नहीं दी जाएगी। केवल पुजारी और मंदिर समिति के सदस्य ही पूजा अर्चना करेंगे। हालांकि इसके लिए आदेश जारी नहीं किया गया है। संभावना है कि गुरुवार को इसे लेकर भी जिला प्रशासन आदेश जारी कर दे। 13 अप्रैल से चैत्र नवरात्रि की शुरुआत हो रही है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आसपास का वातावरण सुखद बना रहेगा। प्रियजनों के साथ मिल-बैठकर अपने अनुभव साझा करेंगे। कोई भी कार्य करने से पहले उसकी रूपरेखा बनाने से बेहतर परिणाम हासिल होंगे। नेगेटिव- परंतु इस बात का भी ध...

    और पढ़ें