ओमिक्रॉन से निपटने तैयारी:ऑक्सीजन प्लांट करेंगे शुरू विदेश से आने वालों पर नजर

राजनांदगांवएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के खतरे को देखते हुए वैक्सीनेशन की रफ्तार बढ़ाई जाएगी। वहीं स्वास्थ्य केन्द्रों में जरूरी सुविधाएं बढ़ाई जाएगी। कलेक्टर ने मंगलवार को समय-सीमा की बैठक के दौरान कहा कि कोविड-19 ओमिक्रॉन वैरिएंट को ध्यान में रखते हुए सावधानी बरतने की जरूरत है। विदेश से आने वाले नागरिक अनिवार्य रूप से स्वास्थ्य विभाग को सूचना देंगे। संक्रमण से बचाव के लिए अब धान खरीदी केन्द्रों में ही वैक्सीनेशन कैंप लगाए जाएंगे।

कोविड-19 के नए वैरिएंट से निपटने के लिए स्वास्थ्य केन्द्रों में ऑक्सीजन सहित सभी व्यवस्थाएं की जा रही है। कलेक्टर ने बताया कि जिन स्वास्थ्य केन्द्रों में ऑक्सीजन प्लांट लगाया जाना है उसे जल्द ही शुरू करने कहा है। इधर कलेक्टर ने धान खरीदी की भी समीक्षा की। धान खरीदी केन्द्रों के लिए जिन अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई है वे लगातार खरीदी केन्द्रों का निरीक्षण करेंगे। पीडीएस में चावल के लिए बारदाने आए हैं उसे जल्द खाली करके वापस देंगे।

7 दिन क्वारेंटाइन, फिर टेस्ट
इस अवसर पर सीएमएचओ डॉ. मिथलेश चौधरी ने कहा कि जिले में बाहर से यात्रा करके आने वाले यात्रियों की जानकारी स्वास्थ्य विभाग को उपलब्ध कराएं। 7 दिन क्वारेंटाइन में रहने के बाद कोविड टेस्ट होगा। अपर कलेक्टर सीएल मारकण्डेय, नगर निगम आयुक्त आशुतोष चतुर्वेदी, एसडीएम राजनांदगांव अरूण कुमार वर्मा सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे। वीडियो क्रान्फेंसिंग के माध्यम से सभी एसडीएम एवं विकासखंड स्तरीय अधिकारी जुड़े रहे।

संपत्ति कुर्क कर रहे हैं
कलेक्टर सिन्हा ने बताया कि नागरिकों को शासन की विभिन्न योजनाओं का लाभ पहुंचाने के लिए दूरस्थ ग्रामों में शिविर लगाया जाएगा। कहा कि चिटफंड कंपनी की संपत्ति को जब्त कर कुर्क की कार्रवाई की जाएगी। ऐसी संपत्ति जो कुर्क हो गई है, उसकी नीलामी कर विक्रय करेंगे। जिले में स्कूल एवं हॉस्पिटल भवन निर्माण कार्य की समीक्षा करते हुए जल्द पूरा करने के निर्देश दिए गए हैं।

खबरें और भी हैं...