तेंदुए का शिकार:अब फॉरेंसिक जांच रिपोर्ट का कर रहे इंतजार

राजनांदगांव9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • इसके बाद मामले में बढ़ सकती हैं और धाराएं

गंडई क्षेत्र के मगरकुंड के जंगल में तेंदुए का शिकार किए जाने के मामले में पांच आरोपी जेल जा चुके हैं पर वन विभाग की टीम को अब भी आशंका है कि मामले में कुछ और लोग शामिल रहे होंगे। इस हिसाब से मुखबिर से लगातार पड़ताल कराई जा रही है। लोकल नेटवर्क के माध्यम से पतासाजी कर रहे हैं। वहीं मामले में जबलपुर भेजे गए फॉरेंसिक जांच रिपोर्ट का भी इंतजार किया जा रहा है। रिपोर्ट में तकनीकी रूप से क्या बताया जा रहा है? यह पता चलने के बाद मामले में आरोपियों के खिलाफ धाराएं भी बढ़ सकती हैं। प्रारंभिक जांच और पूछताछ में केवल यही पता लगा है कि आरोपियों ने फंदे में करंट लगाया था, जिसमें तेंदुआ फंस गया। इसके बाद अंध विश्वास के चलते तेंदुए के दांत, मुुंह के मूंछ, सिर के उपर की चमड़ी, सामने के दोनों पैर के पंजे काट ले गए। खैरागढ़ डीएफओ संजय यादव ने बताया कि मामले की जांच चल रही है। लैब रिपोर्ट अभी आई नहीं है। तेंदुए का एक पंजा नहीं मिला है, पतासाजी कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...