पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

दहशत:डोंगरगढ़ के पोल्ट्री फार्म में एक मुर्गी मरी तीन बीमार मिलीं, 121 फार्म की होगी जांच

राजनांदगांव4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • डॉक्टरों ने पीपीई किट पहनकर सैंपल लिया, जांच के लिए भोपाल भेजा, अब बाहर से आने वाली मुर्गियों पर लगाया प्रतिबंध
  • कलेक्टर ने सावधानी बरतने दिए निर्देश वन विभाग को भी किया अलर्ट, मृत पक्षियों को प्रोटोकॉल के तहत दफनाया जाएगा
  • बर्ड फ्लू के बढ़ते खतरे को लेकर अलर्ट जारी

कोरोना संक्रमण के कहर से जिले के रहवासी पिछले 11 माह से जूझते आ रहे हैं। इस संक्रमण की चपेट में आने से 170 से ज्यादा लोगों की मौत भी हुई है और अब बर्ड फ्लू ने लोगों की चिंता बढ़ा दी है। जिले में लगातार पक्षियों के मृत होने की खबरें सामने आ रहीं हैं। मंगलवार को पशुधन विकास विभाग की टीम ने सूचना मिलने पर डोंगरगढ़ के एक फार्म में दबिश दी। यहां एक मुर्गी मृत पाई गई। वहीं तीन मुर्गियां बीमार थीं। इनका सैंपल लेकर भोपाल भेजा गया है। रिपोर्ट आने का इंतजार किया जा रहा है। वहीं फ्लू के बढ़ते खतरे को देखते हुए कलेक्टर टीके वर्मा ने सभी विभाग के अफसरों को अलर्ट कर दिया है। विशेषकर पशुधन विकास विभाग और वन विभाग के अफसरों को निर्देशित किया है कि जहां से भी पक्षियों के मृत होने की सूचना मिल रही हैं, उसे गंभीरता से लें और प्रोटोकाल के तहत दफनाया जाए। अज्ञात कारणों से मृत हुए पक्षियों से दूरी बनाएं रखने कहा गया है। जिले में 121 मुर्गी फार्म संचालित हो रहे हैं। प्रशासन की ओर से बाहर से आने वाली मुर्गियों पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। बॉर्डर पर टीम तैनात कर दी गई है।

लक्षण के बाद भी फार्म संचालक छिपा रहे जानकारी
पोल्ट्री फार्म के संचालकों को मुर्गियों की सेहत की डेली रिपोर्ट देनी है पर संचालकों की ओर से रिपोर्ट छिपाई जा रही है। मुर्गियों में सर्दी के लक्षण दिखने, सुस्त होने और ऊंघने के लक्षण दिखने पर तत्काल प्रशासन को सूचना देनी है पर अब तक एक भी ऐसी रिपोर्ट सामने नहीं आई है। पशुधन विकास विभाग के अफसरों का कहना है कि सूचना मिलने पर ही जांच करेंगे और कोई लक्षण दिखने पर ही सैंपल ले पाएंगे। वहीं मुर्गी फार्म संचालकों को बाहर से मुर्गियां नहीं मंगाने सख्त निर्देश दिए गए हैं।

सूचना पर नहीं पहुंची टीम
प्रशासन की ओर से ऐसी किसी सूचना पर गंभीरता दिखाने के निर्देश दिए गए हैं। बावजूद विभाग के अफसर लापरवाही बरत रहे हैं। सोमवार शाम को वन विभाग के रेंज दफ्तर परिसर में कौए मृत पाए जाने की सूचना दी गई। इसके बाद भी विभाग की टीम नहीं पहंुची। जबकि विभाग की ओर से सूचना दी गई थी। इसके अलावा दूसरे दिन मंगलवार को विभाग के अफसरों ने ऐसी कोई सूचना नहीं होने की जानकारी दी।

यह बीमारी भी पाई जाती है
मुर्गियों में रानीखेत बीमारी भी होती है। यह संक्रामक बीमारी है जो कि एक मुर्गी से दूसरी मुर्गी में पहुंच जाती है। समय पर उपचार नहीं होने पर यह रोग महामारी का रूप धर लेता है। रानीखेती की बीमारी होने पर मुर्गियां आहार लेना बंद कर देती हैं। हरा पानी, पीलापन व बदबूदार दस्त होने लगता है। पशुधन विकास विभाग के डिप्टी डायरेक्टर डॉ राजीव देवरस ने बताया कि रिपोर्ट आने के बाद ही बीमारी का पता चलेगा।

नमक और चूना डालकर करेंगे मृत पक्षी को दफन
उप संचालक पशु चिकित्सा विभाग डॉ. राजीव ने बताया कि प्रवासी पक्षी विदेशों से देश एवं प्रदेश में आते हैं। जिससे बर्ड फ्लू होने की आशंका हो सकती है। अभी तक प्रदेश में बर्ड फ्लू की रिपोर्ट निगेटिव है। कहा कि कोई भी पक्षी मृत मिले तो उसे नमक एवं चूना डालकर जमीन में दफना देना चाहिए। तब इस बीमारी के प्रकोप से सुरक्षित रख सकते हंै। कलेक्टर ने कहा कि जिले की सीमा महाराष्ट्र एवं मध्यप्रदेश से लगी हुई है। इन क्षेत्रों में बर्ड फ्लू के लिए निगरानी रखने की जरूरत है। उन्होंने सभी सीएमओ को चिकन एवं मटन मार्केट में साफ-सफाई एवं निगरानी रखने के निर्देश दिए। बाहरी आवक की पुष्टि होने पर फार्म संचालकों पर कार्रवाई होगी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कई प्रकार की गतिविधियां में व्यस्तता रहेगी। साथ ही सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने में समर्थ रहेंगे। तथा लोग आपकी योग्यता के कायल हो जाएंगे। कोई रुकी हुई पेमेंट...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser