पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

टीका उत्सव:लक्ष्य 15 हजार का, रोज लग रहा 20 हजार को टीका

राजनांदगांव15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • ग्रामीण इलाकों में दिख रहा उत्साह, दो दिन में 40 हजार डोज हुई खत्म, आज 50 हजार डोज फिर पहुंचेगी

वैक्सीनेशन को लेकर जिले के लोगों में गंभीरता दिखी है। बढ़ते संक्रमण के बीच रोजाना औसत 20 हजार लोगों को टीका लग रहा है। 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों का टीकाकरण शुरु होते ही विभाग ने रोजाना 15 हजार लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा था, लेकिन टारगेट से अधिक वैक्सीनेशन जारी है।

वैक्सीनेशन अफसर डॉ. बीएल कुमरे ने बताया कि बीते कुछ दिनों से रोजाना 20 हजार लोगों को कोविड का टीका लग रहा है। दो दिन पहले ही 40 हजार डोज की खेप पहुंची थी, जो दो दिन में भी खप गई। इसके बाद दोबारा डिमांड भेजा गया। डॉ. कुमरे ने बताया कि बुधवार को फिर जिले के लिए वैक्सीन की 50 हजार डोज पहुंचेगी। इससे टीकाकरण की रफ्तार बनी रहेगी। डॉ. कुमरे ने बताया कि उनकी टीम ने जिले में रोजाना 15 हजार लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा था, लेकिन लोगों का उत्साह और मौजूदा स्टॉक के चलते रोजाना औसत 20 हजार लोगों को टीका लग रहा है।

जो बढ़ते संक्रमण के दौर में बेहतर स्थिति है। डोज मौजूद रहने की स्थिति में वैक्सीनेशन की संख्या भी बढ़ सकती है। इसके लिए पूरी तैयारी स्वास्थ्य विभाग ने कर रखी है। टीका लगाने के लिए ग्रामीण इलाकों में गजब का उत्साह देखने को मिल रहा है। इन दिनों वैक्सीनेशन के लिए ब्लाक मुख्यालयों व दूसरे वैक्सीन सेंटर में ग्रामीणों की भीड़ अधिक जुट रही है। इनमें ज्यादातर बुजुर्ग ही हैं। वहीं अब 45 प्लस वाले भी टीका लगवाने पहुंच रहे हैं।

संक्रमण बढ़ने लगा तो लोग सुरक्षा को लेकर हुए गंभीर
बीते दस से बारह दिनों में कोरोना का संक्रमण लगातार बढ़ता गया है। शहर के लगभग हर हिस्से में कोरोना पॉजिटिव मरीज समाने आ रहे हैं। इसके बाद शहरी क्षेत्र में भी वैक्सीनेशन को लेकर गंभीरता दिखी है। खासकर वरिष्ठ नागरिक बड़ी संख्या में टीकाकरण के लिए सेंटर पहुंचने लगे हैं। इसी के चलते वैक्सीन की खपत भी बढ़ गई है। आने वाले दिनों में वैक्सीनेशन की रफ्तार शहर में और बढ़ सकती है। जिसे देखते हुए तैयारी शुरु कर दी गई है। केंद्रों में जरूरी सुविधाएं जुटाई जा रही है।

जागरूकता के लिए नहीं करनी पड़ी मशक्कत
शहर की तुलना में ग्रामीण इलाकों में जागरुकता के लिए अधिक मशक्कत की जरूरत नहीं पड़ी है। वैक्सीनेशन को लेकर जो आंकड़े सामने आ रहे हैं, उनमें ज्यादातर लोग ग्रामीण इलाकों से ही है। जो केवल एक से दो समझाइश में ही टीका लगाने पहुंच रहे हैं। जबकि शहरी क्षेत्र में वैक्सीनेशन के लिए जागरुक करने प्रशासन को कई अभियान चलाना पड़ा है। इसके बाद भी टीका लगवाने के मामले में ग्रामीण अंचल आगे हैं। पंचायतों में जागरूकता के लिए लगातार जनप्रतिनिधि सक्रियता बनाए हैं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने के लिए प्रयासरत रहेंगे। घर में किसी नवीन वस्तु की खरीदारी भी संभव है। किसी संबंधी की परेशानी में उसकी सहायता करना आपको खुशी प्रदान करेगा। नेगेटिव- नक...

    और पढ़ें