स्मृति शेष:ऐसे थे खैरागढ़ के देवव्रत बाबा, पैलेस में ही बनाई एकेडमी, क्रिकेट व गाने के थे शौकीन

राजनांदगांवएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
यादों के झरोखे से: पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी के साथ देवव्रत सिंह। - Dainik Bhaskar
यादों के झरोखे से: पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी के साथ देवव्रत सिंह।
  • हर्जाने में 11 करोड़ देकर पहली पत्नी को दिया था तलाक

खैरागढ़ के राजा और विधायक देवव्रत सिंह का दीपावली के दिन हार्ट अटैक से निधन हो गया। वे खैरागढ़ के लोगों के दिलों में राज करते थे। वे क्रिकेट के और गाने के शौकीन थे। उन्होंने अपने पैलेस में ही एक जमाने में क्रिकेट की एकेडमी बनाई थी।

500 सालों के इतिहास में नहीं मनाई दीवाली: खैरागढ़ राज परिवार के महल में दिवाली की खुशियां नहीं मनाई गई। राज परिवार के प्रमुख सदस्य और खैरागढ़ से विधायक देवव्रत सिंह का गुरुवार को हार्ट अटैक से निधन हो गया। अब खैरागढ़ पैलेस में गम का माहौल है। जानिए, उनकी जिंदगी से जुड़े कुछ दिलचस्प पहलू: शाही ठाठ-बाठ के साथ जीने वाले देवव्रत को खैरागढ़ के ग्रामीणों से भी काफी लगाव था। खैरागढ़ इलाके में लोग प्यार से उन्हें देवव्रत बाबा कहते रहे हैं। अपनी सियासी जिंदगी में बड़ा फैसला लेते हुए साल 2018 में हुए विधानसभा चुनाव से पहले देवव्रत ने कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा दे दिया था। उन्होंने सीधे इस्तीफा राहुल गांधी को भेजकर सभी को चौंका दिया था। उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी की बनाई जनता पार्टी जॉइन की और चुनाव भी जीता था।

2016 का छत्तीसगढ़ का सबसे महंगा तलाक
देवव्रत सिंह की पहली शादी पद्मा देवी सिंह से हुई थी। साल 2016 में देवव्रत सिंह और उनकी पत्नी के बीच आपसी विवाद बढ़ने की वजह से तलाक हो गया था। पत्नी से अलग होने के बाद देवव्रत को करीब 11 करोड़ का हर्जाना देना पड़ा। यह छग का अब तक का सबसे महंगा तलाक माना जाता है। इस तलाक में 4 करोड़ रुपए की लागत में दिल्ली में बना मकान भी उन्होंने अपनी पत्नी के नाम कर दिया था और लगभग साढे़ छह करोड़ रु. उन्होंने बैंक के जरिए पद्मा देवी सिंह को दिए थे। देवव्रत की बेटी शताक्षी उन्हीं के साथ खैरागढ़ में रह रही थीं। देवव्रत के निधन के बाद यहां मातम छाया है।

उत्तरप्रदेश के राजा भैया की बहन से की शादी
यूपी के शाही परिवार से ताल्लुक रखने वाले बाहुबली नेता रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया और देवव्रत सिंह आपस में रिश्तेदार हैं। दरअसल देवव्रत सिंह ने अपनी दूसरी शादी राजा भैया की मौसेरी बहन विभा सिंह से की थी। मौजूदा वक्त में विभा पॉलिटिक्स में एक्टिव नहीं है, वह फैमिली के बिजनेस को संभालती हैं।

खबरें और भी हैं...