पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

मनमानी:शासकीय जमीन पर कई लोगों का कब्जा लेकिन सिर्फ एक को हटाने की कार्रवाई

जोंधराएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कब्जाधारी ने कार्रवाई के खिलाफ सिविल कोर्ट में लगाया आवेदन

छुरिया ब्लॉक के आश्रित ग्राम पंचायत कलडबरी निवासी खोरबाहरा निषाद पिता झरियार निषाद ने सरपंच कुसुमलता पर आर्थिक और मानसिक प्रताड़ना का आरोप लगाते हुए मामले को सिविल कोर्ट में पेश किया है।  ग्रामीण खोरबाहरा निषाद पीढ़ियों से कलडबरी में निवास कर रहा है। आज से 70-75 वर्ष पहले उनके पिता झरियार निषाद सरकारी भूमि पर खेत बना कर जीवनयापन कर रहे थे। पिता की मृत्यु के बाद उनका बेटा खोरबाहरा अपने परिवार के 12 सदस्यों के साथ इसी भूमि पर खेती करते आ रहा है। उनके परिवार पर संकट तब आया जब नई सरकार के आते ही नरवा, घुरवा और गौठान बनाने की योजना हर ग्राम पंचायत में शुरू करवाई। तत्कालीन कलडबरी के सरपंच ने 2019 में 19 लाख का गौठान निर्मित कर दी एवं चारागाह के लिए खोरबाहरा निषाद के जमीन को चयनित कर दिया। इस पर खोरबाहरा निषाद ने आपत्ति दर्ज करवाया है। इसका प्रकरण सिविल कोर्ट में पंजीबद्ध करवा दिया गया है। इसके बाद भी सरपंच कुसुमलता साहू ने लॉकडाउन के दौरान चारागाह के लिए खोरबाहरा राम के खेत के मेढ़ों को जेसीबी से गिरवा दिया। खोरबाहरा ने कहा कि गांव में कई अवैध कब्जाधारी हैं, लेकिन कार्रवाई सिर्फ मुझे पर ही क्यों की गई।  सरपंच कुसुमलता किशोर साहू ने बताया कि मामला 2019 का है। आरआई ने वहीं चिन्हांकित किए जाने पर उनकी जमीन को हमने बेदखल किया है। पूर्व सरपंच जंत्रीबाई बेदुराम साहू ने बताया कि गांव में गौठान के लिए 14.10 लाख की स्वीकृति हुई थी, उक्त कार्य तहसीलदार आरके बंजारे की स्वीकृति से शुरू किया था।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कोई भूमि संबंधी खरीद-फरोख्त का काम संपन्न हो सकता है। वैसे भी आज आपको हर काम में सकारात्मक परिणाम प्राप्त होंगे। इसलिए पूरी मेहनत से अपने कार्य को संपन्न करें। सामाजिक गतिविधियों में भी आप...

और पढ़ें