कोरोना अलर्ट / विदेश से लौटे 100 में से 39 लोगों को क्वारेंटाइन भेजा, दूसरे राज्यों से पहुंचे 3 हजार लोगों को जांच कराने का भी आदेश दिया गया

राजनांदगांव.कोरोना के संदिग्ध व सूचना नहीं देने वाले लोगों की तलाश। राजनांदगांव.कोरोना के संदिग्ध व सूचना नहीं देने वाले लोगों की तलाश।
X
राजनांदगांव.कोरोना के संदिग्ध व सूचना नहीं देने वाले लोगों की तलाश।राजनांदगांव.कोरोना के संदिग्ध व सूचना नहीं देने वाले लोगों की तलाश।

  • क्वारेंटाइन सेंटर में रखेलोगों के ब्लड सैंपल लिए जाएंगे, सैंपल रिपोर्ट के बाद आगे की कार्रवाई होगी
  • आसपास कोई भी ऐसा व्यक्ति है, जो विदेश से या दूसरे प्रदेश से लौटा है, उनकी सूचना स्वास्थ्य विभाग की टीम को दें

दैनिक भास्कर

Mar 26, 2020, 03:39 AM IST

राजनांदगांव. कोराेना संक्रमण से बचने के लिए विदेश व दूसरे राज्यों से पहुंचे लोगों को क्वारेंटाइन व होम आइसोलेट किया जाएगा। ऐसे लोगों की सूची भी जिला प्रशासन ने तैयार कर ली है। इनमें 100 लोग ऐसे हैं, जो विदेश यात्रा से लौट हैं। उनमें से 62 अब तक संक्रमण काल में हैं। इनमें 39 लोगों को मंगलवार शाम को ही क्वारेंटाइन सेंटर में भेजा गया। वहीं 3 हजार लोग दूसरे राज्यों से ग्रामीण इलाकों में पहुंचे हैं। इन सभी को खुद सामने आकर जांच कराने का भी आदेश दिया गया है। 
क्वारेंटाइन सेंटर में रखेलोगों के ब्लड सैंपल लिए जाएंगे। सैंपल रिपोर्ट के बाद आगे की कार्रवाई होगी। अगर सैंपल निगेटिव आया तो संक्रमण काल खत्म होने के बाद इन्हें सर्टिफिकेट प्रदान किया जाएगा। इसके बाद वे अपने घरों पर आइसोलेट हो सकेंगे। इसी तरह दूसरे राज्यों से पहुंचे 3 हजार लोगों की भी जांच नगर निकाय व पंचायत स्तर पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में किया जाएगा। 

ऐसा हो तो सूचना स्वास्थ्य विभाग की टीम को दें
कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य ने अपील की है कि ऐसे व्यक्ति जो दूसरे प्रदेशों से ग्रामीण इलाकों में पहुंचे हैं, वे खुद सामने आकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में जांच कराए। लोगों से भी अपील की गई है कि अगर आसपास कोई भी ऐसा व्यक्ति है, जो विदेश से या दूसरे प्रदेश से लौटा है। उनकी सूचना स्वास्थ्य विभाग की टीम को दें। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सभी को गंभीरता बरतने की हिदायत दी गई है। हालांकि सभी की सूची तैयार कर ली गई है। 

जिले से बाहर जाना प्रतिबंधित, पहचान पत्र रखें 
कलेक्टर ने पूरे जिले को लॉकडाउन करने का आदेश जारी किया है। इस दौरान कोई भी व्यक्ति जिले के बाहर भी नहीं जा सकेगा। जरुरी सामानों की खरीदी के लिए निकलने वाले लोगों को अपने पहचान पत्र के साथ ही बाहर आने कहा गया है। जरुरी न होने पर लोग घरों पर ही रहने की हिदायत दी है। लॉकडाउन के दौरान लापरवाही बरतने वालों पर कार्रवाई की भी चेतावनी जारी की है। दोपहर 12 बजे तक केवल आवश्यक सामानों की दुकानें ही खुली रहेंगी।

सामान परिवहन वाली गाड़ियों के लिए देंगे पास
लॉकडाउन के दौरान खाद्य व आवश्यक सामानों का परिवहन करने वाले वाहनों को ही आवाजाही की अनुमति दी गई है। इसके लिए भी एसडीएम ही पास जारी करेंगे। वाहन मालिकों को एसडीएम से पास बनवाने भी कहा गया है। ये पास केवल एक महीने के लिए भी वैध होगा। अावश्यकता पड़ने पर इसका नवीनीकरण किया जा सकेगा। इसके अलावा किसी भी तरह के टैक्सी, बस या यात्री वाहनों को आवाजाही की अनुमति नहीं दी गई है।लॉकडाउन के दौरान खाद्य व आवश्यक सामानों का परिवहन करने वाले वाहनों को ही आवाजाही की अनुमति दी गई है। इसके लिए भी एसडीएम ही पास जारी करेंगे। वाहन मालिकों को एसडीएम से पास बनवाने भी कहा गया है। ये पास केवल एक महीने के लिए भी वैध होगा। अावश्यकता पड़ने पर इसका नवीनीकरण किया जा सकेगा। इसके अलावा किसी भी तरह के टैक्सी, बस या यात्री वाहनों को आवाजाही की अनुमति नहीं दी गई है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना